खानपान

पीपल का पत्ता खाने के फायदे और तरीका

पीपल के पेड़ का महत्व सिर्फ भारत में ही नहीं पुरे विश्व में है। पीपल के पेड़ को हिन्दू धर्म में पूजा जाता है और इसकी पत्तियों और फलों को खाया जाता है।

पीपल का पत्ता कई कारणों में इस्तेमाल किया जाता है।

पीपल के पत्ते का इस्तेमाल कई बिमारियों में किया जाता है। दरअसल पीपल के पत्ते में विभिन्न ऐसे गुण होते हैं, जो शरीर की रक्षा करते हैं और घर आँगन को खुशहाल रखते हैं।

इस लेख में हमनें पीपल के पत्ते को खाने के फायदे के बारे में चर्चा करेंगे।

पीपल का पत्ता खाने के फायदे

1. पीपल का पत्ता बुखार के लिए

यदि आप तेज बुखार से पीड़ित हैं, तो पीपल के पेड़ का पत्ता आपकी मदद कर सकता है।

इसके लिए पीपल के पेड़ की कुछ कच्ची पत्तियां लें। इन्हें दूध में डालकर उबालें। इसमें थोड़ी चीनी डालें।

इस मिश्रण को दिन में दो बार लें। इससे आपको बुखार में मदद मिलेगी।

2. पीपल का पत्ता अस्थमा में खाएं

अस्थमा जैसी बिमारी में भी पीपल के पत्ते सहायक होते हैं।

इसके लिए कुछ पीपल की पत्तियां लें। आप इसका पाउडर भी ले सकते हैं। इन्हें दूध में डालकर उबालें।

इसमें थोड़ा शहद या चीनी डालकर इसका सेवन करें। दिन में दो बार इसका सेवन करने से अस्थमा में मदद मिलेगी।

3. पीपल के पत्ते के फायदे आँखों के लिए

यदि आपको आँखों में दर्द है, आप पीपल के पत्ते खा सकते हैं। पीपल के पत्ते आपकी आँख को आराम देंगे और दर्द को दूर करेंगे।

इसके लिए आप या तो पीपल की पत्तियों को दूध के साथ लें। या फिर आप पीपल की पत्तियों को पीसकर आँखों पर लगायें।

इससे आँखों को ठंडक मिलेगी और दर्द दूर होगा।

4. पीपल के पत्ते दांतों के लिए

कई लोग दांत में पीपल की पत्तियों और तने से ब्रश करना पसंद करते हैं।

यदि आपके दांतों में कीड़ें हैं या फिर मुंह से बदबू आती है, तो आप पीपल की कच्ची जड़ लें और उसको दांतों में रगडें।

इससे आपको दांतों के कीड़ों से छुटकारा मिलेगा और आपका दांत का दर्द भी दूर होगा।

पीपल के पत्ते खाने से आपके मुंह की बदबू भी दूर हो जायेगी।

5. पीपल के पत्ते खाने से नकसीर दूर हो जाती है

गर्मियों में बच्चे अक्सर नकसीर से पीड़ित हो जाते हैं। नकसीर में बिना वजह नाक से खून बहने लगता है। इसका कारण अत्यधिक गर्मी को कहा जाता है।

इस स्तिथि में पीपल की पत्तियां आपकी मदद कर सकती हैं। आपको सिर्फ इतना करना है कि आप पीपल की कच्ची पत्तियां का लें।

या फिर आप पीपल की पत्तियों को पानी में उबालें और फिर उस पानी को पी लें।

इससे आपको प्राकृतिक रूप से ठंडक मिलेगी और नकसीर से मदद मिलेगी।

6. पीपल के पत्ते से हृदय रोग का इलाज

पीपल के पत्ते दिल के रोग में भी सहायक हैं।

इसके लिए कुछ पीपल की पत्तियां लें और इन्हें रात में एक पानी के बर्तन में डाल दें और इसे डला रहने दें।

अगले दिन इस पानी को दो-तीन बार में पी लें। इस उपाय से कमजोर दिल और दिल के रोग के इलाज में सहायता मिलती है।

पीपल का पत्ता खाने की विधि

  1. करीबन 15 पीपल की हर्री पत्तियां लें।
  2. एक कैंची की मदद से पत्ते का उपरी और नीचला हिस्सा काट दें और हटा दें।
  3. अब पत्तियों को साफ़ करें और एक बर्तन में डालकर पानी में उबालें।
  4. आंच धीमी रखें और अच्छे से उबलने दें।
  5. ठंडा होने दें और आंच से उतार लें।
  6. अब आपकी औषधि तैयार है।
  7. इसे तीन हिस्सों में निकाल लें और दिन में तीन बार सेवन करें।
  8. यदि आपको हाल ही में दिल का दौरा पड़ा है तो आप कुछ दिन के बाद इसका सेवन करें।
  9. इस औषधि का 15 दिनों तक लगातार सेवन करने से आपको दिल के दौरे का खतरा कम हो जाता है।

पीपल के पत्ते खाने के नियम

  • पीपल के पत्ते की दवाई कभी खाली पेट ना लें। हमेश ध्यान रहे कि आप इससे पहले कुछ का लें और फिर इसका सेवन करें।
  • इस दवाई को लेते समय कुछ परहेज करें। तली हुई चीज और मसालेदार चीजों से परहेज करें।
  • जब आप इस दवाई का सेवन कर रहे हैं तो आप बहुत से फल खाएं जिससे इसका असर जल्दी हो। इसके लिए आप आम, अनार, सेब, मेथी के बीज, काला चना, दही आदि लें।
  • यदि आप पहले से ही कोई दवाई ले रहे हैं, तो पीपल के पत्ते खाने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूरी करें।

इस लेख से जुड़ा यदि कोई सवाल या सुझाव आपके पास है तो आप उसे नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

पंकज सिंह चौहान

पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

टिप्पणियां देखें

  • पीपल का पत्ता पीसकर शहद के साथ ले सकते हैं क्या?

Share
लेखक
पंकज सिंह चौहान

Recent Posts

अमेरिकी वैज्ञानिक डेविड जूलियस और अर्देम पटापाउटिन ने नोबेल मेडिसिन पुरस्कार 2021 जीता

अमेरिकी वैज्ञानिकों डेविड जूलियस और अर्डेम पटापाउटिन ने सोमवार को तापमान और स्पर्श के रिसेप्टर्स…

October 5, 2021

किसान संगठन को कृषि कानूनों पर रोक के बाद भी आंदोलन जारी रखने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने लगायी फटकार

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी…

October 5, 2021

केंद्र सरकार ने वन संरक्षण अधिनियम में कई संशोधन किये प्रस्तावित

केंद्र सरकार ने मौजूदा वन संरक्षण अधिनियम (एफसीए) में संशोधन के तहत राष्ट्रीय सुरक्षा परियोजनाओं…

October 5, 2021

रूस और जर्मनी के बीच नॉर्ड स्ट्रीम 2 पाइपलाइन का निर्माण पूरा: यूरोपीय राजनीति में होंगे इसके कई बड़े परिणाम

जबकि ईरान-पाकिस्तान-भारत गैस पाइपलाइन, ईरान-भारत अंडरसी पाइपलाइन, और तुर्कमेनिस्तान-अफगानिस्तान-पाकिस्तान-भारत पाइपलाइन पाइप अभी भी सपने बने…

October 4, 2021

पैंडोरा पेपर्स का सचिन तेंदुलकर सहित कई वैश्विक हस्तियों के वित्तीय राज़ उजागर करने का दावा

रविवार को दुनिया भर में पत्रकारीय साझेदारी से लीक पेंडोरा पेपर्स नाम के लाखों दस्तावेज़ों…

October 4, 2021

बढे बजट के साथ आज पीएम मोदी करेंगे एसबीएम-यू 2.0 और अमृत ​​2.0 का शुभारंभ

वित्त पोषण, आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों ने गुरुवार को कहा…

October 1, 2021