दा इंडियन वायर » टैकनोलजी » नेटवर्क ट्रबलशूटिंग क्या है?
टैकनोलजी

नेटवर्क ट्रबलशूटिंग क्या है?

नेटवर्क ट्रबलशूटिंग network troubleshooting in hindi

नेटवर्क ट्रबलशूटिंग क्या है? (network troubleshooting in hindi)

जरूरी नहीं है की आपके सारे के सारे नेटवर्क हार्डवेयर, नेटवर्क कोन्फ़िगरेशन, ऑपरेटिंग सिस्टम और सेटप आपके नेटवर्क और ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलें।

अडेपटर संसाधन (Adapter resources)

सबसे पहले तो यह सत्यापित करें की आपके कम्प्युटर में अड़ेपटर इन्स्टाल किया हुआ है या नहीं और आपके कम्प्युटर में बिना किसी परेशानी के वह सही से काम कर रहा है या नहीं।

माइक्रोसॉफ़्ट विंडोज में जाके डिवाइस मैनेजर को खोलें और देखें की उसमे कोई एरर तो नहीं है। नेटवर्क अड़ेपटर हर कम्प्युटर मे डाला हुआ होता है उसे सही से जाँचे।

यदि किसी प्रकार की कोई परेशानी आती है और आपको नेटवर्क अड़ेपटर किसी और डिवाइस के रूप में दिखता है तो फिर इसका मतलब है की नेटवर्क कार्ड आपके कम्प्युटर में सही से इन्स्टाल नहीं किया हुआ है।

फिर उसके बाद विंडोज में देखिये की वह उसको दुबारा जाँचे और नेटवर्क कार्ड को इन्स्टाल करे नेटवर्क अडेपटर को हटाकर और जो भी डिवाइस इस कार्य में बाधा डाल रहा है उसे हटाकर कम्प्युटर को यह रीबूट करे।

यदि विंडोज कार्ड को री डिटेक्ट करता है पर किसी भी तरह का ड्राईवर नहीं दिखता है तो नए नेटवर्क कार्ड ड्राईवर को कम्प्युटर बनने वाली वैबसाइट से डाउनलोड करें और कम्प्युटर को ड्राईवर डिटेक्ट करने में मदद करें।

वायर्ड नेटवर्क (LAN)

यह एक तरह का नेटवर्क है जो की यह देखने के लिए होता है की नेटवर्क केबल सही से लगी हुई है या नहीं और यह भी देखें की एलईडी जो हैं नेटवर्क जेट से अच्छे से प्रबुद्ध हैं या नहीं।

उदाहरण के लिए यह देखें की नेटवर्क कार्ड सॉलिड ग्रीन एलईडी से बना हुआ है या नहीं और यह देखें की कार्ड सही से जुड़ा हुआ है या नहीं और उसमे से सिग्नल सही से किया जा रहा है या नहीं।

यदि ग्रीन लाइट उसमें जल रही है तो उससे हमें यह पता चलता है की डाटा भेजा और लिया जा चुका है या नहीं।

यदि उसमें कोई भी लाइट नहीं है या फिर उसमें ऑरेंज और लाल लाइट जल रही हो तो कार्ड बुरा भी हो सकता है और वह यह बताता है की सिग्नल नेटवर्क से जुड़ा हुआ है या नहीं।

यदि आप किसी छोटे ओर लोकल नेटवर्क की क्षमता को देखना चाहते हैं तो हब स्विच या फिर राउटर से सुनिश्चित करें और यह भी सुनिश्चित करें की केबल सही से जुड़ी हुई है या नहीं।

यदि नेटवर्क की जाँच पड़ताल करने के बाद भी एलईडी का बैड सिग्नल दिखे तो नेटवर्क अड़ेपटर, पोर्ट और केबल में कुछ गड़बड़ हैं और या फिर वह बेकार हैं।

लैपटाप वाईफाई फंकशन बटन

अगर आप अपने लैपटाप में वाईफाई का इस्तेमाल कर रहे है तो फिर अपने लैपटाप में वाईफाई बटन को देखें और यह भी देखलें की वह चालू है या नहीं। काफी लैपटाप में वाईफाई का बटन होता है जो हमें वाईफाई को चालू और बंद करने में मदद करता है।

यह या तो लैपटाप के कीबोर्ड में ऊपर की तरफ होता है या फिर किस एफ़ कीय के द्वारा चालू किया जाता है। अगर आपका बटन चालू है तो यह देखलें की आप सही वाईफाई हॉटस्पॉट इस्तेमाल कर रहें हैं।

सबसे पहले नेटवर्क आइकॉन पर सीधे हाथ वाला क्लिक करें विंडोज के नोटिफिकेशन एरिया में और कनैक्ट टू ए नेटवर्क में क्लिक करें। जो भी आपके नेटवर्क का सबसे मजबूत कनेक्शन होगा वही आपका वायेरलेस राउटर है।

हालांकि आपको ज़्यादातर वाईफाई नेटवर्क से जुडने के लिए एक सही एसएसआईडी पासवर्ड डालना पड़ेगा जिससे की आप उस नेटवर्क से सही से जुड़ पाएँ। यदि आपने कोई गलत पासवर्ड ड़ाल दिया तो आप उस कनेक्शन से नहीं जुड़ पाएंगे और इंटरनेट भी नहीं इस्तेमाल कर पाएँगे।

अड़ेपटर के कार्य

यह सुनिश्चित कीजिये की नेटवर्क कार्ड खुद ही पिंग कमांड दे रहा है या नहीं। विंडोज इस्तेमाल करने वाले लोग पिंग करके विंडोज कमांड लाइन का इस्तेमाल करके यह कार्य कर सकते हैं।

यूनिक्स और लिनक्स इस्तेमाल करने वाले लोग शैल की मदद से पिंग कर सकते हैं। कार्ड को पिंग या फिर लोकल होस्ट को पिंग करने के लिए आप यह टाइप कर सकते हैं – ping 127.0.0.1 या फिर ping localhost इन दोनों को टाइप करके आप यह काम कर सकते हैं।

दिये गए कोई भी कमांड को आप जब भी डालेंगे तो यह नेटवर्क में कुछ ना कुछ रिप्लाइ जरूर करेगा। यदि यह करने के बाद आपको एरर मिले या फिर यह ट्रांसमिशन फैल दिखाए तो इसका मतलब यह है की नेटवर्क कार्ड आपके कम्प्युटर सिस्टम में है ही नहीं या फिर उसे गलत तरीके से डाला गया है।

या फिर इसमे जो ड्राइवरस डाले गए हैं वह गलत हैं। या फिर इसमे कुछ ना कुछ गड़बड़ी है जिसकी वजह से हमें यह परेशानी हो रही है।

राउटर से कनेक्शन

यदि आपने ऊपर दिये गए सभी स्टेप को करके देख लिया है और आपके नेटवर्क में राउटर है तो यह सुनिश्चित करलें की आपका कम्प्युटर का राउटर नीचे दिये गए कुछ तरीकों से कनैक्ट हो पा रहा है या नहीं।

राउटर के एड्रैस को पहचाने

आईपी कोन्फ़िग कमांड से यह देखें की गेटवेय एड्रैस पर राउटर का एड्रैस दिख रहा है या फिर नहीं।

नीचे कुछ बिन्दु हैं जो की माइक्रोसॉफ़्ट विंडोज जो लोग इस्तेमाल करते हैं उनके लिए ये काफी उपयोगी हैं। लिनक्स इस्तेमाल करने वाले लोग आईएफ़ कोन्फ़िग की जगह आईपी कोन्फ़िग को ड़ाल सकते हैं।

  • सबसे पहले विंडोज की कमांड लाइन को खोलें।
  • कमांड प्रॉम्प्ट में आईपीकोन्फ़िग टाइप करें और एंटर मारें। इसके बाद आपको कुछ इस तरह का आउटपुट दिखेगा –

Ethernet adapter Local Area Connection:

Connection-specific DNS Suffix. :

IP address…………..:

192.168.1.103

Subnet Mask………..:

255.255.255.0

Default Gateway……………:

192.168.1.1

डिफ़ाल्ट गेटवेय एक तरह से आपके राउटर का एड्रैस है। ज़्यादातर घर के राउटर का गेटवेय एड्रैस 192.168.1.1 इस तरीके से चालू होता है। राउटर को पिंग करके देखिये की वह जानकारी भेज और ले पा रहें है या नहीं। नीचे दिये गए कमांड की मदद से इस कार्य को करें।

Ping 192.168.1.1

यदि आपको यह कमांड देने के बाद राउटर से रिप्लाइ आता है तो यह समझिए की आपके कम्प्युटर और राउटर का जो कनेक्शन है वह बिलकुल सही है और आप अपने अगले कदम पर जा सकते हैं।

यदि आपको फिर भी अपने राउटर से कोई रिप्लाइ नहीं मिलता है तो आपका राउटर सही से जुड़ा हुआ नहीं है।

इस लेख से सम्बंधित यदि आपका कोई भी सवाल या सुझाव है, तो आप उसे नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

About the author

अभिषेक विजय

1 Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!

Want to work with us? Looking to share some feedback or suggestion? Have a business opportunity to discuss?

You can reach out to us at [email protected]