दा इंडियन वायर » मनोरंजन » दिलजीत दोसांझ: बेरोजगारी पंजाब के युवाओं को विदेश लेकर जा रही है
मनोरंजन

दिलजीत दोसांझ: बेरोजगारी पंजाब के युवाओं को विदेश लेकर जा रही है

दिलजीत दोसांझ: बॉलीवुड में कमाई नहीं होती, गायकी से करना पड़ता है गुजारा

पंजाबी गायक-अभिनेता दिलजीत दोसांझ(Diljit Dosanjh)  इन दिनों काफी व्यस्त हैं। उनकी जल्द पंजाबी फिल्म ‘शाड्डा’ रिलीज़ होने वाली है और इसके बाद दो बॉलीवुड फिल्में भी रिलीज़ के लिए तैयार हैं। वह आज इंडस्ट्री के सफल अभिनेता है लेकिन उनका कहना है कि सफलता मिलने के बाद उनके काम के प्रति न तो उनका दृष्टिकोण और न ही उनका अनुशासन बदला है।

जब उनसे पूछा गया कि सफलता और प्रसिद्धि के साथ उन्हें किस प्रकार की स्वतंत्रता मिली है तो उन्होंने IANS को बताया-“कुछ नहीं। मैं हर शुक्रवार को अपना सफर शून्य से शुरू करता हूँ। हम एक ऐसे पेशे में हैं, जहां हम लगभग हर रिलीज के साथ अपना करियर शुरू कर रहे हैं। हम अभिनेता और गायकों को हर फिल्म के साथ, हर शो में अच्छा प्रदर्शन करना होगा और निरंतरता बनाए रखनी होगी।”

diljeet on vogue

जब उनसे पूछा गया कि पिछले 9 सालों में हिंदी और पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री में 20 फिल्में करने के बाद, क्या वह सहजता से कैमरा के साथ सामने खड़े हो पाते हैं तो उन्होंने कहा-“हर बार, मैं अलग किरदार निभा रहा होता हूँ। इसलिए हर दिन नया दिन होता है। मैं इसके साथ सहज नहीं हूँ। हर बार जब मैं कुछ नया करता हूँ तो न्यूकमर जैसा अहसास होता है।”

फिल्म ‘शाड्डा’ में वह एक शादी के फोटोग्राफर की भूमिका निभा रहे हैं जिनकी खुद शादी योग्य उम्र हो गयी है। फिल्म समाज और आज के युवाओं की जीवनशैली का प्रतिबिंब है। पंजाब का अधिकांश युवा विदेश में बसने की इच्छा क्यों रखता है? दिलजीत कहते हैं कि इसका जवाब बेरोजगारी है।

diljeet

उनके मुताबिक, “इसलिए वह लोग पंजाब से कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और यूरोप की विभिन्न जगहों पर जा रहे हैं। कौन अपना परिवार छोड़ कर जाना जाता है। यह केवल नौकरी का अवसर है जो उन्हें दूर ले जा रहा है … हां, यह एक वास्तविक मुद्दा है।”

दिलजीत ने जबसे 2016 में फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ से अपना बॉलीवुड डेब्यू किया है, तबसे उन्होंने पीछे मुड़ कर नहीं देखा है। उन्होंने बाद में कई हिंदी फिल्मो में काम किया जिसमे ‘फिल्लौरी’, ‘वेलकम टू न्यू यॉर्क’, ‘सूरमा’ और आगामी फिल्में ‘गुड न्यूज़’ और ‘अर्जुन पटियाला’ शामिल है।

good news

चाहे उनका संगीत हो या फिल्मो का चयन, दिलजीत ने हमेशा रचनात्मक संतुष्टि और बॉक्स ऑफिस कामयाबी के बीच संतुलन बना कर रखा है।

उन्होंने कहा-“एक कलाकार के रूप में, मैं प्रयोगात्मक कार्य करना जारी रखूंगा और सभी प्रयोगों को व्यावसायिक रूप से सफल नहीं होना पड़ेगा। पिछले साल, जब मैंने ‘सज्जन सिंह रंगरूट’ किया था, तो फिल्म व्यावसायिक रूप से सुपरहिट नहीं थी, लेकिन यह एक बताने लायक कहानी थी।”

shadaa

“विचार ऐसी फिल्में बनाने का है कि निर्माता भी पैसे कमा सकें और साथ साथ मैं भी अपना प्रयोगात्मक कार्य करता रहूं। मुझे ऐसी कॉमेडी, हल्की-फुल्की व्यावसायिक फिल्में करने में भी मजा आता है।”

जगदीप सिद्धू द्वारा निर्देशित फिल्म ‘शाड्डा’ में नीरू बाजवा भी अहम किरदार में दिखाई देंगी। फिल्म 21 जून को रिलीज़ हो रही है।

About the author

साक्षी बंसल

पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!