Tue. Jun 18th, 2024
    sbi

    ऑनलाइन माध्यमों का बैंकिंग, लेनदेन, नेटबैंकिंग, आदि कार्यों को करने में जैसे जैसे प्रयोग बढ़ रहा है वैसे वैसे ही इंटरनेट पर धोखाधड़ी की घटनाओं में भी लगातार बढ़ोतरी देखी जा रही है। ऐसे संख्या बढ़ रही है जोकि स्पैमिंग एवं क्लोनिंग के माध्यम से ऑनलाइन बैंकिंग करने वाले यूज़र्स की निजी जानकारी चुरा रहे हैं।

    ऐसे में बैंक अपने ग्राहकों को सुरक्षित रखने के लिए उन्हें लगातार सतर्क करते रहते हैं ताकी उनके साथ ऐसी कोई घटना न हो। ग्राहकों को सतर्क करने के लिए बैंक समय समय पर विभिन्न विज्ञापनों के जरिये या दुसरे माध्यमों से ग्राहकों को बताते रहते हैं की वे कभी ग्राहकों से उनकी निजी जानकारी लेने की कोशिश नहीं करेंगे। इसलिए वे अपनी बैंक खाते के  बारे में जानकारी किसीको भी देने से बचें।

    एसबीआई की पहल :

    इन्हीं के चलते हाल ही में एसबीआई ने अपने ग्राहकों की संवेदनशील जानकारी के सम्बन्ध में दिशानिर्देश जारी किये हैं। ऐसा समय समय पर विभिन्न बैंक करते हैं जिससे उनके ग्राहकों को ऐसी किसी धोखाधड़ी से बचाया जा सके एवं सुरक्षित  रखा जा सके।

    ट्विटर के ज़रिये जारी किये दिशा निर्देश:

    इस महीने की शुरुआत में एसबीआई ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्विटर के ज़रिये ये दिशानिर्देश जारी किये थे। इसमें बताया गया था की एसबीआई ग्राहक की संवेदनशील जानकारी जैसे USER ID, PIN, PASSWORD, CVV, OTP, UPI पिन आदि लेने की कोशिश नहीं करेगा।

    जैसा की ट्वीट में लिखा हुआ देखा जा सकता है ग्राहकों को किसी को भी अपनी संवेदनशील जानकारी देने के खिलाफ चेताया जा रहा है। इसके अंतर्गत बैंक ने बताया है की बैंक या बैंक का कोई भी प्रतिनिधि ग्राहक से उनकी संवेदनशील जानकारी नहीं मांगेगा। अतः ग्राहक के पास ऐसा कोई कॉल या मैसेज आता है तो यह जानकारी किसीको ना दें एवं बैंक को तुरंत ऐसी कॉल के बारे में  जानकारी दें ताकि ऐसी घटनाओं को रोका जा सके।

    By विकास सिंह

    विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *