पुलवामा हमला: सोनी राजदान ने किया हिंसा का शिकार हो रहे कश्मीरी छात्रों का बचाव

पुलवामा हमला: सोनी राजदान ने किया हिंसा का शिकार हो रहे कश्मीरी छात्रों का बचाव

अनुभवी अभिनेत्री सोनी राजदान ने एक ट्वीट के जरिये उन कश्मीरी छात्रों का बचाव किया है जो 14 फरवरी को हुए पुलवामा आतंकी हमले जिसमे 40 सीआरपीएफ जवानों की हत्या हो गयी थी, उसके बाद शोषण, खतरा और हिंसा का शिकार हो गए थे।

सोनी जिनके पिता कश्मीरी पंडित थे, उन्होंने शुक्रवार को ट्वीट किया-“मैं उन सभी कश्मीरी छात्रों और उनको कहना चाहती हूँ जो भीड़ का शिकार हो गए थे, वो आप नहीं हैं। वो लोग हैं। वो लोग है जो आतंकवादी हैं, आप नहीं। और हर कोई ये समझता है मनुष्य के लिए उन दयनीय मांफियो को छोड़कर। जिन्हें ये करने के लिए भुगतान मिलता है।”

महेश भट्ट की पत्नी और आलिया भट्ट की माँ ने इससे पहले कश्मीरी छात्रों को सुरक्षित रखने के लिए भी एक ट्वीट किया था। उन्होंने लिखा-“मेरे प्रिय भारत, हम आहत हैं, हम सदमे में हैं और हम रो रहे हैं। हमें वो गरिमा के साथ करने दे और नफरत और उन लोगों के खिलाफ गुस्से से नहीं जो पागलपन और हिंसा के अपराधी नहीं हैं। कृपया जिससे हम घृणा करते हैं, वो बनने से बचें। उदाहरण के द्वारा नेतृत्व करते हैं। कश्मीरी छात्रों को सुरक्षित रखें।”

शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा ले लिए दिशा निर्देश लेकर आई। टॉप कोर्ट ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों और पुलिस प्रमुखों को निर्देश दिया कि वे पाकिस्तान-समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद द्वारा दावा किए गए आतंकी हमले के बाद कश्मीरियों, विशेषकर छात्रों के खतरों, हमलों, धमकी और बहिष्कार को रोकने के लिए त्वरित कार्रवाई करें।

पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के बाद कश्मीरी छात्रों पर कथित रूप से हमले की घटनाएं सामने आई हैं। कश्मीरी छात्र खुद को असुरक्षित महसूस करने के बाद, अपने घर वापस लौट रहे हैं। अभी हाल ही में, महाराष्ट्र के यवतमाल में पढ़ रहे कश्मीरी छात्रों पर युवा सेना के कार्यकर्ताओं द्वारा हमला किया गया। युवा सेना ने अपने कार्यकर्ताओं के ऊपर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here