Thu. Apr 18th, 2024
    ब्राज़ील में भारतीय राजदूत

    दक्षिणी अमेरिकी देश में भारतीय दूतावास अशोक दास ने कहा कि “ब्राज़ील में आयुर्वेद के विस्तार का अद्भुत स्कोप हैं।” आयुर्वेद के विस्तार के लिए एक मेमोरेंडम ऑफ़ अंडरस्टैंडिंग का विस्तार करने लिए ब्राज़ील में आखिरी स्वरुप देने के लिए अभी प्रक्रिया जारी है। यह भारतीय मेडिसिन की पारंपरिक प्रणाली है।”

    भारतीय राजदूत ने कहा कि “ब्राज़ील में भारत की आत्मयिता और संस्कृति के सन्दर्भ में काफी मौके हैं, खासकर योग और आयुर्वेद में हैं। हम आयुर्वेदिक संघठन के बीच ज्ञापन पत्र को अंतिम स्वरुप देने के लिए प्रक्रिया में हैं। साओ पोलो में यूनिवर्सिटी मेडिकल स्कूल और आयुष मंत्रालय आयुर्वेद शब्द का प्रसार कर रहे हैं। देश में इसके प्रसार के लिए अद्भुत स्कोप हैं।”

    सड़क परिवहन और राज्यमार्ग के राज्य मंत्रालय के सेवानिवृत्त जनरल वीके सिंह मौजूदा वक्त में ब्रिक्स के मन्त्रिय सम्मेलन के लिए रिओ डे जेनरो में हैं। उन्होंने ब्राज़ील के विदेश मंत्री एर्नेस्तो अरजोऊ द्वार आयोजित रात्रि भोज में शामिल हुए थे।

    दास ने कहा कि “ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण कोरिया समूह शामिल है। शेरपा और मन्त्रिय मुलाकातों में साबित किया है कि हम सही पटरी पर है।” प्रधनामंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 नवम्बर को ब्रसलिया में आयोजित दो दिवसीय ब्रिक्स सम्मेलन में शिरकत की थी।

    उन्होंने कहा कि “भारत और ब्राज़ील में हाल ही चुनाव संपन्न हुए हैं। अब दोनों देशों में सरकार का गठन हो चुका है, उच्च स्तर की मुलाकातों का सिलसिला जारी है। हमारे प्रधानमन्त्री ने राष्ट्रपति बोल्सोनारो के द्विपक्षीय यात्रा के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया था।”

     

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *