दा इंडियन वायर » शिक्षा » परीक्षा की तैयारी कैसे करें? 12 उपाय
शिक्षा

परीक्षा की तैयारी कैसे करें? 12 उपाय

परीक्षा

हर नए साल की शुरूआत के साथ ही परीक्षा की चिंता भी शुरू हो जाती है। क्योंकि साल के शुरू होते ही परीक्षा भी पास आ जाती है। परीक्षा शब्द सुनते ही विद्यार्थीयों के मन मे एक डर पैदा हो जाता है। छात्र परीक्षा को लेकर अत्यधिक परेशान हो जाते है और अपने आप पर से उनका आत्मविश्वास कम हो जाता है।

आज हम कुछ महत्वपूर्ण टिप्स के बारे मे बात करेंगे, जिनसे छात्रो का मानसिक तनाव कम करने मे मदद् मिलेगी। साथ ही वे परीक्षा के समय मे पूरी लगन और मेहनत के साथ पढ़ सकेंगे। इन टिप्स का पालन करने से छात्रो को अच्छे अंक लाने में भी सहायता मिलेगी।

1. छोटे लक्ष्य बनाए

ऐसे छोटे लक्ष्य बनाए जिनहें आप आसानी से हासिल कर सके। छोटे लक्ष्यो को जल्द पाने का प्रयत्न करे। अपने आप को छोटे छोटे लक्ष्य पूरे होने पर बधाई दे। ऐसा करने से आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा। अपने आप से बार बार पूछिए की जो लक्ष्य आपने बनाया है क्या वो वास्तिवक है, क्या मुझे अपने लक्ष्य को पाने के लिए ज्यादा मेहनत करनी होगी? कितनी मेहनत के बाद मुझे यह सफलता मिलेगी?

2. टाइम टेबल बनाए

परीक्षा के समय यह जान ले कि समय का महत्व क्या है। अगर परीक्षा से पहले आपने कुछ नही पढ़ा और अब जब परीक्षा आने वाली है आपके पास समय नही है तो, अपना समय बेफिजुल की चीज़ों में बरबाद ना करे और समय की कीमत समझ कर अपने समय को सही दिशा में उपयोग करे। ऐसा करने के लिए आप टाइम टेबल भी बना सकते है। समय को ध्यान से इस्तेमाल करना सीखे। टाइम टेबल बनाने से आपकी परेशानी और दुविद्धा खत्म हो जाएगी।

3. ब्रेक ले कर पढ़े

पढ़ने के बाद कुछ निश्चित समय पर ब्रेक ले इससे आप के दिमाग को रेस्ट मिलेगा और आपका दिमाग भी स्वस्थ रहेगा। हम सभी एक समय के बाद ध्यान लगा कर कोई काम नही कर सकते। पर अगर हम थोडी थोडी देर बाद ब्रेक लेकर काम करे तो हमारा दिमाग ज्यादा तेजी से चलने लगेता है। ब्रेक के लिए आप पार्क जा सकते है, अपने दोस्तो से बात कर सकते है आदि। छोटे ब्रेक लेने से आपके दिमाग का फोक्स तो बढ़ेगा ही साथ ही आपके याद करने की तीव्रता भी बढ़ेगी।

4. नई तकनीकियों का इस्तेमाल

पढ़ते समय नई और आर्कषित माध्यमों को इस्तेमाल करे ऐसा करने से आप ज्यादा समय तक बाते याद कर पाएंगे साथ ही आप मजेदार तरीके से पढ़ पाएंगे। मोटी मोटी किताबे पढ़ने से आज के समय मे पढ़ना कठिन है परंतु विडियो देख कर पढ़ना काफी आसान है। इक्कसवीं सदी के आधुनिक युग में पढ़ने के लिए हमें समय की रफतार के साथ चलना होगा। यूट्यूब, बलॉग, सोशल मीडिया के जरिए पढ़ना आर्कषक और आसान हो गया है। इस जरिए से बाते आसानी से समझ आती है।

5. अपना आंकलन करे

पढ़ने के बाद अपनी छोटी सी परीक्षा ले उससे आप अपना आंकलन स्वंय कर सकेंगे। कई बार हम परीक्षा देने जाने से पहले पढ़ा हुआ सब भूल जाते है। ऐसी मनोस्थित का सामना करने के लिए अपनी परीक्षा स्वंय लेना अति आवश्यक है।ऐसा करने से  आपको पता चलेगा आप कहा पर कमजोर है और आपको परीक्षा देने से डर भी नही लगेगा। स्वंय आंकलन करने से यह भी पता चलता है कि हमे किस भाग पर कितना काम करना है। जितनी ज्यादा बार आप अभ्यास करेंगे उतना सफल आप होगे।

6. कसरत भी जरूरी

इस स्थित को शारीरिक और मानसिक दोनो स्थित की परीक्षा समझे। पढ़ाई के साथ शारीरिक कसरत पर भी ध्यान दे। इससे आपका मानसिक तनाव दूर होगा और आप तरो ताजा महसूस करेगे । आपका रक्त संचार बढेगा और आपकी याद करने की क्षमता भी बढेगी। कसरत या फिर शारीरिक रूप से तंदरुस्त रहने का परिणाम आपको अपने ध्यान लगाने की क्षमता से मिलेगा।

7. सकारात्मक सोच रखे

परीक्षा और अपनी कड़ी मेहनत की ओर सकारात्मक सोच रखे क्योकि यह आपकी ताकत की सबसे बड़ी पूंजी है। नकारात्मक सोच रखने से आपके प्रदर्शन करने की क्षमता परीक्षा मे घटती है और याद करने की क्षमता मे भी गिरावट आती है। अपनी सोच मे अच्छी बाते लाने से आपका दिमाग तेजी से काम करता है। आपको इस मुश्किल की घड़ी में अपने आप पर भरोसा रखना है। और अपनी ताकत शाक्ति का इस्तेमाल करके अपने लक्ष्य को जीतना है।

8. दोस्तो के साथ पढ़े

अपने दोस्तो के साथ या अन्य लोगो के साथ पढ़े ऐसा करने से बाते ज्यादा समय तक याद रहेंगी। आप इस परीक्षा की घड़ी में यह जानते होंगे कि आप किस के साथ बेहतर काम कर सकते है। उनकी मद्द लें और उनकी मद्द करते हुए भी आप दोनो अपना मनोबल बढाने का प्रयास करे। आप अपने जानने वालो से प्ररेणा भी ले सकते है और उनहें प्ररेणा देकर उनका सहयोग भी कर सकते है।

9. कहानी बना कर पढ़े

हर किसी को कहानी पढना और सुनना पसंद होता है। कहानी हम सभी के मनोरंजन को स़्त्रोत भी है। कैसा होगा अगर हम पाठ को ही कहानी के रूप में पढ़े। पाठ को कहानियों की तरह याद करें। इससे पाठ को समझने मे आसानी होगी और सारी जानकारी लंबे समय तक याद रहेगी। कहानी का बनाना और याद करना आर्कषक काम है इसलिए यह टिप बहुत महत्वपूर्ण है।

10. निर्धित समय

पढ़ने के लिए समय कम होने के कारण समय का र्दुपयोग ना करे। पढ़ने का समय निर्धित करें और उसका पूरी निष्ठा के साथ पालन करे। पढ़ने के लिए शांत जगह ढूंढे। समय समय पर अपनी जगह बदलिए अगर आपसे एक जगह बैठ कर नहीं पढ़ा जा रहा है। निर्धित समय से कम समय के लिए मत पढिए क्योकि यह समय का सदपयोग नही होगा। जगह बदल कर पढ़ने से वातावरण के बदलाव के कारण आपका ध्यान ज्यादा लगेगा।

11. बदलाव को देखे

अपने पर्यावरण से प्ररेणा ले और उसमे होते बदलाव से प्ररेणा लेकर सीखे। प्ररेणा का स्त्रोत देख कर आपका मन पढ़ने के लिए करेगा और आप अपने आप को सिद्ध करने की कोशिश करेगें। जो परीक्षा के समय पढ़ने के लिए एक मात्र उपयोगी काम है। बदलाव से आप सीख लेकर अपनी मद्द कर सकते है। और अपनी मानसिक प्ररेणा के स्त्रोत को बढ़ा सकते है।

12. अध्यापक की सलाह ले

किसी भी सवाल के लिए अपनी अध्यापक को संर्पक करे क्योकि वही आपके सवाल को बेहतर तरीके से समझा सकते है। दुविधा को मन मे ना रखे यह बेहद हानिकारक हो सकता है। अगर परीक्षा के किसी विषय को लेकर आपके दिमाग में कोई सवाल है उस विषय के अध्यापक के पास जाइये और उस दुविधा को हल करे। अगर आप किसी विषय में रूचि दिखएंगे तो वह विषय आपको आसान और अच्छा लगने लगेगा।

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!