दा इंडियन वायर » टैकनोलजी » लावा और माइक्रोमैक्स के साथ मिलकर सस्ते 4G फोन लाएगी रिलायंस जियो
टैकनोलजी व्यापार

लावा और माइक्रोमैक्स के साथ मिलकर सस्ते 4G फोन लाएगी रिलायंस जियो

जिओ का नया फ़ोन

बजट फोन में जियोफोन और जियोफोन 2 की अच्छी लोकप्रियता के बाद अब रिलायंस जियो भारतीय स्मार्टफोन निर्माता कंपनी लावा और माइक्रोमैक्स के साथ मिलकर सस्ते 4जी फोन लाने के लिए बातचीत कर रही है।

इसके लिए जियो ने चिपसेट निर्माता UNISOC को भी अपने साथ लिया है। UNISOC वहीं कंपनी है, जो जियोफोन और जियोफोन 2 के लिए चिपसेट का निर्माण करती है। UNISOC एक चीनी चिपसेट निर्माता कंपनी है।

इसी के साथ जियो, यूएनआईएसओसी, लावा और माइक्रोमैक्स आपस में मिलकर देश में सस्ते 4G स्मार्टफोन लाने पर विचार कर रही हैं। इन सभी कंपनियों का लक्ष्य देश के कोने-कोने तक 4जी कनेक्टिविटी को पहुंचाना है।

मालूम हो कि माइक्रोमैक्स और जावा पहले से ही देश में कम बजट वाले स्मार्टफोन प्रदर्शित कर रही हैं।

वहीं दूसरी ओर UNISOC भी मीडियाटेक और क्वालकॉम जैसी बड़ी चिपसेट निर्माता कंपनियों से बाज़ार में लड़ रही है। UNISOC इन दोनों कंपनियों जीतने ताकतवर चिपसेट नहीं बनती है, लेकिन इसके चिपसेट सस्ते भी हैं।

वहीं रिलायंस जियो ने आपे जियोफोन की सफलता को लेकर तमाम दावे किए है। जियो के तहत हर महीने करीब 70 लाख जियोफोन की बिक्री हो रही है, जबकि जियो ने देश में करीब 4 करोड़ जियोफोन यूनिट बेंचने का दावा किया है।

मालूम हो कि रिलायंस ने पिछले साल जियोफोन व इस साल जियोफोन 2 लॉंच किया था।

UNISOC लावा और माइक्रोमैक्स के साथ मिलकर 6 हज़ार से 7 हज़ार रेंज को अपना निशाना बनाएगी, हालाँकि इस रेंज में भी देश में श्याओमि, रियलमी व ऑनर समेत तमाम ब्रांड हैं जो इसी रेंज के भीतर बेहतरीन 4G स्मार्टफोन उपलब्ध करवा रहे हैं। ऐसे में माइक्रोमैक्स और लावा के साथ ही UNISOC को भी कड़ी प्रतिद्वंदिता का सामना करना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें: रिलायंस जियो उपयोगकर्ता प्रति महीने खर्च कर रहे हैं इतने जीबी डेटा

यह भी पढ़ें: रिलायंस जियो के चलते बाज़ार से मिटने की कगार पर हैं 2जी फीचर फोन

About the author

प्रियाँन्शु

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!

Want to work with us? Looking to share some feedback or suggestion? Have a business opportunity to discuss?

You can reach out to us at [email protected]