Sun. Jul 14th, 2024
    जाह्नवी कपूर अर्जुन कपूर

    जाह्नवी कपूर और ख़ुशी को लेकर अपने रिश्ते के बारे में बताते हुए अर्जुन कपूर ने कहा कि मैं बस अपने पिता का अच्छा बेटा बनने की कोशिश कर रहा हूँ और उसके एवज में मुझे 2 बहनें और मिल गयी है। 

    अर्जुन कपूर और अन्सुला के रिश्तों के बारे में हम सब जानते ही हैं। अर्जुन अपनी बहन को अपनी ताक़त बताते हैं। श्रीदेवी की मौत के बाद अर्जुन-अंसुला से जान्हवी और ख़ुशी के रिश्ते काफी चर्चा में रहे हैं।

    अर्जुन कपूर ने एक बातचीत में कहा कि वह अपनी नयी बहनों को पाकर बहुत खुश हैं। प्रस्तुत हैं अर्जुन से उनके परिवार के बारे में बातचीत के कुछ अंश।

    ख़ुशी और जान्हवी से आपके रिश्ते के बारे में जब कोई गलत बातें कहता है तो क्या आप परेशान होते हैं ?

    मैं परेशान क्यों रहूँगा ? यह रिश्ता ऐसा है जो अभी बन रहा है और मैं हमेशा इस बारे में ईमानदार रहा हूँ। हम कभी यह नहीं दिखाते कि हम सुखी परिवार हैं इसलिए लोगों के कुछ भी सोचने या कहने से मुझे फ़र्क नहीं पड़ता।

    मैं चाहता हूँ कि ख़ुशी-जान्हवी ठीक रहें। अपने पिता का एक अच्छा पुत्र होना मेरा कर्तव्य है और उसके एवज में मुझे दो बहने भी मिल गयी हैं। ख़ुशी-जान्हवी ने मुझे, उन्हें अपनी बहन बुलाने के लिए कहा और यह बहुत बड़ी बात है।

    यह सब तब शुरू हुआ जब आपने सोनम कपूर की शादी पर ख़ुशी-जान्हवी के साथ एक तस्वीर खिचवाई। यह सब कैसे हुआ ?

    हमने साथ में वह तस्वीर ली क्योंकि हमें दुनिया को यह बताना ठीक लगा कि हम सब साथ में इन चीजों से झूझने के लिए तैयार हैं। सब कुछ पता चलने के बाद यही हमारी भावनाएं थीं।

    हम बस उस तस्वीर के द्वारा यह बताना चाहते थे कि हम कोशिश कर रहे हैं और यह सच है कि हम कोशिश कर रह हैं।

    आप और जान्हवी ‘कॉफ़ी विथ करण’ पर एक साथ आने वाले हैं। क्या यह जान्हवी से आपके सुधरते रिश्ते की ओर एक कदम है ?

    मुझे नहीं पता कि हम दोनों सच में एक दुसरे को कब जान पाएंगे। इस टॉक शो ने मुझे यह मौका दिया है कि मैं जान्हवी के साथ समय व्यतीत कर पाऊं और उसे जान सकूँ लेकिन यह उतना ही होगा जितना की दर्शक भी जान्हवी को जान पाएंगे क्योंकि मैंने उनके साथ कभी समय व्यतीत नहीं किया है। दोनों बहुत अच्छे बच्चे हैं।

    https://www.instagram.com/p/Bok2EuBgDy8/?taken-by=arjunkapoor

    क्या आप कभी वापस जाकर कुछ चीजों को बदलना चाहेंगे ?

    यह बहुत दुखद है कि हम सब ऐसी परिस्थितियों में मिले हैं। काश उनको इन सब से न गुज़ारना पड़ता। मैं  दुनिया में किसी के लिए भी यह नहीं चाहता। क्योंकि मैंने खुद यह देखा है।

    यह कमर तोड़ देने वाले अनुभव हैं जो आपकी आत्मा तक को हिला देते हैं। अभी उन्हें ठीक होने में समय लगेगा। ऐसी परिस्थितियों में उन्हें जानना मेरे लिए एक अलग अनुभव है। मुझे यह एहसास हुआ है कि जीवन में शुक्रवार से ज्यादा भी कुछ है।

    क्या आप जान्हवी को करियर से जुड़ी हुयी सलाह देते हैं ?

    मैं हमेशा उसे कहता हूँ कि काम से जुड़ी आलोचनाएं हमेशा आती रहती हैं, तुम्हे यह विनम्रता से स्वीकार करना चाहिए। दर्शक कुछ देखने के लिए पैसे दे रहे हैं और अगर उन्हें पसंद नहीं आता है तो हमको उसे सुधारने और सिखने के लिए जरूर कोशिश करनी चाहिए।

    यदि जान्हवी के कपड़ों के बारे में कोई गलत बातें करता है तो आप हमेशा उसको मुहतोड़ जवाब देते है। क्या यह आपमें बरबस ही आता है ?

    अगर कोई गलत बात करता है तो मुझे बर्दाश्त नहीं होता पर यह लोग यही चाहते हैं। यह सब करके आप उनके मन का कर रहे होते हैं क्योंकि गलत बाते लिख कर लोग सबका ध्यान अपनी ओर अकार्षित करना चाहते हैं।

    By साक्षी सिंह

    Writer, Theatre Artist and Bellydancer

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *