‘डूबती’ एयर इंडिया को सरकार से मिली 1 हज़ार करोड़ की मदद

एयर इंडिया

लगातार पैसे की कमी से जूझ रही सरकारी एयरलाइन कंपनी ‘एयर इंडिया’ को अब सरकार से वित्तीय मदद मिल गयी है। एक रिपोर्ट के अनुसार एयर इंडिया को सरकार से मदद के रूप में 1 हज़ार करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हुई है। इसी के बाद सरकार से 500 करोड़ रुपये की अगली किस्त भी जल्द ही एयर इंडिया को मिल जाएगी।

एयर इंडिया के अनुसार उसे सरकार से 3,500 करोड़ रुपये की कुल राशि मिलनी थी। जिसमें से एयर इंडिया को 3,000 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हो चुकी है। बाकी की बची 500 करोड़ की राशि भी जल्द ही एयर इंडिया को मिल जाएगी।

एयर इंडिया को यह राशि सॉवरेन गारंटी के एवज में मिली है।

मालूम हो कि एयर इंडिया पर तेल कंपनियों का 4,200 करोड़ रुपया बकाया है। इसी के चलते इस महीने की शुरुआत में ही तेल कंपनियों ने एयर इंडिया को तेल सप्लाइ बंद करने की धमकी भी दी थी। जिसके बाद एयर इंडिया ने कुल बकाया राशि का कुछ हिस्सा इन तेल कंपनियों को चुकाया था। पैसों की किल्लत के चलते एयर इंडिया अपने कर्मचारियों को नियमित रूप से सैलरी भी नहीं दे पा रही हैं

हाल ही में खबरें आ रहीं थी कि सरकार एयर इंडिया को बेंचना चाहती है, लेकिन फिलहाल कर्ज में डूबी एयर इंडिया के लिए कोई उपयुक्त खरीददार नहीं मिल पाया है

इसके पहले भी सरकार ने एयर इंडिया मदद की थी। तब एयर इंडिया ने सरकार से 980 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त की थी।

वहीं दूसरी ओर एयर इंडिया अपने खर्चों में कटौती करने की पुरजोर कोशिश कर रही है। इसी क्रम में एयर इंडिया ने अपनी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में चीज़ जैसी खाद्य सामग्री परोसने पर रोक लगा दी है। इसी के साथ अन्य केटरिंग खर्चों को घटाते हुए एयर इंडिया ने करीब 2.5 करोड़ रुपये की राशि बचा ली थी।

वहीं एयर इंडिया लंबी दूरी की यात्राओं में विमान की गति को कम रख रही है, इसी के साथ उड़ान के साथ विमान को भी हल्का बनाए रखने का प्रयास किया जा रहा है। एयर इंडिया इस तरह 1 साल में करीब 8,500 करोड़ रुपये के ईंधन की बचत कर लेना चाहती है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here