Thu. Jun 13th, 2024
    पेट्रोल डीजल

    नया साल शुरू होने के बाद से ही कच्चे तेल के भाव में लगातर बढ़ोतरी देखी जा रही है। कई शहरों में 28 पैसों तक पेट्रोल के भावों में बढ़ोतरी देखी गयी है वहीँ डीजल के भावों में कई शहरों में 49 पैसों तक बढ़ोतरी देखी गयी है। इसके साथ घरेलू ईंधन की कीमतों में लगातार पांचवीं बढ़ोतरी हुई, और इस वर्ष अब तक का छठा कुल मिलाकर। दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 2019 में पहली बार 70 रूपए लीटर का आंकड़ा पार कर गयी है।

    विभिन्न शहरों में पेट्रोल-डीजल के भाव:

    देश के सबसे बड़े ईंधन रिटेलर – इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, 14 जनवरी को सुबह 6 बजे, दिल्ली में पेट्रोल की कीमतें रु 70.13 प्रति लीटर, कोलकाता में रु 72.24 प्रति लीटर, मुंबई में रु 75.77 प्रति लीटर और चेन्नई में रु 72.79 प्रति लीटर थी। वहीँ डीजल की कीमतें क्रमशः रु 64.18 प्रति लीटर, रु 65.95 प्रति लीटर, रु 67.18 प्रति लीटर और  रु 67.78 प्रति लीटर पर थी।

    18 अक्टूबर से लगातार हो रही थी गिरावट :

    इससे पहले गत 18 अक्टूबर के बाद पेट्रोलियम कीमतों में गिरावट का एक लम्बा सिलसिला देखा गया था और कुल मिलाकर पेट्रोल 14.54 रुपए तथा डीजल 13.53 रुपए प्रति लीटर सस्ता हुआ था। इस क्रम में पेट्राल और डीजल राजधानी में क्रमश: 68.29 रुपए और 62.16 रुपए प्रति लीटर पर आ गया था। यह लम्बा सिलसिला काफी दिनों तक चला था लेकिन जैसे ही अब नयी साल शुरू हुई है यह बंद हो गया है एवं एक और बार इंधन की कीमतों में बढ़ोतरी देखी जाने लगी है।

    कैसे होता है पेट्रोल डीजल के भाव का निर्णय ?

    पेट्रोल एवं डीजल जैसे इंधन के मूल्य के निर्णय करने के लिए खुदरा विक्रेता एक पेचीदा एवं जटिल प्रक्रिया अपनाते हैं। इसके तहत वे कच्चे तेल की पिछले 15 दिनों की औसत कीमत एवं अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपये की विनिमय दर से पेट्रोल और डीजल की दैनिक खुदरा मूल्य की गणना की जाती है। इस तरह खुदरा मूल्य का निर्धारण होता है। 

    By विकास सिंह

    विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *