Thu. Jun 13th, 2024
    भारत और ऑस्ट्रेलिया

    ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमन्त्री स्कॉट मोरिसन अगले वर्ष जनवरी में भारत की यात्रा करेंगे। उन्हें भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी ने आमंत्रित किया है और वह साल 2020 में नई दिल्ली में आयोजित रायसीना वार्ता में शुरूआती संबोधन करेंगे। मोरिसन ने गुरूवार को सिडनी टाउन हॉल को संबोधित करते हुए मोरिसन ने कहा कि “मैं अपने मित्र नरेंद्र मोदी का भारत यात्रा का आमंत्रण स्वीकार करने में सम्मानित महसूस कर रहा हूँ। इसमें रायसीना वार्ता का उद्घाटन समारोह भी शामिल है।”

    भारत के वार्षिक महत्वकांक्षी मंच का आयोजन भू राजनितिक और भू आर्थिक पर होगा और यह अगले वर्ष जनवरी में 14 से 16 तक होगा। इस सम्मेलन का आयोजन आब्जर्वर रिसर्चर फाउंडेशन भारत के विदेश मंत्रालय के सहयोग से करेगा। ओआरऍफ़ के अध्यक्ष समीर सरन ने निमंत्रण को स्वीकार करने के लिए मोरिसन का शुक्रिया अदा किया है।

    मोरिसन ने कहा कि “भारत ऑस्ट्रेलिया का एक प्राकृतिक साझेदार है। भारत-ऑस्ट्रेलिया काउंसिल बोर्ड के अध्यक्ष अशोक जैकब आगामी यात्रा में कारोबारी प्रतिनिधि समूह का नेतृत्व करेंगे। यह भारतीय आर्थिक रणनीति के तहत सरकार और कारोबारियों को करीब लाएगी जो हमारे भारतीय साझेदारो के ध्यान को आकर्षित करेगा।”

    इंडो पैसिफिक के मामले को उठाने के बाबत मोरिसन ने कहा कि “भारत की इस क्षेत्र में महान सफल गाथा है। यह जमींन टिकाऊ संस्थानों और साझा मूल्यों की है।”

    उन्होंने उम्मीद व्यक्त की है कि रीजनल कॉम्प्रेहेंसिव इकनोमिक पार्टनरशिप समझौते पर अगले महीने दस्तखत किये जायेंगे जिसके तहत 16 देशो के साथ मुक्त व्यापार समझौता होगा। 16 देशो की आबादी 3.5 अरब है और संयुक्त जीडीपी 25.7 अरब है। इस संधि की महत्वता यह है कि यह भारत को इंडो पैसिफिक अर्थव्यवस्था में ज्यादा जोड़ देगी।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *