Tue. Feb 27th, 2024
    प्रियंका गाँधी वाड्रा का राजनीती में प्रवेश, पूर्वी उत्तर प्रदेश के चुनावी प्रभारी के रूप में नियुक्त

    पिछले महीने ही सक्रिय राजनीति में दाख़िल हुईं प्रियंका गाँधी अपनी विदेश यात्रा से अब भारत लौट आयीं है।

    नई दिल्ली लौटने के बाद से ही प्रियंका गाँधी एक्शन में दिखीं। प्रियंका गाँधी ने सबसे पहले अपने भाई और कॉंग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के तुग़लक रोड स्थित घर पहुँच कर एक बैठक में हिस्सा लिया।

    उत्तर प्रदेश में चुनावी रणनीति तय करने के लिहाज से की गयी इस बैठक में पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमान संभालने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया, राज बब्बर और केसी वेणुगोपाल भी शामिल हुए हैं।

    खबरों के अनुसार प्रियंका गाँधी ने बैठक के दौरान कॉंग्रेस के कई बड़े नेताओं के साथ फोन पर भी बातचीत की है। आगामी लोकसभा चुनावों को देखते हुए कॉंग्रेस अब एक्शन मोड पर आ गयी है।

    इसी के साथ ही प्रियंका गाँधी अभी गुरुवार को होने वाली एक बैठक का हिस्सा होंगी, वहीं राहुल गाँधी शनिवार को पार्टी के बड़े नेताओं के साथ बैठक कर चुनावी रणनीति पर चर्चा करेंगे।

    मालूम हो कि कॉंग्रेस ने पिछले महीने ही प्रियंका गाँधी को सक्रिय तौर पर पार्टी में शामिल किया है। प्रियंका गाँधी को राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया है। राहुल गाँधी ने प्रियंका गाँधी को फिलहाल पश्चिमी उत्तर प्रदेश की ज़िम्मेदारी दी है।

    कुछ दिनों से खबरें मीडिया में तैर रहीं है कि प्रियंका रायबरेली से चुनाव लड़ सकतीं है। हालाँकि अभी इस खबर की पुष्टि कहीं से भी नहीं की जा सकी है।

    गौरतलब है कि प्रियंका गाँधी ने खुद भी इस बात का जिक्र किया था कि वे आगामी लोकसभा चुनावों में अमेठी और रायबरेली में प्रचार करेंगी।

    सामने है कि कॉंग्रेस के कार्यकर्ता काफी समय से इस बात की मांग करते रहे हैं कि प्रियंका गाँधी को खुले तौर पर सामने लाया जाये, ऐसे में जब प्रियंका गाँधी अब सक्रिय राजनीति में उतार आयीं हैं, तब पार्टी कार्यकर्ताओं का भी हौसला बढ़ना लाज़मी है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *