Mon. Oct 3rd, 2022
    राजनाथ सिंह और शिंजो आबे

    केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को जापान के प्रधानमन्त्री शिंजो आबे से मुलाकात की थी और बताया कि जम्मू कश्मीर पर पाकिस्तान को सुने जाने का अधिकार नहीं है। यह राज्य भारत का आंतरिक मामला है। उन्होंने आबे को बताया कि जम्मू कश्मीर से विशेष दर्जे को हटाने का निर्णय राज्य के तहत है और यह उनकी अवाम के लिए दुरुस्त होगा।”

    इस मुलाकात एक दौरान राजनाथ सिंह ने जापानी विदेशी मंत्री से कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद का अंत करना होगा और अपनी सरजमीं से उखाड़कर फेंकना होगा और इसके बाद ही इस्लामाबाद के सतह पाकिस्तान वार्ता करेगा।

    राजनाथ सिंह पांच पूर्वी एशियाई मुल्को की यात्रा पर गए हैं जिसकी पहली यात्रा पर वह जापान पंहुचे हैं। इसके बाद वह दक्षिण कोरिया की यात्रा पर जायेंगे और इसका मकसद रक्षा और सैन्य संबंधो को मज़बूत करना होगा। रक्षा मंत्री 2 और 3 सितम्बर को जापान की यात्रा पर होंगे।

    सिंह ने कहा कि “प्रधानमन्त्री शिंजो आबे के भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी के साथ निरंतर समपर्क में रहते हैं। जिहोने भारत और जापान की साझेदारी को विशेष, रणनीतिक और वैश्विक साझेदारी करार दिया है। इसने हमारे रक्षा सहयोग में एक नई रणनीतिक गहराई को जोड़ा है।”

     

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.