रविवार, फ़रवरी 23, 2020

पथरी का दर्द के इलाज के 12 के घरेलू उपाय

Must Read

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक...

‘हैदराबाद में शाहीन बाग जैसे विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी’: पुलिस आयुक्त

हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अंजनी कुमार ने शनिवार को कहा कि शहर में "शाहीन बाग़ जैसा" विरोध प्रदर्शन की...

गुर्दे में अत्यधिक नमक और खनिज जमा हो जाने के कारण पथरी हो जाती है जिससे अत्यधिक पीड़ा का सामना करना पड़ता है। पथरी का दर्द असहनीय हो जाता है और इसका तुरंत इलाज जरूरी है।

गुर्दे की पथरी को लिथियसिस या नेफोलिथियसिस के रूप में भी जाना जाता है। यह आमतौर पर केंद्रित मूत्र के परिणामस्वरूप होती है, जिससे खनिजों का क्रिस्टलीकरण हो जाता है।

मूत्र में कैल्शियम, ऑक्सालेट और यूरिक एसिड जैसे पदार्थ होने के कारण क्रिस्टल बन जाती हैं जिससे इनका घुलना मुश्किल हो जाता है जिससे गुर्दे में पथरी बन जाती है। हालांकि, इसके कुछ स्पष्ट कारण नहीं होते हैं लेकिन कुछ कारण इस प्रकार हैं:

पथरी के दर्द के कारण

  • मूत्र मार्ग में संक्रमण
  • जेनेटिक कारण
  • अत्यधिक डिहाइड्रेशन
  • कुछ फल, सब्जियां और नट्स
  • अत्यधिक वज़नी होना
  • कुछ चिकित्सीय कारण जैसे कि वृक्क ट्यूबलर एसिडोसिस, सिस्टिनुरिया, और हाइपरपेरायरायडिज्म
  • टोपिरामेट जैसी कुछ दवाइयां

पथरी के दर्द के लक्षण

पथरी के निश्चित ऐसे कोई लक्षण नही होते हैं जिससे इसकी मौजूदगी का पता लगाया जा सके। लेकिन कुछ लक्षणों पर नज़र डालते हैं जो इसकी संभावना के बारे में बता सकते हैं:

  • पसलियों के नीचे और पीठ में दर्द
  • नीचे की तरफ होने वाला तेज़ दर्द जो पेट के निचले हिस्से तक फैलता है
  • पेशाब के दौरान जलन
  • गुलाबी, लाल या भूरा मूत्र
  • चक्कर और उल्टियाँ
  • पेशाब में परेशानी
  • मूत्र में बदबू
  • अधिक बार पेशाब जाना
  • ठण्ड और बुखार (संक्रमण के मामले में)

ये सभी लक्षण आपको अत्यधिक परेशानी दे सकते हैं इसलिए इनसे निजात पाने के लिए आप कोशिश अवश्य करें। आइये नज़र डालते हैं कुछ ऐसे नुस्खों पर जो आपको गुर्दे की पथरी के दर्द से बचा सकते हैं।

पथरी के दर्द का इलाज

1. पानी

पानी आपके मूत्र में यौगिकों का क्रिस्टलीकरण रोक देता है जिसके कारण गुर्दे में पथरी का निर्माण नहीं होता है। पथरी को साफ़ करनें का सबसे असरदार तरीका पानी ही होता है।

सामग्री:

  • 1 गिलास पानी

कैसे इस्तेमाल करें?

  • अपने गुर्दे में मौजूद पथरी को बाहर निकालने के लिए नियमित पानी पीयें।

प्रतिदिन 10-12 बार पानी पीयें। ध्यान रहे कि आप कम से कम 7-9 गिलास पानी पीयें।

2. टमाटर का रस

टमाटर में प्रचुर मात्रा में लाईकोपीन पाया जाता है जो गुर्दे की पथरी को कम करने में अत्यधिक उपयोगी होता है। इसके अलावा इसके एंटीइंफ्लेमेटरी गुणों के कारण ये सूजन और दर्द में भी राहत देता।

सामग्री:

  • बिना शक्कर के टमाटर के रस का एक गिलास

कैसे इस्तेमाल करें?

  • रोज़ टमाटर के रस के एक गिलास में एक चुटकी मिर्च डालकर पीयें

इसे प्रतिदिन 1 बार लें

3. नींबू का रस

नींबू में प्रचुर मात्रा में सिट्रेट पाया जाता है जिसमें गुर्दे में मौजूद पथरी घुल जाती है। इसमें एंटीओक्सीडैन्ट और मूत्रवधक गुण भी होते हैं जो शरीर से विषैले पदार्थ निकालने में उपयोगी होते हैं। इसके एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण ये पेशाब में होने वाली जलन भी दूर कर देता है।

सामग्री:

  • 1/2 नीम्बू
  • 1 गिलास गर्म पानी
  • शहद

कैसे इस्तेमाल करें?

  • नीम्बू को निचोड़कर पानी में डाल लें।
  • इसमें थोडा शहद डालें और अच्छे से मिला लें

इसे प्रतिदिन दो बार लें। एक बार सुबह उठते ही और रात में खाने से पहले।

4. पथरी के दर्द में तुलसी का रस

तुलसी में मौजूद कुछ यौगिक आपके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को स्थिर कर देते हैं जिसके कारण गुर्दे में पथरी होने की सम्भावना कम हो जाती है

सामग्री:

  • 1/2 नीम्बू
  • 1 गिलास गर्म पानी
  • शहद

कैसे इस्तेमाल करें?

  • नीम्बू को निचोड़कर पानी में डाल लें।
  • इसमें थोडा शहद डालें और अच्छे से मिला लें

इसे प्रतिदिन दो बार लें। एक बार सुबह उठते ही और रात में खाने से पहले।

5. क्रैनबेरी का रस

क्रैनबेरी अपने मूत्रवधक गुणों के कारण मूत्र मार्ग में होने वाले संक्रमण से बचाता है जिसके कारण ये गुर्दे की पथरी से निजात पाने का उच्च उपाय होता है। हालांकि, इस पर अभी भी परिणाम मिले जुले ही हैं और यह पूर्णतः सिद्ध नहीं हो सका है कि क्रैनबेरी गुर्दे की पथरी में लाभदायक है या नहीं लेकिन कुछ अध्ययन पथरी को कम करने के लिए इसका सेवन करने की सलाह देते हैं।

सामग्री:

  • बिना शक्कर के क्रैनबेरी रस का एक गिलास

कैसे इस्तेमाल करें?

  • रोज़ क्रैनबेरी के रस का एक गिलास पीयें

इसे दिन में 1-2 बार लें

6. बेकिंग सोडा

खारा होने के कारण बेकिंग सोडा आपके मूत्र को भी खारा बना देता है। इसके कारण आपके गुर्दे की पथरी जल्दी घुलने लगती है। ये गुर्दे का पीएच भी सामान्य कर देता है जिससे यह पुनः संतुलित कार्य करने लगता है।

सामग्री:

  • 1 बड़ा चम्मच बेकिंग सोडा
  • 1 गिलास पानी

कैसे इस्तेमाल करें?

  • बेकिंग सोडा को पानी के गिलास में डाल लें।
  • इसे अच्छे से मिलाकर तुरंत पी लें

इसका दिन में 2-3 बार सेवन करें।

7. लहसुन

लहसुन एक ऐसा एंटीओक्सीडैन्ट है जो शरीर को फ्री रेडिकल से शरीर को होनी वाली क्षति को बचाता है। इसके अतिरक्त यह मूत्र के माध्यम से शरीर से विषैले पदार्थ निकाल देता है।

सामग्री:

  • 5-6 लहसुन की कलियाँ
  • 1 कप पानी
  • शहद

कैसे इस्तेमाल करें?

  • लहसुन की कलियों को छील लें।
  • इसे पानी और शहद के साथ पीस लें

इसका नियमित रूप से दिन में 1-2 लें।

8. गर्म गद्दी(हीटिंग पैड)

गर्म गद्दी में पथरी से होने वाली सूजन और दर्द को कम करने की क्षमता होती है। इसकी गर्मी से मांसपेशियों को आराम मिलता है जिससे पथरी आसानी से शरीर से बाहर आ जाती है। हालांकि, इसे इस्तेमाल करने से पूर्व अपने चिकित्सक से परामर्श ले लें।

सामग्री:

  • गर्म गद्दी(हीटिंग पैड)

कैसे इस्तेमाल करें?

  • प्रभावित स्थान पर 15-20 मिनट के लिए गर्म गद्दी रख लें।

इसका प्रतिदिन 2-3 बार इस्तेमाल करें जब तक आपका दर्द कम न हो जाये।

9. सेंधा नमक

मैग्नीशियम सल्फेट के नाम से जाना जाने वाला सेंधा नमक आपके रक्त में मैग्नीशियम की मात्रा बढ़ जाती है जिससे पथरी होने का खतरा कम हो जाता है। यदि आपके गुर्दे में पहले से ही पथरी होती है तो मैग्नीशियम उसके आकार को घटा देता है।

सामग्री:

  • 1 कप सेंधा नमक
  • नहाने का पानी

कैसे इस्तेमाल करें?

  • सेंधा नमक को पानी में मिला लें।
  • इस पानी में 15-20 मिनट तक बैठें

इसका हफ्ते में तीन बार करें।

10. ग्रीन टी

ग्रीन टी में ऐसे औषधीय गुण होते हैं जो गुर्दे की पथरी के दर्द के निवारण के लिए लाभदायक उपाय होता है। ये एक प्राकृतिक एंटीओक्सीडैन्ट और मूत्रवधक होता है जिसके कारण ये मूत्र के माध्यम से शरीर से विषैले पदार्थ निकाल देता है।

सामग्री:

  • 1 चम्मच ग्रीन टी
  • 1 कप पानी
  • शहद(ऐच्छिक)

कैसे इस्तेमाल करें?

  • ग्रीन टी को पानी में डाल लें।
  • इसे उबाल लें।
  • इसे 5 मिनट तक उबालें फिर छान लें।
  • इसे ठंडा होने दें फिर इसमें शहद डाल लें।

प्रतिदिन 3-4 कप ग्रीन टी का सेवन करना उपयोगी होता है।

11. सेब का सिरका

सेब के सिरके में पाया जाने वाला एसिटिक एसिड पथरी को घुलने में मदद करता है।

इसके अलावा ये एंटी-इंफ्लेमेटरी होने के कारण पथरी के लक्षणों को कम करता है।

सामग्री:

  • 2 बड़े चम्मच सेब का सिरका
  • 2 लीटर पानी
  • शहद(ऐच्छिक)

(यह भी पढ़ें: सेब का सिरका बनाने की विधि)

कैसे इस्तेमाल करें?

  • सेब के सिरके को पानी में डालकर अच्छे से मिला लें।
  • स्वाद के लिए शहद डाल लें और दिनभर पीयें।

इसे दिन में कई बार पीयें।

12. मालिश, विटामिन्स और मिनरल्स

मालिश पथरी के निवारण का एक अन्य उपयोगी तरीका होता है। प्रभावित स्थानों पर एक थेरापिस्ट से मालिश करवाने से आपको पथरी का दर्द से बहुत जल्दी आराम मिल जाता है। 

उचित मालिश आपके गुर्दे में मौजूद पथरी को शरीर से बाहर निकलने का रास्ता भी बता देती है। हालांकि, मालिश तभी करवाएं जब आपकी पथरी निकल जाये। 

इसके अतिरिक्त कई प्रकार के विटामिन्स और मिनरल्स का सेवन करके भी पथरी की समस्या को दूर किया जा सकता है। विटामिन बी6 का नियमित सेवन करने से गुर्दे की पथरी का खतरा कम किया जा सकता है। मैग्नीशियम और कैल्शियम जैसे मिनरल्स का सेवन करने से भी पथरी के खतरे को कम किया जा सकता है। 

पालक, योगर्ट, चीज़, दूध और बादाम आदि का सेवन करने से आपको फायदा हो सकता है। 

पथरी का दर्द रोकने के अन्य उपाय

  • अपने आपको को हाइड्रेटेड रखें। दिन भर पानी और अन्य पेय लेते रहे। 
  • कैल्शियम युक्त भोजन का भरपूर सेवन करें। इसमें चीज़, दूध, योगर्ट आदि शामिल हैं। 
  • सोडियम का सेवन कम करें। 
  • ऑक्सालेट युक्त भोजन कम लें। इसमें चॉकलेट, पालक, कॉफ़ी, पीनट, आदि शामिल हैं। 
  • एनिमल प्रोटीन का सेवन कम करें। इसमें मछली, भैंस का मांस, आदि शामिल हैं। 
  • विटामिन सी के सप्लीमेंट न लें

ये भी पढ़ें:

  1. गर्दन की नस दबने का इलाज
- Advertisement -

3 टिप्पणी

  1. मैं जब भी दौड़ता हूँ तो थोड़ी देर में पेट के पास दर्द होने लगता है क्या यह पॉसिबल है कि यह पथरी का दर्द हो?

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक लोगों, ज्यादातर महिलाओं ने शनिवार...

‘हैदराबाद में शाहीन बाग जैसे विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी’: पुलिस आयुक्त

हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अंजनी कुमार ने शनिवार को कहा कि शहर में "शाहीन बाग़ जैसा" विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी। उनका...

निर्भया मामला: आरोपी विनय नें खुद को चोट पहुंचाने की की कोशिश, इलाज के लिए माँगा समय

2012 में दिल्ली में हुए निर्भया मामले (Nirbhaya Case) में चार आरोपियों में से एक विनय नें आज जेल की दिवार से खुद को...

गुजरात सीएम विजय रूपानी ने डोनाल्ड ट्रम्प-मोदी रोड शो की तैयारी की की समीक्षा

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी (Vijay Rupani) ने गुरुवार को अहमदाबाद में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi)...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -