Sat. Feb 4th, 2023
    माइक पोम्पिओ और व्लादिमीर पुतिन

    अमेरिका के राज्य सचिव माइक पोम्पिओ रूस की यात्रा पर दक्षिणी शहर सोचि में अपने समकक्षी सेर्गेई लावरोव से मुलाकात करेंगे। शीत युद्ध के बादसे अमेरिका और रूस के संबंधों के खटास चल रही है। बीते कुछ हफ्तों में पोम्पिओ और लावरोव ने एक-दुसरे के देश को संकटग्रस्त वेनेजुएला से बाहर निकलने के लिए कहा था।

    वेनेजुएला संकट

    राष्ट्रपति निकोलस मादुरो को रूस का समर्थन है जबकि अमेरिका विपक्षी नेता जुआन गाइडो का समर्थन करता है। रूस  ने मादुरो के खिलाफ नाकाम विद्रोह को अमेरिका का गैर जिम्मेदाराना समर्थन करार दिया था। माइक पोम्पिओ ने कहा कि “मादुरो देश छोड़ने के लिए तैयार था लेकिन रुसी समर्थकों ने उससे बातचीत कर रोक दिया था।”

    उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने बीते माह रुसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात की थी। इस मुलाकात का मकसद अमेरिकी प्रभुत्व को खत्म करना और कोरियाई पेनिनसुला में मॉस्को की भूमिका में इजाफा करना। इससे पूर्व हनोई में डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन की मुलाकात बगैर किसी समझौते के रद्द हो गयी थी।

    उत्तर कोरिया की योजना

    पियोंगयांग ने धमकी भरे लहजे में अमेरिका से परमाणु वार्ता की टीम से बेवकूफ और खतरनाक पोम्पिओ को हटाने की मांग की थी। रोबर्ट मुएलर की साल 2016 में राष्ट्रपति चुनावो में रूस की दखलंदाज़ी की रिपोर्ट जारी हुई थी। माइक पोम्पिओ ने बीते माह आगाह किया कि साल 2020 में भी रूस राष्ट्रपति के चुनावो में दखलंदाज़ी की कोशिश कर सकता है।

    खबरों के मुताबिक साल 2016 में ट्रम्प के समर्थन में मतदान की कोशिश की थी हालाँकि मॉस्को इन आरोपों को खारिज करता रहा है। अमेरिकी राजनीति में मॉस्को की दखलंदाज़ी की तीन साल की जांच में सिर्फ एक रुसी महिला मारिया बुटिना को गिरफ्तार किया गया था। रूस ने इसकी सख्ती से आलोचना की थी।

    रूस और अमेरिका के बिगड़ते रिश्ते

    अमेरिकी नागरिक पॉल व्हेलन रूस की कैद में हैं। उन पर जासूसी के आरोप लगाये गए थे और बीते वर्ष मॉस्को में गिरफ्तार किया गया था। मॉस्को ने इस विचार को खारिज किया कि पॉल की किसी अन्य कैदी से अदला-बदली की जा सकती है।

    साल 2014 में मॉस्को ने यूक्रेन से क्रीमिया द्वीप छीन लिया था और इसके बाद अमेरिका ने रुसी कारोबारियों और ब्यक्तियों पर प्रतिआबन्ध थोपे थे। पूर्वी यूक्रेन के विवाद में अलगाववादियों विद्रोहियों का समर्थन करने पर अमेरिका, कनाडा और यूरोपीय संघ ने भी रूस पर प्रतिबन्ध लगाए हैं। यूक्रेन ने बीते माह नए राष्ट्रपति का चयन हुआ है और अमेरिका इससे अलगाववादियों पर प्रगति के तौर पर देख रहा है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *