Sun. Jun 23rd, 2024
    ऑगमेंटेड रियलिटी augmented reality in hindi

    विषय-सूचि

    ऑगमेंटेड रियलिटी का मतलब? (augmented reality meaning in hindi)

    ऑगमेंटेड का मतलब होता है, किसी भी चीज को बढ़ाकर या बेहतर बनाकर दिखाना। रियलिटी होता है, सच्चाई।

    इसके अनुसार ऑगमेंटेड रियलिटी का मतलब होता है, किसी भी चीज को बेहतर बनाकर दिखाना, जिससे वह बिलकुल वास्तविक लगे।

    ऑगमेंटेड रियलिटी क्या है? (augmented reality definition in hindi)

    ऑगमेंटेड रियलिटी वर्चुअल रियलिटी का ही दूसरा रूप है, इस तकनीक में आपके आसपास के वातावरण से मेल खाता हुआ एक कंप्‍यूटर जनित वातावरण तैयार किया जा सकता हैं। (सम्बंधित: वर्चुअल रियलिटी (virtual reality in hindi))

    आसान भाषा में समझे तो आपके आसपास के वातावरण के साथ एक और आभासी दुनिया को जोडकर एक वर्चुअल सीन तैयार किया जाता है, जो देखने में वास्‍तविक लगता है।

    ये भी वर्चुअल रियलिटी के जैसे ही है पर ये आपको आपकी ही दुनिया में ही रख कर आपके नज़र को एडवांस बना देगा। यानि आप वास्तविक दुनिया और आभासी दुनिया बीच फर्क नहीं बता पाएंगे।

    ऑगमेंटेड रियलिटी कैसे काम करता है? (working of augmented reality in hindi)

    ऑगमेंटेड रियलिटी के काम करने का तरीक तीन चीज़ों पर निर्भर करता है।

    • मोशन ट्रैकिंग (motion tracking)– आप जब अपने फ़ोन का कैमरा चालू करते है तो कमरे के साथ गयरोस्कोप भी चालू रहता है। गयरोस्कोपे एक सेंसर होता है जो अमूमन हर फ़ोन में होता है। ये गयरोस्कोपे आप के फ़ोन की स्तिथि देख कर आपकी पोजीशन और आपका फ़ोन कितनी डिग्री पर झुका है ये सब जान लेता है। इससे ऑगमेंटेड रियलिटी को मोशन ट्रैकिंग में सहयता मिलती है।
    • लाइट एस्टिमेशन (light estimation)– आपके डिवाइस के सेंसर आस पास की मौजूद लाइट को माप लेता है। इससे वो ऑगमेंटेड रियलिटी के आकारों की परछाई भी बना लेता है। इससे ऑगमेंटेड रियलिटी के किरदार बिकुल असली जैसे ही लगते हैं।
    • फ्लैट सरफेस (flat surface)– वातावरण में फ्लैट सरफेस ढूंढ़ने के बाद ही ऑगमेंटेड रियलिटी आपने काम कर पाती है। अगर आप उबड़ खाबड़ जगह में इसका उपयोग करने की कोशिश करेंगे तो आप नाकाम रहेंगे। इसको फ्लैट सरफेस की जरुरत होती है ताकि वह अपना मॉडल स्थापित कर पाए और आपके साथ इंटरेक्शन कर पाए।

    ऑगमेंटेड रियलिटी का प्रयोग (uses of augmented reality in hindi)

    आज के समय में ऑगमेंटेड रियलिटी के प्रयोग कई क्षेत्रों में हो रहे हैं।

    डिजिटल गेंमिग-डिजिटल गेमिंग का ट्रेंड बहुत ही तेजी से प्रचलित हो रहा है। आज कल बच्चों के हाथ में खिलोने कम और गेम कंसोल ज्यादा देखने को मिलते हैं।

    augmented reality games in hindi

    (यहाँ दिखायी गयी विडियो में आप देख सकते हैं, कि किस प्रकार ऑगमेंटेड रियलिटी की मदद से विडियो गेम्स बिलकुल सच्चाई से प्रतीत होते हैं, और ऐसा लगा रहा है कि यह हमारे बिलकुल सामने चल रहा है)

    ये ट्रेंड काफी तेजी से बढ़ रहा है और सबको प्रभावित भी कर रहा है। ऐसे में गेमिंग में टेक्नोलॉजी के साथ गेम का भी विकास होने लगा है। अब लोग गेम को खेलना नहीं गेम को जीना चाहते है। ऐसे में गेम कंपनियां भी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर अपने ग्राहकों की मांग पूरा करने में लगी रहती है।

    ऐसी ही एक टेक्नोलॉजी है ऑगमेंटेड रियलिटी, जिसका गेम कंपनियां काफी तेज़ी से इस्तेमाल शुरू कर चुकी हैं। Pokemon Go इसका प्रमुख उदहारण है।

