सोमवार, दिसम्बर 9, 2019

जीरा पानी पीने के फायदे और नुकसान, बनाने की विधि

Must Read

बी प्रैक ने महेश बाबू की फिल्म के लिए रिकॉर्ड किया तेलुगू गाना

सिंगर बी प्रैक ने महेश बाबू की फिल्म के लिए अपना पहला तेलुगू गाना 'सूर्योदय चंद्रुडिवो' रिकॉर्ड किया है।...

आईआईटी-मद्रास के 831 छात्रों की हुई कैंपस प्लेसमेंट

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास (आईआईटी-एम) के छात्रों को कैंपस प्लेसमेंट के पहले चरण के दौरान 184 कंपनियों द्वारा कुल...

दक्षिण अफ्रीका का मदद करने को तैयार हैं गैरी कर्स्टन

पूर्व सलामी बल्लेबाज और भारत को विश्व विजेता बनाने वाले कोच गैरी कस्टर्न ने कहा है कि वह जरूत...

आज-कल हर इंसान की एक सामान्य इच्छा है – वज़न घटाने का। वज़न घटाना सबकी नज़रों में बहुत ही कठिन होता है, लेकिन असल में ये बड़ा आसान है। जीरा का पानी (cumin seed water) इसके लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होता है। इससे हमारा वज़न घटना, एक चमत्कार जैसा है।

कहते हैं कि जीरा का पानी, सुबह उठते ही, खाली पेट पर पीने से हमें कई बीमारियों से राहत मिलती है, जैसे की – कॉन्स्टिपेशन, खाना ठीक से हजम ना होना आदि। इसे रोज़ पीने से, हमारा पेट भी कम हो जाता है।

जीरा पानी क्या है?

जिस पानी में हम जीरे को रात भर भिगोकर रखते हैं, उसे जीरे का पानी कहते हैं। रात भर भिगोने से, पानी जीरे के अंदर चला जाता है, जिसके कारण जीरा सूज जाता है। इसके बाद जीरा के कई सारे तत्व पानी में भी मौजूद हो जाते हैं, जिसकी वजह से पानी अब पीला-सा हो जाता है। जीरा पानी को ग्लास में बनाना हमेशा बेहतर होता है।

लेकिन ये पानी पीने से हमारा वज़न कम कैसे होता है?

जीरा पानी पीने के फायदे (cumin seeds water benefits in hindi)

कम कैलरीज़

जीरा में करीबन 7 कैलरीज़ होते हैं। उसके पानी में ये संख्या कम हो जाती है। इसलिए हमारे शरीर को ज़्यादा कैलरीज़ होने का डर नहीं रहेगा, और हमें अतिरिक्त कैलरीज़ को घटाने की भी चिंता नहीं रहेगी।

मोटापा से बचाना

जीरे के पानी में कुछ ऐसे तत्व होते हैं, जिससे हमारे शरीर का वज़न उचित से ज़्यादा नहीं बढ़ता है। वैज्ञानिक कहते हैं की ये फायदा हमें जीरे के तेल से भी मिलता है।

चयापचय (metabolism) बढ़ाना

अगर आपके शरीर का चयापचय कम है, तो आपका शरीर चीनी और फैट के तत्व का इस्तेमाल नहीं कर पाएगा। इसके कारण हमारे शरीर का वज़न बढ़ जाता है। जीरे का पानी हमें इस चपापचय को बढ़ाने की मदद करता है। साथ ही हमारे शरीर को भरपूर मात्रा में विटामिन और मिनरल्स मिलता है, और हमारे शरीर की कोशिकाएँ भी स्वस्थ रहती हैं।

बेहतरीन पाचन

जीरा का पानी अच्छे और बेहतरीन पाचन के लिए जाना जाता है। जब हमारा पाचन अच्छा होता है, तो अपने आप ही हमारे शरीर का चपापचय बढ़ जाता है, जिससे हमारा वज़न घट जाता है।

विषाक्त पदार्थों का कम होना

जीरा का पानी पीने से हमारे शरीर में पाए गए विषाक्त पदार्थ भी काफी हद तक कम हो जाते हैं। अस्वस्थ रहने से, हमारे शरीर में ऐसे पदार्थ घर कर लेते हैं, जिसकी वजह से हमारा वज़न बढ़ जाता है। सिर्फ वज़न ही नहीं, हमारे शरीर को कॉन्स्टिपेशन जैसे बीमारियों की भी तक्लीफ होती है। लेकिन जीरे के पानी से, ये सारे पदार्थ हमारे शरीर से निकल जाते हैं, और अन्य तक्लीफों के साथ-साथ, हमारा वज़न भी घट जाता है।

ये सब तरीके और कारण इस बात का प्रमाण है कि जीरे का पानी स्र्फ हमारे वज़न को कम नहीं करता है, बल्कि हमारे शरीर को पूर्ण रूप से स्वस्थ भी रखता है। लेकिन ये सारे फायदे सिर्फ एक या दो दिन में हमें नहीं मिलते हैं। हमें इसके लिए, जीरे के पानी को, खाली पेट पर रोज़ाना पीना चाहिए।

जीरा पानी बनाने की विधि

इसके लिए आप को 2 चम्मच जीरा और एक कप पानी की ज़रूरत पड़ेगी।

  1. जीरे को रात भर पानी में भिगोकर रखें।
  2. सुबह उठकर, पानी को या तो ऐसे ही पी लीजिए, या फिर दस मिनट के लिए उबालकर।

हमें इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि हम इस पानी को खाली पेट पर पिएँ। इसका असर हमारे शरीर पर ज़्यादा अच्छा होता है।

इसके अलावा हम जीरे के पानी को और भी तरीकों से पी सकते हैं।

जीरे का पानी और नीम्बू

इसके लिए हमें एक चम्म्च जीरा, एक कप पानी और आधे नीम्बू की ज़रूरत होगी।

  1. जीरे को पानी में रात भर भिगोकर रखें।
  2. सुबह उसका पानी छानकर, उसमें नीम्बू मिला लीजिए।
  3. इसे अच्छे से मिलाकर, खाली पेट पर पी लें।

जीरे का पानी और दालचीनी

इसके लिए हमें 1 चम्म्च जीरा, 1 चम्मच पीसा हुआ दालचीनी, और 1 कप पानी लगेगा।

  1. जीरे को रात भर भिगोकर रखें।
  2. सुबह उठकर उसमें दालचीनी डालकर, पानी को उबाल लें।
  3. पानी ठंडा होने के बाद, उसे छानकर पी लें।

दालचीनी से भी हमारा वज़न घटता है, और हमारी परेशानियाँ भी कम हो जाती है।

हमें दिन में तीन बार जीरे के पानी को पीना चाहिए। सबसे पहले सुबह उठते ही खाली पेत पर, फिर दोपहर के खाने के 20 मिनट पहले, और तीसरी बार रात के खाने के 20 मिनट पहले।

लेकिन हम जीरे को अलग तरीकों से भी वज़न घटाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। जैसे की –

जीरा और योगर्ट

इसके लिए हमें आधा कप योगर्ट, दो चम्मच जीरा पाउडर, 1 चम्म्च नीम्बू का जूस, और थोड़ा नमक।

  1. योगर्ट, जीरा, नीम्बू के रस और नमक को मिला लीजिए।
  2. इसे दोपहर के खाने में खा लीजिए।

जीरा के अन्य फायदे

  1. जीरा हमारे पाचन को बेहतर बनाता है।
  2. दिल के रोग इससे हम होते हैं।
  3. मधुमेह का खतरा भी कम होता है।
  4. जीरा में बहुत आइरन पाया जाता है।
  5. ये हमारे मस्तिष्क के लिए भी अच्छा होता है।
  6. ये हमारे शरीर को ठंडक देता है।
  7. जीरा हमारे त्वचा के लिए भी अच्छा होता है।

लेकिन हमें जीरा को उचित मात्राओं में ही खाना या पीना चाहिए। उचित से ज़्यादा अगर ये खाया जाए, तो इसके कुछ दुष्परिणाम हमें शायद भोगने पड़ेंगे। उनमें से कुछ हैं:

  1. लिवर के रोग
  2. हमारे शरीर में चीनी तत्व की कमी
  3. दस्त
  4. माहवारी के समय ज़्यादा खून बहना
  5. दिल के रोग

जीरा का पानी हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक होता है, लेकिन सिर्फ तब तक जब हम इसे उचित संख्या में पिएँ, और सही तरीकों से सही वक्त पर पिएँ।

अगर आपका इस विषय में कोई भी सवाल या सुझाव हो, तो आप नीचे कमेंट कर सकते हैं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

बी प्रैक ने महेश बाबू की फिल्म के लिए रिकॉर्ड किया तेलुगू गाना

सिंगर बी प्रैक ने महेश बाबू की फिल्म के लिए अपना पहला तेलुगू गाना 'सूर्योदय चंद्रुडिवो' रिकॉर्ड किया है।...

आईआईटी-मद्रास के 831 छात्रों की हुई कैंपस प्लेसमेंट

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास (आईआईटी-एम) के छात्रों को कैंपस प्लेसमेंट के पहले चरण के दौरान 184 कंपनियों द्वारा कुल 831 छात्रों को नौकरियों के...

दक्षिण अफ्रीका का मदद करने को तैयार हैं गैरी कर्स्टन

पूर्व सलामी बल्लेबाज और भारत को विश्व विजेता बनाने वाले कोच गैरी कस्टर्न ने कहा है कि वह जरूत पड़ने पर दक्षिण अफ्रीका की...

दुष्कर्म की घटनाओं पर प्रधानमंत्री चुप क्यों? : राहुल गांधी

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां सोमवार को सवाल उठाया कि देश में दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुप क्यों...

भारतीय जवानों को हनीट्रैप में फंसाने का प्रयास कर रही आईएसआई : रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद नाइक

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) ने भारतीय सशस्त्र बलों के अधिकारियों को फंसाने के लिए हनीट्रैप को एक उपकरण के तौर पर...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -