प्रधानमंत्री किसान स्कीम से अबतक हुए 2.18 करोड़ किसान लाभान्वित

Must Read

भारत में कोरोनावायरस के मामले 1.5 लाख के करीब, पढ़ें पूरी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज कहा है कि 6,535 नए संक्रमणों के बाद भारत में कोरोनोवायरस बीमारी (COVID-19) के...

कबीर सिंह के लिए पुरुष्कार ना मिलने पर शाहिद कपूर ने दिया यह जवाब

कल मंगलवार शाम को शाहिद कपूर (Shahid Kapoor) ने ट्विटर पर अपने प्रशंसकों से बात करने की योजना बनायी...

सिक्किम के बाद लद्दाख में भारत और चीन की सेना में टकराव

सिक्किम में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प की खबरों के बाद उत्तरी सीमा पर दोनों देशों के...
विकास सिंह
विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

प्रधानमंत्री किसान योजना स्कीम पर हाल ही में एक आधिकारिक स्टेटमेंट जारी की गयी है जिसके इस स्कीम के शुरू होने से अब तक के समय में कुल 2.18 करोड़ किसान लाभान्वित हो चुके हैं। इस स्कीम में कुल 4366 रूपए खर्च किये जा चुके हैं।

पूरी रिपोर्ट :

गुरूवार को जारी की गयी रिपोर्ट के अनुसार गुजरात, आंध्र प्रदेश और उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में इस स्कीम को लागू किया जा चूका है। यूपी में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 फरवरी को योजना शुरू की थी वहां अब तक 2,000 से 74.7 लाख किसानों को पहली किस्त का भुगतान किया है, एपी ने 32.2 लाख किसानों को वितरित किया है और गुजरात ने अब तक 25.6 लाख किसानों को लाभ पहुंचाया है।

ऊपर दी गयी रिपोर्ट में आप इस स्कीम के परिणाम देख सकते हैं यहाँ दिखाया गया है की राज्यों में कितने किसान लाभान्वित हुए है और कुल कितना वित्त खर्च किया गया है।

प्रधानमंत्री स्कीम की जानकारी :

यूनियन बजट में घोषित की गयी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में ग्रामीण अर्थव्यवस्था और किसानों को तरजीह दी है। किसानों के लिए सीधी राहत की घोषणा करते हुए सरकार ने 2 हेक्टेयर जमीन वाले किसानों को सालाना 6 हजार रुपये की मदद दिए जाने का एलान किया है। किसानों को यह रकम सीधे उनके खाते में दी जाएगी।

हालांकि सरकार ने अपनी घोषणा में कहा की ऐसे किसान जो भूतपूर्व या वर्तमान में संवैधानिक पद धारक हों, वर्तमान या पूर्व मंत्री, मेयर या जिला पंचायत अध्यक्ष, केंद्र या राज्य सरकार में अधिकारी एवं 10 हजार से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों हैं, इन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा। इसके अतिरिक्त पेशेवर डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, आर्किटेक्ट, जो कहीं खेती भी करता हो उसे इस लाभ का हकदार नहीं माना जाएगा।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

भारत में कोरोनावायरस के मामले 1.5 लाख के करीब, पढ़ें पूरी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज कहा है कि 6,535 नए संक्रमणों के बाद भारत में कोरोनोवायरस बीमारी (COVID-19) के...

कबीर सिंह के लिए पुरुष्कार ना मिलने पर शाहिद कपूर ने दिया यह जवाब

कल मंगलवार शाम को शाहिद कपूर (Shahid Kapoor) ने ट्विटर पर अपने प्रशंसकों से बात करने की योजना बनायी और लोगों से सवाल पूछने...

सिक्किम के बाद लद्दाख में भारत और चीन की सेना में टकराव

सिक्किम में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प की खबरों के बाद उत्तरी सीमा पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच टकराव की...

औरंगाबाद में रेल के नीचे आने से 16 मजदूरों की मौत, 45 किमी की दूरी तय करने के बाद हुई घटना

महाराष्ट्र (Maharashtra) के औरंगाबाद (Aurangabad) शहर में शुक्रवार सुबह कम से कम 16 प्रवासी श्रमिक ट्रेन के नीचे कुचले गए, जब वे मध्य प्रदेश...

भारत में कोरोनावायरस के आंकड़े 50,000 के पार, महाराष्ट्र में सबसे भयानक स्थिति

भारत (India) में कोरोनावायरस (Coronavirus) से संक्रमित लोगों की संख्या में पिछले दो दिनों में 14 फीसदी की वृद्धि देखि गयी है। यह आंकड़ा...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -