Fri. Jul 19th, 2024

    केंद्र सरकार की ओर से बैंक ऑफ़ बरोडा, देना बैंक और विजया बैंक का विलय कर एक नयी बैंक का गठन किया जाएगा। वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा, बैंकिंग सिस्टम में पारदर्शिता लाने के लिए सरकार कई कदम उठा रहे हैं। और अब लोग जान चुके हैं की अगर वे कर्जा ले रहे हैं तो उसे उन्हें लौटना ही पड़ेगा।

    वित्त मंत्रालय में वित्तीय सेवा विभाग के सचिव राजीव कुमार ने कहा, “इन बैंकों का विलय कर एक बैंक का गठन किया जाएगा, जोकि देश की तीसरी सबसे बड़ी बैंक होगी। बैंकों के विलय की प्रक्रिया में कर्मचारियों के हितों का ध्यान रखा जाएगा।”

    “स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया और उसके पांच सहयोगी बैंकों का विलय बिना किसी नुकसान के पूरा हुआ था। विलय के बाद भी यह तीन बैंक स्वतंत्रता से काम कर सकेंगी। विलय से बैंकों के कार्यक्षमता और ग्राहक सेवा में बढोतरी होगी”

    “नॉन परफोर्मिंग एसेट्स को 21,000 करोड़ से घटाया गया हैं। 2018-19 इस वित्तीय वर्ष के पहले तिमाह में बैंकों द्वारा 36,551 करोड़ बरामद किए गए हैं और इस विकास के इस स्तर और तालमेल को जारी रखना जरुरी हैं।”

    By प्रशांत पंद्री

    प्रशांत, पुणे विश्वविद्यालय में बीबीए(कंप्यूटर एप्लीकेशन्स) के तृतीय वर्ष के छात्र हैं। वे अन्तर्राष्ट्रीय राजनीती, रक्षा और प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज में रूचि रखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *