भारतीय पनडुब्बी ने हमारे जल में प्रवेश करने की कोशिश: पाकिस्तान

पाकिस्तान ने मंगलवार को दावा किया कि भारतीय पनडुब्बी ने उनके जलीय इलाके में प्रवेश करने की कोशिश की थी। पाकिस्तान के नौसेना के प्रवक्ता के हवाले से स्थानिय मीडिया ने दावा किया कि पाक नौसेना ने अपने विशेष कौशल का इस्तेमाल करते हुए भारतीय पनडुब्बी को अपने जलीय इलाको में घुसने से सफलतापूर्वक रोक दिया था।

मीडिया के अनुसार पाकिस्तान सरकार ने शांति के पहल को दिमाग में रखा था, इस कारण पाकिस्तानी नौसेना ने भारतीय पनडुब्बी को निशाना नहीं बनाया गया। भारत ने अभी इस पर कोई अधिकारिक बयान जारी नहीं किया था। पाक ने मीडिया के जरिये कई दफा भारत पर आरोप लगाया हैं।

साल 1971 की जंग में दोनो मुल्कों की नौसेना आखिरी दफा भिड़ी थी। 27 फरवरी को भारत और पाक के बीच हवाई भिड़ंत हुई थी। आतंकवाद के खिलाफ भारत की जवाबी प्रतिक्रिया पर पाकिस्तान ने बुधवार को सुबह कुछ सैन्य स्थानों को निशाना बनाने का प्रयास किया था लेकिन भारतीय वायुसेना ने इसे नाकाम कर दिया था। पाकिस्तान द्वारा अपनी सरजमीं पर आतंकी ठिकानों के न होने के दावे पर विदेश मंत्रालय ने खेद व्यक्त किया है।

बाद में पाकिस्तानी विमानों ने भारतीय हवाई क्षेत्र का उल्लंघन किया और राजौरी सेक्टर में कुछ बम गिराए, जिसके बाद उनके एक लड़ाके को गोली मार दी गई। भारत ने कहा कि बुधवार सुबह जम्मू-कश्मीर में एफ -16 लड़ाकू विमान को मार गिराया।

कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 से अधिक जवान शहीद हो गए थे। जिसकी जिम्मेदारी पाकिस्तान की सरजमीं पर आसरा लिए जैश ए मोहम्मद ने ली थी। इस हमले एक आत्मघाती हमलावर द्वारा किया गया था, जिसने विस्फोटक से भरी कार को सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी थी। काफिले में 70 से अधिक वाहन और 2,500 से अधिक कर्मी थे। हमला तीन साल में सबसे बड़ा हमला है।

यह पोस्ट आखिरी बार संसोधित किया गया मार्च 5, 2019 22:57

कविता: कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।