गुरूवार, फ़रवरी 27, 2020

गोल्ड कप 2019: नेपाल की टीम ने भारत को 2-1 से दी मात

Must Read

दिल्ली हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल: “पुलिस स्थिति संभालने में विफल, सेना को बुलाया जाए”

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज सुबह कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी हिस्से में...

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक...
अंकुर पटवाल
अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

सोमवार को भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में हीरो गोल्ड कप में भारत और नेपाल की टीम आमने सामने थी। नेपाल की टीम ने इस मैच में भारतीय महिला फुटबॉल टीम को इस मैच में 2-1 से शिकस्त दी।

नेपाल की तरफ से सबित्रा भंडारी ने खेल के 5वें और 7वें मिनट में अपनी टीम के लिए गोल लगाकर नेपाल को मैच में जल्द बढ़त दर्ज करवा दी। भारत की टीम से रतनबाला ने 73वें मिनट में फ्री-किक में गोल लगाया, जिसके बाद टीम की जीतने की थोड़ी उम्मीद जगी लेकिन विपक्षी टीम का डिफेंस भी बहुत मजबूत था, जिसके चलते भारतीय टीम मैच में कोई औऱ गोल नही कर पायी।

दिन के पहले मैच में म्यांमार ने ईरान को 2-0 से हराया और अब दो मैचों में छह अंक के साथ शीर्ष पर है। भारत और नेपाल के तीन-तीन अंक हैं।ट

मुख्य कोच मेयमोल रॉकी सामान्य टीम के साथ मैदान में उतरे थे, जिस टीम ने शनिवार को ईरान को 1-0 से मात दी थी।

मैच भारत के लिए एक भयानक शुरुआत के रूप में बंद हो गया क्योंकि नेपाल ने शुरुआती झटके, खराब बचाव और खराब गोलकीपिंग का पूरा फायदा उठाया।

हाफ लाइन की तरफ से हीरा कुमारी की एक गेंद को स्ट्राइकर सबित्रा भंडारी ने पांचवें मिनट में भारतीय डिफेंस को पीछे छोड़ा। नेपाल के नौवें नंबर के खिलाड़ी ने स्वीटी देवी को रफ्तार में हराकर बॉक्स में प्रवेश किया और गोल दाग दिया। गोलकीपर अदिति चौहान ने अपना बायां हाथ गेंद से जोड़ा, लेकिन उसे जाल में फंसने से नहीं रोका जा सका।

उसके दो मिनट बाद ही मेहमान टीम ने अपनी लीड को डबल कर दिया। अंजू तमांग बॉक्स के अंदर एक ढीली गेंद को साफ करने में नाकाम रही और मनमाया लिम्बु ने गोल की ओर गेंद को भेजने से पहले गेंद को बाइलाइन पर ले जाकर पटक दिया। अदिति ने पास की चौकी पर क्रॉस फेंका, जिससे सबित्रा को खाली नेट में गेंद को टैप करने की अनुमति मिली।

भारत ने पहले हाफ में संभावनाएं बनाने के लिए संघर्ष किया और तीसरे में हमला करने के लिए जो कुछ भी पैदा कर सका, उसे बदलने में नाकाम रहे। जबामानी टुडू के क्रॉस ने 38 वें मिनट में अंजू को बॉक्स के केंद्र में मुक्त पाया, लेकिन फॉरवर्ड शॉट चौड़ा था।

पहले हाफ में भारत की टीम कोई भी गोल मारने में कामयाब नही हो पाई। जिसके बाद पहले हाफ के अंत तक स्कोर 2-0 था। दूसरे हाफ में भी भारत की टीम ज्यादा नियंत्रण में नही दिख रही थी और नेपाल की टीम नें मैच मे मजबूत पकड़ बन रखी थी। 73वें मिनट में रतनबाला ने टीम के लिए फ्री-किक लेते हुए गोल लगाया। जिसके बाद टीम के पास मैच में बराबरी करने का मौका था लेकिन टीम नेपाल के मजबूत डिफेंस के सामने ऐसा करने में नाकाम रही और मैच में 2-1 से हार का सामना करना पड़ा।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल: “पुलिस स्थिति संभालने में विफल, सेना को बुलाया जाए”

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज सुबह कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी हिस्से में...

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के लिए 5-6 फिल्मों को अस्वीकार...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक लोगों, ज्यादातर महिलाओं ने शनिवार...

‘हैदराबाद में शाहीन बाग जैसे विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी’: पुलिस आयुक्त

हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अंजनी कुमार ने शनिवार को कहा कि शहर में "शाहीन बाग़ जैसा" विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी। उनका...

निर्भया मामला: आरोपी विनय नें खुद को चोट पहुंचाने की की कोशिश, इलाज के लिए माँगा समय

2012 में दिल्ली में हुए निर्भया मामले (Nirbhaya Case) में चार आरोपियों में से एक विनय नें आज जेल की दिवार से खुद को...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -