जियो ने राजस्व के मामले में एयरटेल को पछाड़ा, दूसरे स्थान पर हुआ काबिज

रिलायंस जिओ

रिलायंस जियो ने जून की तिमाही में राजस्व के मामले में जियो को पिछाड़ दिया है। इसके पहले एयरटेल राजस्व के मामले में आइडिया-वोडाफोन के बाद दूसरे नंबर पर था।

टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) के आंकड़ों के अनुसार जियो ने जून तिमाही में अपने राजस्व में पिछली तिमाही की अपेक्षा 14.6 प्रतिशत की वृद्धि करते हुए 7,125 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त किया है।

वहीं एयरटेल को इस तिमाही के राजस्व में 5.1% की गिरावट का सामना करना पड़ा है। जिसके बाद एयरटेल ने इस तिमाही में 6,723 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त किया है।

इसके पहले जियो ने जनवरी-मार्च तिमाही में राजस्व प्राप्ति के मामले में वोडाफोन और आइडिया दोनों को पिछाड़ दिया था, लेकिन अब इन दोनों का आपस में विलय हो जाने से जियो दूसरे नंबर पर आ गया है।

इस तिमाही विलय के बाद आइडिया का राजस्व 9.2 प्रतिशत घट कर 3,741.12 करोड़ रुपये व वोडाफोन का राजस्व 9.2 प्रतिशत घट कर 4,483.68 करोड़ रुपये पर आ गया है, हालाँकि इनका संयुक्त राजस्व 8,226 करोड़ रुपये है।

केंद्र सरकार के स्वामित्व वाली बीएसएनएल का राजस्व इस तिमाही 6.8 प्रतिशत बढ़ा है। जिसके बाद बीएसएनएल को 2,273 करोड़ रुपये के राजस्व की प्राप्ति हुई है।

जियो भले ही अभी दूसरे नंबर पर हो, लेकिन ट्रेड विश्लेषकों की मानें तो बहुत जल्द ही जियो आइडिया-वोडाफोन के संयुक्त उपक्रम को राजस्व के मामले में पीछे छोड़ सकता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here