Fri. May 24th, 2024
    भारतीय रेलवे

    रेलवे अब यात्री कोच की सुविधाओं को और भी बेहतर बनाने पर काम कर रही है। इसके तहत रेलवे अपने करीब 2 हज़ार पुराने कोच का नवीनीकरण करेगी।

    इसके तहत रेलवे अपने पुराने कोचों में ट्रे टेबल व सभी सीट पर चार्जिंग पॉइंट जैसी मूलभूत और सामान्य सुविधाओं जो उपलब्ध कराएगी। रेलवे इन सभी कोच में नए पंखे, नए सीट कवर व नए पानी नलके भी उपलब्ध कराएगी।

    एचटी ने एक रिपोर्ट प्रकाशित करते हुए बताया है कि इस काम के लिए रेलवे कुल 600 करोड़ रुपये का बजट अलग किया हुआ है। इसके तहत रेलवे अगले कुछ सालों में कुल 59 हज़ार कोचों में से 40 हज़ार कोचों का नवीनीकरण करेगी।

    रेलवे बोर्ड के सदस्य राजेश अग्रवाल ने मीडिया को बताया है कि रेलवे ने कोचों के अंदर व बाहर की बनावट को भी बदल कर अपने स्तर को ऊपर उठाने के लिए विचार कर रही है।

    यह भी पढ़ें: विश्वस्तरीय सुविधाओं से लैस होगा सूरत रेलवे स्टेशन

    आगे जानकारी देते हुए अग्रवाल ने बताया है कि शताब्दी जैसी प्रीमियम ट्रेनों का नवीनीकरण यात्रियों की मांग के अनुरूप किया जाएगा।

    रेलवे ने बताया है कि बड़ी संख्या में कोचों का नवीनीकरण योजनाबद्ध तरीके से होगा, जिससे किसी भी तरह रेलवे के संचालन में व्यवधान न पैदा हो।

    यह भी पढ़ें: सभी डीज़ल इंजन को इलैक्ट्रिक इंजन में बदलेगा भारतीय रेलवे

    इस योजना पर अमल करते हुए रेलवे करीब 640 उत्कृष्ट रेल का निर्माण करने का मन बना रही है। इसकी कुल लागत 400 करोड़ रुपये के करीब है। इसी के साथ वर्तमान में स्थापित 140 रेक का भी नवीनीकरण किए जाने की संभावना है।

    इसके पहले रेलवे ने प्रोजेक्ट स्वर्ण लॉंच किया था, जिसके अंतर्गत रेलवे ने 14 राजधानी और 15 शताब्दी ट्रेनों का नवीनीकरण कर रही है।

    यह भी पढ़ें: आगरा-वाराणसी के बीच हाई-स्पीड रेल कॉरिडोर बनाएगी भारतीय रेलवे

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *