दा इंडियन वायर » टैकनोलजी » दिसम्बर में केवल जिओ और बीएसएनएल के यूजर्स बढे; एयरटेल और वोडाफोन ने गँवाए लाखों यूजर्स
टैकनोलजी दूरसंचार व्यापार

दिसम्बर में केवल जिओ और बीएसएनएल के यूजर्स बढे; एयरटेल और वोडाफोन ने गँवाए लाखों यूजर्स

TRAI द्वारा पेश की गयी रिपोर्ट के अनुसार पिछले वर्ष दिसम्बर में देश के कुल टेलिकॉम सब्सक्राइबर्स 119.7 करोड़ पर पहुँच गए और इस रिपोर्ट में यह भी बताया की यह बढ़ोतरी केवल जिओ और बीएसएनएल की बदौलत हुई। बीएसएनएल और जिओ के अलावा सभी प्रदाताओं को अपने यूजर्स की संख्या में कमी दर्ज की।

यूजर्स के आंकड़े :

पेश की गयी रिपोर्ट में बताया गया है की दिसम्बर माह में जहां जिओ ने अपने ग्राहकों के बेस में कुल 85.64 लाख नए यूजर्स जोड़े वहीँ बीएसएनएल ने कुल 5.56 लाख यूजर जोड़े। इसके साथ ही जिओ के जहां कुल 28 करोड़ यूजर हो गए वहीँ बीएसएनएल के कुल यूजर 11.4 करोड़ पर पहुँच गए।

टेलीकॉम रेगुलेटरी ऑथरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) ने कहा कि भारत में टेलीफोन ग्राहकों की संख्या नवंबर 2018 के अंत में 1,193.72 मिलियन से बढ़कर 18 दिसंबर के अंत में 1,197.87 मिलियन हो गई, जिससे 0.35 प्रतिशत की मासिक वृद्धि दर दिखाई गई। दिसंबर महीने में मोबाइल सब्सक्राइबर बेस 117.6 करोड़ तक पहुंच गया।

जिओ ने अकेले बढाए 8.5 मिलियन सब्सक्राइबर्स :

यदि TRAI के आंकड़ों की माने तो रिलायंस जिओ ने अपने कुल ग्राहकों में 8.5 मिलियन ग्राहक और जोड़ लिए हैं जिससे इसके कुल ग्राहकों की संख्या बढ़कर 280 मिलियन हो गयी है।

जिओ ने सितंबर 2018 के अंत में 252 मिलियन का ग्राहक आधार होने की खबर दी थी, और अक्टूबर 2018 में, इसमें 10% अधिक वृद्धि हुई। ट्राई के आंकड़ों के अनुसार, अक्टूबर के अंत में जिओ की बाजार हिस्सेदारी 22.46% थी, जबकि एयरटेल की 29.39% से 29.2% तक गिर गयी थी।

वोडाफोन और एयरटेल ने खोये ग्राहक :

जहां जिओ और बीएसएनएल के ग्राहकों की संख्या में बड़ा इजाफा देखने को मिला है वहीँ वोडाफोन और एयरटेल ने अपने न्यूनतम रिचार्ज स्कीम की बदौलत लाखों यूजर्स को खोये भी है।

वोडाफोन आइडिया ने सबसे ज्यादा, 23.3 लाख मोबाइल ग्राहक खोए लेकिन अभी भी 42 करोड़ के कुल ग्राहक आधार के साथ सबसे बड़ा दूरसंचार ऑपरेटर हैं। भारती एयरटेल ने भी अपने 15 लाख ग्राहकों के खोने की सुचना दी जिससे अब इसका कुल सब्सक्राइबर बसे 34 करोड़ पहुँच चूका है। इसके साथ ही एयरटेल ने कम आय देने वाले लगभग 5.7 करोड़ उपभोक्ताओं को गिनना बंद कर दिया जिससे इसके कुल उपभोक्ता अब 28 करोड़ के करीब हो गए हैं।

क्या है न्यूनतम रिचार्ज स्कीम :

न्युनतम रिचार्ज स्कीम एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत यदि ग्राहक को किसी टेलिकॉम सर्विस प्रदाताओं की सुविधाओं का प्रयोग करना है तो हर महीने उसे कुछ न्यूनतम शुल्क देना होगा। यह योजना एयरटेल द्वारा हाल ही में लांच की गयी थी क्योंकि उसकी आय प्रति ग्राहक बहुत कम थी।

एयरटेल एक अनुसार ऐसा करने पर उसे ऐसे ग्राहकों का बोझ नहीं उठाना पड़ेगा जोकि बिलकुल भी आय नहीं दे रहे हैं। इस योजना को चालु करने पर एयरटेल के कार्यकारी ने कहा था की हमें आशा है की इस योजना के लांच होने से हम करीब 5 करोड़ उपभोक्ता और खो सकते हैं लेकिन अब हम आय न देने वाले यूजर्स का बोझ नहीं उठाएंगे।

ऐसा करने से एयरटेल के उपभोक्ताओं पर सच में असर पड़ा और एयरटेल लगातार अपने ग्राहक खो रहा है और बहुत ही जल्द जिओ ग्राहाकों के मामले में एयरटेल से आगे निकलने वाला है। जहां एयरटेल के नेट यूजर्स 28 करोड़ के ही नज़दीक है वहां जिओ एयरटेल के बहुत पास है और यदि उसकी वृद्धि दर को देखा जाए तो जिओ स्वतः ही एयरटेल से कहीं आगे निकल जाएगा।

About the author

विकास सिंह

विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!