    शिक्षा– शिक्षा भी काफी तेज़ी से बदलने वाला क्षेत्र बन चूका है। शिक्षा में टेक्नॉलजी विषय को सरल बनाने का काम करती है। इससे छात्रों को आसानी होती है। आज कल प्रोजेक्टर, स्मार्ट क्लासेज का दौर है ऐसे में ऑगमेंटेड रियलिटी शिक्षा को और आसान बना देगी। कई जगह तो इसका इस्तेमाल भी शुरू हो  भी हो चूका है। भारत में इसको शिक्षा में इस्तेमालब के लिए अभी थोड़ा समय लगेगा।

    सैन्य प्रशिक्षण– सैन्य प्ररिक्षण में भी ऑगमेंटेड रियलिटी का प्रयोग होना शुरू हो गया है। युद्ध के अभ्यास में इसका उपयोग किया जाता है। सेना को एक वर्चुअल युद्ध का मैदान दिखा कर वहां की हर एक चीज़ से वाकिफ करा दिया जाता है। ऐसे में ये सेना के प्लानिंग का अहम भाग बन चूका है।

    इंजीनियरिंग डिजाइन– इंजीनियरिंग डिजाइन में ऑगमेंटेड रियलिटी  का प्रयोग मॉडल के रूप में किया जाता है। दरअसल , इससे पहले से ही पता चल जाता है की प्रोजेक्ट बनने के बाद कैसा दिखेगा। कोई भी सोसाइटी या कालोनी बासनी हो, ऑगमेंटेड रियलिटी की मदद से हर एक चीज़ की प्लानिंग की जा सकती है। इससे पूर्वानुमान लगाया जा सकता है की सोसाइटी या प्रोजेक्ट बनने के बाद कैसा दिखेगा।

    शॉपिंग– शॉपिंग के लिए ऑगमेंटेड रियलिटी का उपयोग बेहद नया है। इसका उपयोग प्रोडक्ट को अच्छी तरह समझाने के लिए किया जाता है। आज कल लोग कोई प्रोडक्ट को बिना परखे नहीं खरीदते। शॉपिंग कंपनियों ने इसका उपचार ऑगमेंटेड रियलिटी की सहयता से निकला। प्रोडक्ट को इससे अच्छी तरह दर्शया और उसके उपयोग बताये जा सकते है।

    चिकित्‍सा– चिकत्सा में इसका उपयोग नए डॉक्टर्स के परिक्षण के लिए किया जाता है। इससे मेडिकल के छात्रों को इलाज की विधियां और तरीके समझाये जाते हैं। इससे बिना किसे मुर्दा शरीर का इस्तेमाल किये बिना ही उपचार के तरीकों से छात्रों को परिचित कराया जाता है।

    ऑगमेंटेड रियलिटी का घर में इस्तेमाल (augmented reality at home in hindi)

    इसकी कई सारी एप्‍लीकेशन प्‍ले स्‍टोर पर उपलब्‍ध है अगर आप प्‍लेस्‍टोर पर ऑगमेंटेड रियलिटी सर्च करें तो आपको ढेर सारी एप्‍लीकेशन मिल जायेंगी। आप इन्हे अपने एंड्राइड फ़ोन से इस्तेमाल कर सकते हैं।

    वर्चुअल रियलिटी और ऑगमेंटेड रियलिटी में अंतर (difference between augmented reality and virtual reality in hindi)

    वर्चुअल रियलिटी और ऑगमेंटेड रियलिटी दोनों ही वर्चुअल होते हैं। वर्चुअल अर्थ का मतलब होता है, आभासी यानी अहसास होना।

    • वर्चुअल रियलिटी एक ऐसी टेक्नोलॉजी है जो वर्चुअल इमेज, वर्चुअल साउंड और दूसरी कई वर्चुअल्ली चीजें दिखाने के लिए काम आती है।
    • वर्चुअल रिएलिटी का अनुभव लेने के लिये दृष्टि और ध्वनि का प्रयोग किया जाता है।
    • वर्चुअल रिएलिटी के लिए एक वीआर हेडसेट की जरुरत होती है।
    • ऑगमेंटेड रियलिटी में आपके आसपास के वातावरण से मेल खाता हुआ एक कंप्‍यूटर जनित वातावरण तैयार किया जाता हैं।
    • ऑगमेंटेड रियलिटी आपके आस पास के वतावरण से इंटरैक्ट कर सकती हैं।
    • ऑगमेंटेड रियलिटी के लिए सिर्फ आपको अपने स्मार्ट फोन की जरुरत होती है।

    इस विषय से सम्बंधित यदि आपका कोई सवाल या सुझाव है, तो आप उसे नीचे कमेंट में लिखकर हमसे पूछ सकते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *