Fri. Apr 19th, 2024
    गुजरात सम्मेलन

    वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट का आयोजन 18-20 जनवरी को आयोजित होगा, साल 2013 के बाद पहली बार पक्सितन`पाकिस्तान के प्रतिनिधियों का इस सम्मेलन में आगमन का सूचना है। खबर के मुताबिक पाकिस्तान के विभिन्न इलाकों से साथ प्रतिनिधियों के आने की उम्मीद हैं।

    इस सम्मेलन में पाकिस्तान के फैसलाबाद से दो और इस्लामाबाद, कराची, पेशावर, पंजाब और खैबर पख्तुन्वा से एक -एक कारोबारी प्रतिनिधियों के आने की उम्मीद हैं। हालांकि राज्य सरकार ने इस पर कोई प्रतिक्रिया जाहिर नहीं की है। इस सम्मेलन के दौरान एक ग्लोबल कॉन्क्लेव ऑफ़ इंटरनेशनल चैम्बर्स का भी आयोजन होता है, इसमें पाकिस्तानी प्रतिनिधि भी भाग ले सकते हैं।

    इस कार्यक्रम में विभिन्न देशों के 52 कारोबारी प्रतिनिधि शामिल होंगे। इससे पूर्व साल 2013 में कराची चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री का 22 सदस्यीय प्रतिनिधि समूह गुजरात आया था। इस आयोजन से पूर्व पाकिस्तानी प्रतिनिधियों ने 10 जनवरी को आयोजित खरोद-फरोख्तकरों के समारोह में भी शिरकत की थी।

    इस सम्मेलन के बीच आठ जनवरी को जम्मू कश्मीर में पाकिस्तानी सैनिकों ने दो भारतीय फौजियों की हत्या कर दी थी, जिसके कारण यह प्रतिनिधि समूह बिना आयोजन में शरीक हुए वापस पकिस्तान लौट गया था। इसके बाद दोनों राष्ट्रों के मध्य बरक़रार रहने से पाकिस्तान कभी इस आयोजन में शरीक नहीं हो पाया था।

    इस कार्यक्रम का आयोजन गुजरात चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की सहायता से आयोजित किया जाता है। गुजरात चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की अध्यक्ष डॉक्टर

    जैमिन वासा ने कहा कि “सिर्फ पक्सितन नहीं, बल्कि 45 देशों से 52 चैम्बर इसमें शरीक हो रहे हैं। हमें इसकी चिंता नहीं है कि वह कहाँ से आ रहे हैं। हम व्यापार संघों की तलाश कर रहे हैं। इस सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य व्यापार नीतियों पर चर्चा और सर्वश्रेष्ठ उद्यम है।”

    पाकिस्तान के आलावा इस सम्मेलन में चीन, श्रीलंका, नेपाल और भूटान के प्रतिनिधियों के शरीक होने की पुष्टि कर दी गयी है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *