Wed. Oct 5th, 2022
    विराट कोहली

    भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने क्रिकबज्ज को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि विराट कोहली को विश्वकप में कुछ विशेष परिस्थितियों में नंबर-4 पर बल्लेबाजी करने के लिए उतरना चाहिए। भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर का मानना है कि दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को किसी भी तरह की सुरक्षा की जरूरत नहीं है, लेकिन उन्होंने शास्त्री के साथ सहमति जताई कि कोहली कुछ विशेष परिस्थितियों में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी कर सकते हैं।

    गावस्कर ने इंडिया टुडे से कहा, ” विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को बल्लेबाजी क्रम में किसी भी सुरक्षा की जरूरत नही है। लेकिन कभी-कभी आपको परिस्थितियों का आकलन करना होगा। इंग्लैंड में हवा में बहुत स्विंग हो सकती हैं और यदि विपक्ष 350 से अधिक बनाता है और भारत पहले विकेट जल्दी खो देता है, तो कोहली को संरक्षित किया जा सकता है और नंबर 4 पर भेजा जा सकता है।”

    गावस्कर ने कहा कि चूंकि इंग्लैंड में बॉल स्विंग होती है इसलिए तकनीकी रूप से भारत को थर्ड ओपनर का चयन करना चाहिए।

    गावस्कर ने कहा, ” भारतीय टीम के लिए इस समय जो सबसे अधिक महत्वपूर्ण है वह तीसरे ओपनर का चयन करना है जिसकी तकनीकी रूप से जररूरत होगी। क्योंकि इंग्लैंड में गेंद स्विंग और सीम बहुत अधिक करती है। लेकिन अगर परिस्थितियां ज्यादा कठिन नही होगी तो कोहली नंबर-3 पर बल्लेबाजी कर सकते है।”

    क्रिकबज के साथ एक साक्षात्कार में, शास्त्री ने शीर्ष तीन को अलग करने के बारे में कहा था ताकि कुछ स्थितियों में टीम का बेहतर संतुलन हो।

    उन्होने कहा, ” जो भारत की टीम की सबसे अच्छी बात है की टॉप तीन बल्लेबाज को अलग कर सकते है, अगर परिस्थितियां की मांग होगी। विराट कोहली फिर नंबर चार पर बल्लेबाजी कर सकते है, और हम उस समय नंबर 3 पर किसी अच्छे खिलाड़ी को उतार सकते है जिससे बल्लेबाजी क्रम में संतुलन नजर आए। विश्वकप जैसे टूर्नामेंट के लिए यह एक लचीलापन होगा, जहां से टीम का सर्वश्रेष्ठ संतुलन दिखेगा। हम इस बात पर निर्णय इंग्लैंड की परिस्थितियों को देखकर लेंगे।”

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.