भारत के द्वीप समूह के नाम: लक्षद्वीप, अंडमान और निकोबार

indian islands in hindi भारत के द्वीप समूह के नाम

विषय-सूचि

भारत के द्वीप समूह के नाम (indian islands in hindi)

लक्षद्वीप एवं अंडमान और निकोबार द्वीप भारत के प्रमुख द्वीपों में से एक हैं। इनके अलावा गंगा के डेल्टा और भारत और श्री लंका के सीमा पर भी भारत के कई छोटे छोटे द्वीप हैं जैसे कि एडम पुल जो ज्यादातर समय जलमग्न रहता है।

लक्षद्वीप (lakshadweep islands in hindi)

lakshadweep islands in hindi

यह अरब सागर में स्थित कोरल द्वीप हैं एवं Reunion Hotspot ज्वालामुखी के भाग हैं। इसके तीन भाग हैं:-

  • Amindivi द्वीप:- इसके तहत अमिनी, केल्टन, चेतलत, कदमत, बित्रा एवं पेरुमल पार द्वीप आते हैं।
  • Laccadive द्वीप:- इसके तहत Androth, कालपेनी, कवरत्ती, पित्ती और सुहेली पार द्वीप आते हैं।
  • Minicoy द्वीप

इन सभी द्वीपों के समूह को लक्षद्वीप कहा जाता है। इस समूह में कुल मिलाकर 25 छोटे बड़े द्वीप हैं। केरल के तट के निकट दक्षिण पश्चिम इलाके में यह द्वीप लगभग 500 किमी क्षेत्र में फैले हुए हैं। द्वीप के सबसे उत्तर में Amendivi द्वीप है और दक्षिण में Minicoy द्वीप हैं। यह सभी द्वीप कोरल मूल के हैं और प्रबाल (reef) से घिरे हुए हैं।

इन द्वीपों में सबसे बड़ा और उन्नत द्वीप Minicoy द्वीप है। इसका क्षेत्रफल 4.53 स्क्वायर किमी है। ज्यादातर द्वीप कम ऊंचाई वाले हैं और समुद्र ताल से 5 मीटर से ज्यादा नहीं उठते और इनके जलमग्न होने का खतरा बना रहता है। इन द्वीपों का तलरूप पूरा चपटा है। यहां पहाड़, खाई, झरने आदि नहीं मिलते। कावारत्ती लक्षद्वीप की राजधानी है।

अंडमान और निकोबार (andaman and nicobar islands in hindi)

andaman and nicobar islands in hindi

यह द्वीप बंगाल की खाड़ी में स्थित हैं। इनका निर्माण Indian plate और Burmese Plate के टकराने से हुआ था। यह द्वीप Arakan Yoma पर्वत श्रृंखला जो म्यांमार में स्थित है, उसका दक्षिणी विस्तार है। इस द्वीप समूह में 265 छोटे बड़े द्वीप हैं जिनमे 203 अंडमान द्वीप हैं और 62 निकोबार द्वीप हैं। यह 590 किमी क्षेत्र में फैला हुआ है। यह 6॰ 45′ उत्तर से 13॰ 45′ उत्तर अक्षांश और 92॰ 10′ पूर्व से 94॰ 15′ पूर्व अक्षांश के बीच स्थित है। यह तीन प्रमुख भागों में विभाजित है – उत्तर, मध्य और दक्षिण। डंकन मार्ग Little अंडमान को दक्षिण अंडमान से अलग करता है। Ten Degree Channel अंडमान द्वीप समूह को दक्षिण में निकोबार समूह से अलग करता है। अंडमान निकोबार द्वीप की राजधानी पोर्ट ब्लेयर दक्षिणी अंडमान द्वीप पर स्थित है।

निकोबार द्वीप समूह में ग्रेट निकोबार द्वीप का आकार सबसे बड़ा है। यह द्वीप भारत के दक्षिणी छोर पर स्थित है और सुमात्रा द्वीप के काफी पास है। कार निकोबार द्वीप एक अन्य द्वीप है। इनमें से ज्यादातर द्वीप लाइमस्टोन, शैल और सैंडस्टोन पत्थरों से बने हैं। जोकि ज्वालामुखी में पाए जाने वाले बेसिक और अल्ट्राबेसिक पत्थरों के समान हैं।

पोर्ट ब्लेयर के उत्तर में Barren और Narcondam द्वीप स्थित हैं जहाँ सक्रिय ज्वालामुखी पायी जाती हैं, भारत में सिर्फ इसी जगह पर सक्रिय ज्वालामुखी मिलती है। कुछ द्वीप कोरल प्रबाल से घिरे हुए हैं एवं कुछ द्वीपों पर घने जंगल हैं। इस द्वीप समूह के ज्यादातर द्वीपों पर पहाड़ मिलते हैं। उत्तरी अंडमान का Saddle चोटी इन द्वीप की सबसे ऊँची चोटी है।

New Moore द्वीप

New Moore द्वीप

भारत बांग्लादेश सीमा पर New Moore नामक छोटा सा द्वीप है जहां लोगों का वास नहीं है। यह द्वीप 1970 के एक चक्रवात तूफान के बाद अचानक से उभर कर सामने आ गया था। यह कभी दिखता है तो कभी नहीं दिखता है। यहां गैस और खनिज होने की सम्भावना जताई गयी है, जिसके कारण भारत और बांग्लादेश दोनों इस द्वीप पर अपना प्रभुत्व जताते हैं।

आप अपने सवाल और सुझाव नीचे कमेंट बॉक्स में व्यक्त कर सकते हैं।

भूगोल से सम्बंधित अन्य लेख:

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here