Mon. May 29th, 2023
    माइक्रोसॉफ्ट

    माइक्रोसॉफ्ट ने पिछली तिमाही को लेकर अपनी कमाई के आंकड़ें पेश किए हैं, जिसमें यह साफ दर्शाया गया है कि माइक्रोसॉफ़्ट ने अपनी कमाई में 36% की वृद्धि की है।

    माइक्रोसॉफ़्ट की कमाई में उम्मीद से अधिक की बढ़ोतरी का कारण उनका नया क्लाउड कम्प्यूटिंग व्यवसाय है। माइक्रोसॉफ़्ट ने अपने क्लाउड कम्प्यूटिंग व्यवसाय में 76 प्रतिशत की प्रगति की है।

    कंपनी के सीईओ सत्या नडेला अब कंपनी को एक ‘सुविधाओं के विक्रेता’ के रूप में खड़ा करना चाहते हैं। सत्या नडेला माइक्रोसॉफ़्ट को क्लाउड कम्प्यूटिंग व्यवसाय में काफी ऊपर तक ले कर जाना चाहते हैं। इसके लिए नडेला सर्वर संबन्धित सुविधाएं बाज़ार में पेश करने का मन बना रहे हैं।

    हालाँकि अभी भी माइक्रोसॉफ़्ट के लिए उसकी कमाई का मुख्य जरिया विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम की बिक्री ही है, इसी के तहत माइक्रोसॉफ़्ट अपने कमाई का बड़ा हिस्सा निकाल पाती है। वहीं दूसरी माइक्रोसॉफ़्ट द्वारा निर्मित कम्प्युटरों की बिक्री में किसी भी तरह की कोई तेज़ी देखने को नहीं मिली है।

    माइक्रोसॉफ़्ट को पिछली तिमाही में 8.82 अरब डॉलर का मुनाफा हुआ है। ये मुनाफा लगभग 1.14 डॉलर प्रति शेयर की दर से है। जबकि माइक्रोसॉफ़्ट की कुल बिक्री इस दौरान 29.1 अरब डॉलर की हुई है, जिसके लिए माइक्रोसॉफ़्ट ने 27.9 अरब डॉलर का अनुमान लगाया था।

    इसी के साथ माइक्रोसॉफ्ट के शेयरों में भी 4.5 प्रतिशत का उछाल देखने को मिला है।

    माइक्रोसॉफ़्ट की क्लाउड सेल 47 प्रतिशत बढ़कर 8.5 प्रतिशत तक पहुँच चुकी है। इसी के साथ माइक्रोसॉफ़्ट के अन्य उत्पाद जैसे माइक्रोसॉफ़्ट सर्वर, एसक्यूएल डाटाबेस व अजूर आदि की बिक्री में भी इजाफा हुआ है।

    वहीं माइक्रोसॉफ्ट अब कोड शेयरिंग वेबसाइट गिटहब को 7.5 अरब डॉलर में खरीदने जा रही है। इसके चलते माइक्रोसॉफ़्ट अपनी क्लाउड सर्विस और AI (आर्टिफ़िश्यल इंटेलिजेंस) पर काम करेगी। मालूम हो कि माइक्रोसॉफ़्ट काफी समय से क्लाउड कम्प्यूटिंग कर काम कर रहा है।

    इसी के साथ माइक्रोसॉफ़्ट के एक्सबॉक्स गेमिंग बिजनेस में भी 44 प्रतिशत की बढ़त देखने को मिली है। माइक्रोसॉफ़्ट की इस यूनिट ने पिछली कुछ तिमाहियों से काफी अच्छा व्यवसाय किया है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *