Sat. Apr 20th, 2024
    मायावती: भाजपा के अयोध्या कदम से उनका संकीर्ण राष्ट्रवाद झलकता है, लोक सभा प्रभावित करने के लिए उठाया कदम

    केंद्र सरकार के सुप्रीम कोर्ट से अधिग्रहित गैर-विवादित जमीन से यथास्थिति हटाते हुए उसके मालिकों को लौटाने की इजाजत मांगने के एक दिन बाद, बसपा प्रमुख मायावती ने बुधवार को कहा कि ये कदम निहायत सरकारी हस्तक्षेप है और इसका उद्देश्य आगामी लोक सभा चुनाव को प्रभावित करना है।

    “भाजपा को अब लग रहा है कि उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा गठबंधन बनने के बाद, वे केंद्र में वापस सत्ता में नहीं आ पाएगी और गुस्से में आकर, दोनों भाजपा की अगुवाई वाली केंद्र सरकार और राज्य सरकार ऐसा कदम उठा रही हैं जो संविधान के हिसाब से किसी भी चुनी हुई सरकार से उम्मीद नहीं किया जाता है।

    अपने बयान में, मायावती ने ये भी कहा कि भाजपा का संकीर्ण राष्ट्रवाद उनके बाकी फैसलों में भी झलकता है जैसे नागरिकता विधेयक जिसने लोगों को आग-बबूला कर दिया है।

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *