Fri. May 24th, 2024
    मोहम्मद बिन सलमान

    सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने पाकिस्तान में 20 अरब डॉलर का निवेश किया था। क्राउन प्रिंस ने दक्षिण एशिया में सबसे पहले पाकिस्तान की यात्रा की और भारत और पाकिस्तान के मध्य बिचौलिए की भूमिका निभाई थी। पुलवामा आतंकी हमले के बाद दोनो राष्ट्रों के मध्य तनाव बढ़ गया है।

    पाकिस्तान के दिग्गज अखबार डॉन के लेखक व कॉल्मनिस्ट जाहिद हुसैन ने कहा कि मोहम्मद बिन सलमान की पाक यात्रा से दोनो देशों के के मध्य नए अध्याय की शुरुआत हुई है, उनके मजबूत द्विपक्षीय संबंधों को पांच दशक से अधिक हो गए है। इस्लामाबाद की सबसे बड़ी मस्जिद का नाम सऊदी के राजा फैसल के नाम पर है, जिसने इसके निर्माण के लिए वित्तीय सहायता दी थी।

    उन्होंने कहा कि सऊदी अरब ने पहली बार इस तरह का निवेश पाकिस्तान में किया है। इस निवेश का मकसद साल 2030 के सऊदी अरब की योजना को सफल बनाना है। यह सिर्फ पाकिस्तान के लिए ही नही बल्कि समस्त क्षेत्र का लिए है कि वह अनय देशों मसलन भारत में भी निवेश कर रहे हैं।

    सऊदी ऐसे निवेश करना चाहता है जैसे उन्होंने पहले कभी न की हो। इस्लाबाद अपने ऊर्जा क्षेत्र में सऊदी के निवेश का स्वागत करता है। विशेषकर, ग्वादर के तटीय शहर में 8 अरब डॉलर की ऑयल रिफाइनरी में निवेश पाक के हित में है। पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था मौजूदा समय में 6.6 फीसदी जीडीपी का घाटा झेल रही है।

    इस्लामाबाद ने आईएमएफ से 12 अरब डॉलर के राहत पैकेज की मांग की है। जिसके लिए दोनो पक्षों के मध्य बातचीत जारी है। इमरान खान ने मोहम्मद बिन सलमान का इस्ताकबाल बेहद सम्मान से किया था। इसके बदले में सऊदी ने 2107 पाक कैदियों को रिहा किया है।

    इस्लामाबाद की यात्रा के बाद मोहम्मद बिन सलमान भारत और पाकिस्तान के मध्य बढे तनाव को कम करने की कोशिश करेंगे। क्राउन प्रिंस और उपप्रधानमंत्री ने संयुक्त बयान ने कहा कि “इस क्षेत्र में मसलों को सुलझाने के लिए और शान्ति व स्थिरता के लिए बातचीत ही एकमात्र रास्ता है।

    सऊदी अरब पाकिस्तान के ग्वादर बंदरगाह में 10 अरब डॉलर की आयल रिफायनरी का निर्माण करेगा। यह पाकिस्तान और चीन की महत्वकांक्षी परियोजना बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव का मुख्य भाग है। इसके बाद क्राउन प्रिंस तीन दिवसीय यात्रा पर चीन जायेंगे। हाल ही में जमाल खशोगी की हत्या के आरोप के बाद मोहम्मद बिन सलमान ने दक्षिण एशिया के  यात्रा की है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *