बुधवार, अक्टूबर 16, 2019

क्रेडिट कार्ड कैसे बनवाएं? पूरी जानकारी

Must Read

पुलिस महज चालान काटने को लक्ष्य न बनाए, यातायात पर जागरूकता भी फैलाए : योगी

लखनऊ , 16 अक्टूबर (आईएएन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि थोड़ी सी जागरूकता और...

दुधवा : हादसों से सर्तक प्रशासन इस बार बांड भराकर पर्यटक को देगा प्रवेश

लखीमपुर,16 अक्टूबर (आईएएनएस)। जंगल भ्रमण के दौरान होने वाले हादसों को लेकर दुधवा नेशनल पार्क अब सर्तकता बरतने जा...

मप्र को चील-कौवों की तरह नोंचने में लगे मंत्री : शिवराज

इंदौर, 16 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार के मंत्रियों...
पंकज सिंह चौहान
पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

वह जमाना पुराना था, जब हमें कुछ भी खरीदने के लिए नोटों की गड्डी या सिक्कों का भंडार ले जाना पड़ता था। आजकल डिजिटल पेमेंट के दौर में क्रेडिट कार्ड एक बहुत जरूरी उपकरण है, जो हमारी दिनचर्या को काफी हद तक आसान बनाता है।

क्रेडिट कार्ड आज ना सिर्फ कैश का एक विकल्प है, बल्कि यह लेन-देन को काफी आसान और आकृषित बनाता है। इस लेख में हम क्रेडिट कार्ड से जुड़ी सारी जानकारी पर चर्चा करेंगे। इसके बाद भी यदि आपके मन में कोई सवाल है, तो आप नीचे कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड कैसे काम करता है? (how to use credit card in hindi)

क्रेडिट कार्ड के जरिये आप खाते में बिना पैसों के भी भुगतान कर सकते हैं। ऐसे में क्रेडिट कार्ड से भुगतान एक तरह का लोन (ऋण) होता है, जो बाद में आपको चुकाना होता है। यदि आप एक निश्चित समय सीमा से पहले यह लोन चुका देते हैं, तो ठीक है अन्यथा आपको इसपर ब्याज देना होगा।

यदि आप समय-समय पर क्रेडिट कार्ड का भुगतान कर देते हैं, तो आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा रहता है। क्रेडिट स्कोर अच्छा होनें की स्थिति में आपको बहुत सी सुविधाएं मिलती है। जैसे, आपको बड़ी आसानी से बैंक से लोन मिल जाता है। इसके अलावा भी कई क्षेत्रों में बैंक आपको सुविधाएं मुहैया कराता है।

क्रेडिट कार्ड का भुगतान ना करने पर आपको बकाया राशी पर ब्याज देना होगा। जितनी भी राशी बकाया होगी, ब्याज सिर्फ उसपर लगेगा। ऐसे में क्रेडिट कार्ड लेते समय आप विभिन्न ब्याज दरों के बारे में जानकारी हासिल कर लें। कई क्रेडिट कार्ड कम ब्याज दर के भी होते हैं।

क्रेडिट कार्ड मिलने पर कार्ड पर एक 16 अंकों का नंबर होगा, जो काफी महत्वपूर्ण है। इन नंबरों में काफी महत्वपूर्ण जानकारी छुपी हुई होती है, जो आपकी पहचान को गुप्त रखती है। इसके अलावा एक सीवीवी (cvv) नंबर होता है, जो भुगतान के समय जरूरी होता है।

क्रेडिट कार्ड के फायदे (benefits of credit card in hindi)

एक क्रेडिट कार्ड होनें के ढेरों फायदे हैं। जैसे, आपको ज्यादातर जगह इसे भुगतान करने पर आकृषित ऑफर मिल सकते हैं। इसके अलावा यदि आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा है, तो आप विभिन्न वित्तीय सेवाओं में फायदा मिलेगा।

यहाँ हम क्रेडिट कार्ड के कुछ मुख्य फायदों के बारे में चर्चा करेंगे:

  • क्रेडिट कार्ड कैश की समस्या को खत्म करता है। इसका मतलब आपको हर चीज खरीदने के लिए नोटों को गिनकर नहीं ले जाना होगा। सिर्फ एक क्रेडिट कार्ड से हर प्रकार का लेन-देन जा सकता है।
  • क्रेडिट कार्ड से शौपिंग करने पर आपके हर लेन-देन का हिसाब बैंक रखता है। ऐसे में महीनें के अंत में यदि आप हिसाब रखना चाहते हैं, तो यह काफी फायदेमंद होगा।
  • क्रेडिट कार्ड की मदद से आपकी क्रेडिट हिस्ट्री तैयार होती है। यदि आपका रिकॉर्ड अच्छा होता है, तो आपको कई सेवाओं में छूट मिलती है।
  • बैंक में पैसे ना होनें पर भी आप कोई जरूरी लेन-देन कर सकते हैं। इसके बाद भी आपको एक ग्रेस पीरियड यानी समय सीमा मिलती है, जिसके भीतर आप आसानी से बिना कोई ब्याज दिए पैसे लौटा सकते हैं।
  • क्रेडिट कार्ड की मदद से आप ना सिर्फ घरेलु करेंसी में, बल्कि विदेशी करेंसी में भी भुगतान कर सकते हैं। ऐसे में यदि आप विदेश से कुछ मंगवा रहे हैं, तो आपको उसमे मदद मिलेगी।
  • लगातार शौपिंग करनें से आपको ढेरों कैश-बैक, ऑफर, मूवी टिकट, किराये में छूट आदि फायदे मिलते हैं।
  • कुछ महत्वपूर्ण चीज खरीदने पर किश्त (ईएमआई) भरने का भी विकल्प आपके पास रहता है। यानी, आप एक बड़ी राशी छोटी-छोटी किश्तों में चुका सकते हैं। अच्छी बात तो यह है, कि ज्यादातर मामलों में तो आपको कोई ब्याज भी नहीं देना होता है।
  • यदि आप बाद में क्रेडिट कार्ड की लिमिट को बढ़ाना चाहते हैं, तो आप ऐसा कर सकते हैं। आप अपने साधारण कार्ड को गोल्ड या प्लैटिनम कार्ड में तब्दील कर सकते हैं। इसमें आपको खर्च करने के लिए ज्यादा लिमिट मिलती है।

क्रेडिट कार्ड के लिए जरूरी मापदंड (rules for credit card in hindi)

बैंक हर व्यक्ति को क्रेडिट कार्ड जारी नहीं करते हैं। आपको कुछ मापदंडों का पालन करना होगा, जिसके बाद आप क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करने में योग्य होंगें।

क्रेडिट कार्ड पाने के निम्न शर्तें जरूरी हैं:

  • आपकी उम्र कम से कम 18 साल हो।
  • आपके नाम से कम से कम एक बचत खाता हो।
  • आप कोई नौकरी करतें हो, और आपकी निरंतर कमाई का कोई साधन हो।
  • आपकी क्रेडिट हिस्ट्री अच्छी हो।

यदि आप इन सभी मापदंडों का पालन करते हैं, तो ही आप क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए आगे बढें।

क्रेडिट कार्ड कैसे बनवायें? (how to make credit card in hindi)

अब चूंकि आपनें क्रेडिट कार्ड के फायदे जान लिए हैं, तो हम आपको बतायेंगे, कि किस तरह आप क्रेडिट कार्ड के लिए बैंक में अप्लाई कर सकते हैं?

भारत में लगभग हर बैंक क्रेडिट कार्ड जारी करता है। आप अपनी क्षमता और जरूरत के अनुसार किसी भी बैंक के क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं। क्रेडिट कार्ड बनवाने से पहले उसके नियम और शर्तें अच्छे से पढ़ लें, और जान लें कि क्रेडिट कार्ड किस तरह काम करता है।

  • सबसे पहले, यह विभिन्न बैंकों के क्रेडिट कार्ड के बारे में जरूरी जानकारी प्राप्त कर लें।
  • इसके बाद आपको क्रेडिट कार्ड के लिए एप्लीकेशन भरकर उसे जमा करना होगा।
  • अब आपको निम्नलिखित दस्तावेज जमा कराने होंगे:
    1. इनकम यानी कमाई का सबूत
    2. बैंक लेन-देन का इतिहास
  • जब बैंक को आपकी जानकारी मिल जायेगी, वे आपके कागजों की समीक्षा करेंगे।
  • यदि सारी जानकारी सही होती है, तो बैंक आपके लिए क्रेडिट कार्ड जारी कर देगा, जो 3-4 सप्ताह में आप तक पहुँच जाएगा।
  • कार्ड मिलने पर ध्यान रहे, कि आप कार्ड के पीछे अपना हस्ताक्षर कर दें। यह इसकी पुष्टि करने के लिए जरूरी होता है।

विभिन्न प्रकार के क्रेडिट कार्ड (different types of credit card in hindi)

भारत में लगभग हर बड़ा बैंक क्रेडिट कार्ड जारी करता है। इनमें निम्न बैंक शामिल हैं:

  • अमेरिकन एक्सप्रेस क्रेडिट कार्ड (american express card)
  • एसबीआई क्रेडिट कार्ड (sbi credit card)
  • एचडीएफसी बैंक क्रेडिट कार्ड (hdfc credit card)
  • आईसीआईसीआई क्रेडिट कार्ड (icici credit card)
  • एक्सिस बैंक क्रेडिट कार्ड (axis bank credit card)
  • कोटक महिंद्रा क्रेडिट कार्ड (kotak mahindra credit card)
  • इंडसलैंड बैंक क्रेडिट कार्ड (indusland bank credit card)
  • सिटीबैंक क्रेडिट कार्ड (citibank credit card)
  • आरबीएल क्रेडिट कार्ड (rbl bank credit card)

क्रेडिट कार्ड के नुकसान (disadvantage of credit card in hindi)

क्रेडिट कार्ड के हालाँकि नुकसान इतनें नहीं है, जितने इसके फायदे हैं। फिर भी कई लोगों के लिए क्रेडिट कार्ड लेना सही फैसला नहीं होता है।

यहाँ हम क्रेडिट कार्ड से जुड़े कुछ संभवतः नुकसान के बारे में आपसे चर्चा करेंगे:

  • सही समय पर पैसा ना लौटाने पर भारी ब्याज देना पड़ सकता है। ऐसे में यदि कभी आपकी सैलरी आने में कोई विलम्ब होता है, तो आपके लिए मुसीबत खड़ी हो सकती है।
  • ब्याज दर कभी भी बढ़ सकती है। ऐसे में आपका इसपर कोई नियंत्रण नहीं होगा, और आपको बैंक के निर्देश मानने होंगे।
  • कई बार क्रेडिट कार्ड से भुगतान करनें पर आपको अतिरिक्त राशि चुकानी पड़ सकती है।
  • क्रेडिट कार्ड चोरी या गुम हो सकता है।
  • लगातार क्रेडिट सही समय पर ना भरनें से आपकी क्रेडिट हिस्ट्री ख़राब हो सकती है, जो बाद में आपको परेशान कर सकती है।

क्रेडिट कार्ड से जुड़े जरुरी सवाल

1. क्या क्रेडिट कार्ड से एटीएम से पैसे निकल सकते हैं?
उत्तर. बैंक पहले यह विकल्प नहीं देते थे। अब हालांकी, कई बैंकों नें यह सेवा शुरू कर दी है। आप हर महीनें एक निश्चित राशि एटीएम से निकाल सकते हैं। इसमें ध्यान रहे, कि एटीएम से पैसे निकालने पर आपको अतिरिक्त चार्ज देना पड़ सकता है। ऐसे में पैसे निकालनें के लिए डेबिट कार्ड का ही इस्तेमाल करें।

2. क्या क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ाई जा सकती है?
उत्तर. क्रेडिट कार्ड की लिमिट बिलकुल बधाई जा सकती है। इसके लिए बैंक आपके भुगतान की हिस्ट्री की जांच करेंगे, और यदि आपने हर बार समय पर भुगतान किया है, तो वे आपकी क्रेडिट लिमिट को बढ़ा देंगें।

3. क्या सभी क्रेडिट कार्ड पर सालाना चार्ज देना होता है?
उत्तर. ऐसा जरूरी नहीं है। बेसिक क्रेडिट कार्ड पर आपको कोई अतिरिक्त चार्ज नहीं देना होता है। यदि आप कोई विशेष कार्ड लेना चाहते हैं, तो आपको अतिरिक्त चार्ज देना पड़ सकता है। पर इसमें आपको कई अन्य सेवाएं भी उपलब्ध कराई जाएंगी।

यह भी पढ़ें: ऑनलाइन पैसा कमाने के तरीके

- Advertisement -

34 टिप्पणी

    • इन तीनों ही बैंकों के क्रेडिट कार्ड लाभदायक हो सकते हैं. आप जाकर तीनों बैंकों की वेबसाइट से उनके क्रेडिट कार्ड के नियम और शर्तें पढ़ सकते हैं. जो बेहतर लगे, वह चुनें.

    • सभी क्रेडिट कार्ड अच्छे रहते हैं। ये आप पर निर्भर करता है, आपको क्या फैसिलिटी चाहिए।

    • सभी बैंकों के क्रेडिट कार्ड अच्छे हैं. ये सभी बैंक प्राइवेट हैं और अच्छी सेवाएं देते हैं. आप अपनी सैलरी और जरूरत के हिसाब से क्रेइद्त कार्ड बनवा सकते हैं?

    • वैसे तो सभी क्रेडिट कार्ड अच्छे होते हैं. लेकिन कम सैलरी के लिए आप एसबीआई बैंक का क्रेडिट कार्ड ले सकते हैं.

    • आप sbi या अन्य किसी सरकार बैंक का क्रेडिट कार्ड देख सकते हैं. ये बैंक कम सैलरी पर भी कार्ड दे देते हैं.

    • ऑनलाइन शौपिंग के लिए आप कोई प्राइवेट बैंक का क्रेडिट कार्ड लें. जैसे axix बैंक या फिर citi बैंक आदि.

    • यदि आप एसबीआई का उन्नति कार्ड बना चाहते हैं, तो आपको बैंक से संपर्क करना चाहिए।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

पुलिस महज चालान काटने को लक्ष्य न बनाए, यातायात पर जागरूकता भी फैलाए : योगी

लखनऊ , 16 अक्टूबर (आईएएन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि थोड़ी सी जागरूकता और...

दुधवा : हादसों से सर्तक प्रशासन इस बार बांड भराकर पर्यटक को देगा प्रवेश

लखीमपुर,16 अक्टूबर (आईएएनएस)। जंगल भ्रमण के दौरान होने वाले हादसों को लेकर दुधवा नेशनल पार्क अब सर्तकता बरतने जा रहा है। 15 नवंबर से...

मप्र को चील-कौवों की तरह नोंचने में लगे मंत्री : शिवराज

इंदौर, 16 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार के मंत्रियों की तुलना चील, कौवों से...

फुटबाल : इंजुरी टाइम में गोल कर स्पेन ने यूरो-2020 के लिए किया क्वालीफाई

स्टॉकहोम (स्वीडन), 16 अक्टूबर (आईएएनएस)। तीन बार की चैंपियन स्पेन ने ग्रुप-एफ में मेजबान स्वीडन के खिलाफ खेले गए मैच के इंजुरी टाइम में...

महिला फुटबाल : भारत ने जीता सैफ अंडर-15 महिला चैंपियनशिप खिताब

थिम्पू (भूटान), 16 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारतीय महिला फुटबाल टीम ने यहां बांग्लादेश को पेनल्टी शूटआउट में 5-3 से हराकर अंडर-15 महिला फुटबाल चैंपियनशिप का...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -