Tue. May 28th, 2024
    दिल्ली में तीन मूर्ति भवन परिसर में स्थित प्रधानमंत्री संग्रहालय भारत के सभी प्रधानमंत्रियों के योगदान को मान्यता प्रदान करता है।

    दिल्ली में तीन मूर्ति भवन परिसर में स्थित प्रधानमंत्री संग्रहालय भारत के सभी प्रधानमंत्रियों के योगदान को मान्यता प्रदान करता है। यह एक नया डिजिटल संग्रहालय है जो दो इमारतों में फैला हुआ है। पहली इमारत में पुरानी तीन मूर्ति इमारत, श्री जवाहरलाल नेहरू की गैलरी, संविधान गैलरी, तोशखाना और श्री जवाहरलाल नेहरू की निजी शाखा शामिल है। दूसरी इमारत श्री लाल बहादुर शास्त्री से लेकर डॉ. मनमोहन सिंह तक के बाद के प्रधानमंत्रियों के सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक सुधारों के साथ-साथ व्यक्तिगत जीवन को भी प्रदर्शित करती है।

    प्रधानमंत्री संग्रहालय में कुल 43 गैलरी हैं। प्रत्येक गैलरी भारत के प्रधानमंत्री के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान उनके द्वारा किए गए योगदान पर प्रकाश डालती है। उदाहरण के लिए, जवाहरलाल नेहरू की गैलरी उनके नेतृत्व में भारत की स्वतंत्रता और विकास की कहानी बताती है। इंदिरा गांधी की गैलरी उनके द्वारा किए गए सामाजिक सुधारों, जैसे कि बार्डोली आंदोलन और भूमि सुधारों पर ध्यान केंद्रित करती है। और नरेंद्र मोदी की गैलरी उनकी आर्थिक विकास, बुनियादी ढांचा विकास और सामाजिक कल्याण पहलों पर उपलब्धियों को प्रदर्शित करती है।

    प्रधानमंत्री संग्रहालय ‘अनुभूति’ नामक एक आगंतुक सहभागिता क्षेत्र से सुसज्जित है, जहां आगंतुक ‘प्रधानमंत्री के साथ सेल्फी’, ‘प्रधानमंत्री के साथ चलो’, ‘प्रधानमंत्री का पत्र’ और एक वर्चुअल हेलीकॉप्टर सवारी का विकल्प चुन सकते हैं। आगंतुक उस प्रधानमंत्री को चुन सकते हैं जिसके साथ वे सहभागिता क्षेत्र में सम्मिलित होना चाहते हैं। आगंतुक विज़न 2047 फीडबैक वॉल पर अपना प्रेरणादायक संदेश दर्ज करा सकते हैं और साथ ही ‘यूनिटी चेन’ में समूह में एक बड़ी दीवार पर अपनी उपस्थिति दर्ज कर सकते हैं।

    प्रधानमंत्री संग्रहालय एक अनोखा और आकर्षक अनुभव है जो भारत के लोकतांत्रिक इतिहास और संस्कृति को समझने का एक अनूठा अवसर प्रदान करता है। यह सभी उम्र के लोगों के लिए एक यात्रा है, और यह भारत के इतिहास और संस्कृति में रुचि रखने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए एक जरूरी है।

    यहाँ संग्रहालय के कुछ प्रमुख आकर्षणों पर एक नज़र है:

    • प्रधानमंत्री गैलरी : यह गैलरी भारत के सभी प्रधानमंत्रियों के जीवन और कार्यों को समर्पित है। प्रत्येक गैलरी में व्यक्तिगत वस्तुओं, चित्रों, और दस्तावेजों का प्रदर्शन है जो प्रत्येक प्रधानमंत्री के जीवन और समय को दर्शाते हैं।
    • अनुभूति : यह आगंतुक सहभागिता क्षेत्र आगंतुकों को भारत के प्रधानमंत्रियों के साथ बातचीत करने का एक अवसर प्रदान करता है। आगंतुक ‘प्रधानमंत्री के साथ सेल्फी’, ‘प्रधानमंत्री के साथ चलो’, ‘प्रधानमंत्री का पत्र’ और एक वर्चुअल हेलीकॉप्टर सवारी का विकल्प चुन सकते हैं।
    • विज़न 2047 फीडबैक वॉल : यह दीवार आगंतुकों को भारत के लिए अपने विज़न को साझा करने का एक अवसर प्रदान करती है। आगंतुक दीवार पर अपना प्रेरणादायक संदेश लिख सकते हैं।
    • यूनिटी चेन : यह दीवार एक बड़ी दीवार है जिसमें समूह में लोगों की उपस्थिति दर्ज की जाती है। आगंतुक दीवार में शामिल होने के लिए एक तस्वीर या वीडियो पोस्ट कर सकते हैं।
    One thought on “क्या है प्रधानमंत्री संग्रहालय की विशेषताएं? यहां पढ़ें!”

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *