Thu. Oct 6th, 2022
    फ्रांस के इंटीरियर मंत्री - गेराल्ड दरमानीं

    फ्रांस की सरकार ने देश के उत्तरी इलाके में स्तिथ एक मस्जिद को ताला मार दिया है | उनकी सरकार ने इसका कारण यह बताया कि उस मस्जिद के इमाम की तकरीरें कट्टरपंथी थी | यह कहना है कि इमाम नफ़रत और हिंसा फैलते थे और जिहाद का बचाव करते थे |यह  पेरिस के उत्तर में तक़रीबन १०० किलोमीटर, बेऔवैस नाम के एक शहर में यह मस्जिद स्तिथ था |

    यह कदम तब उठाया गया है जब उनके मंत्री गेराल्ड दरमानीं ने दो हफ्ते पहले कहा था कि उन्होंने उस मस्जिद को बंद करवाने की प्रक्रिया चालू करदी है | उन्होंने यह भी कहा कि उस मस्जिद के इमाम अपने भाषण में ईसाई, यहूदी और समलैंगिको को निशाना बनाते थे |

    स्थानीय अधिकारियों को कुछ करने से पहले 10 दिन की जांच पड़ताल  करी थी। फिर मंगलवार को इस मस्जिद को बंद करने का फैसला किया गया। स्थानीय अखबार कूरियर पिकार्ड का कहना है कि उस इमाम ने  हाल ही में इस्लाम धर्म को अपनाया था। मस्जिद की  देख-भाल करने वाले संघ का कहना है कि उन्होंने इस फैसले के खिलाफ कोर्ट में आवाज़ उठाई है।

    इससे पहले फ्रांस की सरकार ने कहा था कि वह हर एक सन्दिग्ध धार्मिक स्थल और संगठन की जांच करेगी, जो कट्टरपंथी इस्लामिक विचार का प्रचार कर रही है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.