Thu. May 23rd, 2024
    rajnikant modi

    पिछले कई दिनों से कमल हसन अपने बयानों से बीजेपी के लिए सर दर्द बन चुके है। नयी पार्टी बनाने की बात कहकर केंद्र की बीजेपी सरकार को उन्होंने परेशान कर रखा है। लेकिन कमल के इस राजनीतिक सफर पर लगाम लगाने के लिए बीजेपी अब तैयार दिख रही है। ऐसे में बीजेपी को रजनीकांत एक बड़े सहारे के रूप में नजर आ रहे है।

    पिछले कुछ समय से खबर आ रही है कि रजनीकांत बीजेपी में शामिल हो सकते है। इन्ही अटकलों के बिच सोमवार को खुद मोदी ने रजनीकांत से मुलाकात किया, इस मुलाकात के कई मतलब निकाले जा रहे है। हालांकि रजनीकांत ने बीजेपी में शामिल होने जैसे खबरों को अफवाह बताकर हमेशा मानने से इंकार किया है। कल मोदी ‘दिना थांती’ अखबार के प्लैटिनम जुबली समारोह में हिस्सा लेने के लिए चेन्नई गए थे। जहां उन्होंने रजनीकांत से विशेष मुलाकात किया।

    आपको बता दे कि दक्षिण के चर्चित अभिनेता कमल हसन बीजेपी के विपक्ष में चुनाव लड़ने का मन बना चुके है। पिछले कुछ समय से वो लगातर ”हिन्दू आतंकवाद” जैसे बयानों के कारण से मीडिया में छाये हुए है। वैसे इस तरह के बयानों की वजह से दक्षिण अभिनेता कमल हसन के खिलाफ आईपीसी के धारा 500, 511, 298, 295(ए) और 505 (सी) के तहत मामला भी दर्ज किया जा चूका है।

    उल्लेखनीय है कि अपने एक विवादित बयान में कमल हसन ने हिन्दू आतंकवाद का जिक्र करते हुए कहा था कि दक्षिणपंथी समूहों ने हिंसा का रास्ता इसलिए चुना क्यूंकि उनकी रणनीति ने काम करना बंद कर दिया था। कमल यहीं नहीं रुके बल्कि उन्होंने तो यहां तक कह दिया कि ‘पूर्व में हिंदू दक्षिण पंथी, दूसरे धर्म के लोगों के खिलाफ हिंसा में शामिल हुये बगैर, उनको अपनी दलीलों और जवाबी दलीलों से हिंसा के लिये मजबूर करते थे।

    पिछले दिनों कमल ने अपनी सवयं की राजनीतिक पार्टी बनाने की बात कहकर पुरे दक्षिण भारत के राजनीति में उथल पुथल मचा दिया था। ऐसे में एक अभिनेता को रास्ते से हटाने के लिए बीजेपी दूसरे बड़े अभिनेता को सहारे के रूप में देख रही है। रजनीकांत के लोकप्रियता के बदौलत दक्षिण भारत में बीजेपी अपना दबदबा बनाना चाहती है।