Fri. May 24th, 2024
    sbi

    भारतीय स्टेट बैंक ने सोमवार को जानकारी साझा की जिसमे इसने बताया की वर्ष 2018-19 की पहली तीन तिमाहियों में इसने कुल 79.51 अरब रुपयों के घाटों की पुष्टि की है। इसका मतलब इस साल पहली तीन तिमाहियों में इसके खातों में कुल 1.12 अरब अमेरिकी डॉलर की धोखाधड़ी हुई है।

    पूरी जानकारी :

    आरटीआई के तहत मीडिया को यह जानकारी मिली है की इतनी बड़ी रकम की धोखाधड़ी में कुल 1885 केस थे। हालांकि एसबीआई ने यह रकम तो बता दी लेकिन यह नहीं बताया की इस धोखाधड़ी की वजह से ग्राहकों को कितना नुक्सान उठाना पड़ा है।

    एसबीआई का बयान :

    इस मुद्दे पर एसबीआई ने बयान दिया की ये धोखाधड़ी के केस मुख्यतः बड़ी रकम वाले एकाउंट्स में हुए हैं जिनमे नॉन परफार्मिंग एसेट थे। एसबीआई ने शुक्रवार को एक एक्सचेंज फाइलिंग में कहा कि विभिन्न ऋण वसूली नियामक निकायों के माध्यम से वसूली के लिए रेसोलुशन प्रक्रिया शुरू हो गई है।

    बतादें की कुछ समय पहले ही राज्य द्वारा संचालित पंजाब नेशनल बैंक में जब 2 अरब का घाटा हुआ तो इससे सार्वजनिक बैंक सकते में आ गए हैं। इससे बैंकों की ऑडिटिंग नीतियों पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं।

    By विकास सिंह

    विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *