राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने किया अति वरदार का दर्शन

भारत के राष्ट्रपति

चेन्नई, 12 जुलाई (आईएएनएस)| राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को कांचीपुरम में देवराजस्वामी मंदिर में अति वरदार का ‘दर्शन’ किया। 12 फीट की अति वरदार की प्रतिमा 28 जून को सुबह में निकाली गई। यह प्रतिमा बीते 40 सालों से मंदिर के टंकी में चांदी की मंजूषा में पड़ी हुई है।

भक्तों को देवराजस्वामी मंदिर में 48 दिनों तक प्रतिमा के दर्शन की इजाजत है। यह समय एक जुलाई से 17 अगस्त तक है। देवराजस्वामी मंदिर, वरदराज पेरुमल मंदिर के नाम से लोकप्रिय है।

कोविंद यहां दो दिवसीय दौरे पर आए हैं। इससे पहले राष्ट्रपति कोविंद का स्वागत हवाईअड्डे पर राज्यपाल बनवारीलालपुरोहित, मुख्यमंत्री के.पलनीस्वामी, उप मुख्यमंत्री ओ.पन्नीरसेल्वम व अन्य ने किया।

इसके बाद कोविंद हेलीकॉप्टर से कांचीपुरम के लिए रवाना हो गए। उन्होंने अति वरदार का दर्शन किया और यहां लौट आए।

पिछली बार अति वरदार को 2 जुलाई 1979 को पानी से निकाला गया था।

आम तौर पर एक व्यक्ति अति वरदार का ‘दर्शन’ जीवन में एक या दो बार कर सकता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here