गुरूवार, अक्टूबर 17, 2019

बुलंदशहर हिंसा: शहीद इंस्पेक्टर के परिवार से मिले मुख्यमंत्री योगी, 50 लाख रुपए और परिवार के एक सदस्य को नौकरी का ऐलान

Must Read

देवोलीना भट्टाचार्जी का जीवन परिचय

हिंदी सीरियल में आज्ञाकारी बहु के किरदार को दर्शाने वाली 'गोपी बहु' यानि 'देवोलीना भट्टाचार्जी' जिनके अभिनय को स्टार...

दिल्ली : फिर गिरा शेर के पिंजरे में युवक, उसके बाद क्या हुआ तमाशा?

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली स्थित चिड़िया घर में एक युवक गुरुवार को शेर के पिंजरे में जा...

स्कंदगुप्त को इतिहास के पन्नों पर स्थापित करने की जरूरत : अमित शाह (लीड-1)

वाराणसी, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि सम्राट स्कंदगुप्त के पराक्रम और उनके...
आदर्श कुमार
आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुलंदशहर में मारे गए इन्स्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिवार से मुख्यमंत्री आवास पर मिले। मुख्यमंत्री ने उन्हें इन्साफ का भरोसा दिलाया और परिवार को हरसंभव मदद देने का भी आश्वासन दिया और कहा कि परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जायेगी।

मुख्यमंत्री राहत कोष की तरफ से इन्स्पेक्टर सुबोध किमार के परिवार को 50 लाख रुपये की सहायता और उनके नाम पर एक सड़क का नामकरण करने का ऐलान किया। मंत्री अतुल गर्ग ने बताया कि सरकार उनके नाम पर एक कॉलेज का नाम रखने पर भी विचार कर रही है।

इंस्पेक्टर सुबोध सिंह के बेटे श्रेय प्रताप सिंह ने बताया कि “हम मुख्यमंत्री से मिले और उन्होंने हमें इन्साफ का भरोसा दिलाया है।”

पुलिस ने इस मामले में 28 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है। विश्व हिन्दू परिषद् के युवा विंग के संयोजक योगेश राज का नाम मुख्य आरोपी के रूप में दर्ज किया है और उसकी तलाश की जा रही है।

सुबोध सिंह की पत्नी रजनी ने धमकी दी है कि अगर उनके पति की हत्या के दोषियों को सजा नहीं मिली तो वो आत्महत्या कर लेंगी। रजनी ने ये भी आरोप लगाया है कि उनके पति की हत्या के पीछे गहरी साजिश है , उन्होंने कहा कि “उनके साथी पुलिसकर्मी और उनकी गाडी के ड्राइवर कहाँ थे?” रजनी ने ये भी बताया कि उनके पति को पिछले कुछ दिनों से धमकियाँ मिल रही थी।

इन्स्पेक्टर सिंह की बहन मनीषा चौहान ने इस घटना की सीबीआई जांच कराने की मांग की है। गैरतलब है कि उत्तर प्रदेश के दादरी में 2015 में गौहत्या को लेकर पीट पीट के हुई अख़लाक़ के हत्या की जांच भी सुबोध कुमार कर रहे थे।

उत्तर प्रदेश के मंत्री अतुल गर्ग मृतक इन्स्पेक्टर सुबोध कुमार के परिवार से मिले और आश्रितों के अकॉउंट में 40 लाख रुपये की आर्थिक सहायता की पुष्टिकरण के दस्तावेज सौंपे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

देवोलीना भट्टाचार्जी का जीवन परिचय

हिंदी सीरियल में आज्ञाकारी बहु के किरदार को दर्शाने वाली 'गोपी बहु' यानि 'देवोलीना भट्टाचार्जी' जिनके अभिनय को स्टार...

दिल्ली : फिर गिरा शेर के पिंजरे में युवक, उसके बाद क्या हुआ तमाशा?

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली स्थित चिड़िया घर में एक युवक गुरुवार को शेर के पिंजरे में जा गिरा। शेर के सामने युवक...

स्कंदगुप्त को इतिहास के पन्नों पर स्थापित करने की जरूरत : अमित शाह (लीड-1)

वाराणसी, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि सम्राट स्कंदगुप्त के पराक्रम और उनके शासन चलाने की कला पर...

मुझे अपने सिवाय कुछ और साबित करने की जरूरत नहीं : जेजे

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। स्ट्राइकर जेजे लालपेखलुवा भारतीय फुटबाल में एक बड़ा नाम हैं। वह हालांकि अभी सर्जरी के बाद रीहैब पर हैं...

मोजरबियर बैंक घोटाला मामले में ईडी ने आरोप पत्र दाखिल किया

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को मोजरबियर बैंक घोटाला मामले में आरोप पत्र दाखिल किया।--आईएएनएस
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -