मंगलवार, दिसम्बर 10, 2019

उपमा अलंकार : परिभाषा एवं उदाहरण

Must Read

उन्नाव दुष्कर्म मामले में अदालत का फैसला सुरक्षित

दिल्ली की एक अदालत ने मंगलवार को उन्नाव दुष्कर्म मामले पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। यह मामला...

यस बैंक ने ब्रेच के प्रस्ताव पर फैसला टाला

यस बैंक ने मंगलवार को रहस्यमय निवेशक ब्रेच के प्रस्ताव पर फैसला टाल दिया।

अमिताभ बच्चन और सोनाक्षी सिन्हा बने ट्विटर के सबसे चर्चित सेलिब्रिटी

जैसे ही साल खत्म होने को आ रहा है, ट्विटर इंडिया ने अपनी साल के अंत की सूची जारी...
विकास सिंह
विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

इस लेख में हमनें अलंकार के भेद उपमा अलंकार के बारे में चर्चा की है।

अलंकार का मुख्य लेख पढ़नें के लिए यहाँ क्लिक करें – अलंकार किसे कहते है- भेद एवं उदाहरण

उपमा अलंकार की परिभाषा

जब किन्ही दो वस्तुओं के गुण, आकृति, स्वभाव आदि में समानता दिखाई जाए या दो भिन्न वस्तुओं कि तुलना कि जाए, तब वहां उपमा अलंकर होता है।

उपमा अलंकार में एक वस्तु या प्राणी कि तुलना दूसरी प्रसिद्ध वस्तु के साथ कि जाती है। जैसे :

उपमा अलंकार के उदाहरण

  • हरि पद कोमल कमल। 

ऊपर दिए गए उदाहरण में हरि के पैरों कि तुलना कमल के फूल से की गयी है। यहाँ पर हरि के चरणों को कमल के फूल के सामान कोमल बताया गया है। यहाँ उपमान एवं उपमेय में कोई साधारण धर्म होने की वजह से तुलना की जा रही है अतः यह उदाहरण उपमा अलंकार के अंतर्गत आएगा।

उपमा अलंकार के अंग

उपमा अलंकार के चार अंग होते हैं :

  • उपमेय
  • उपमान
  • साधारण धर्म, और
  • वाचक शब्द

उदाहरण : सागर-सा गंभीर हृदय हो, गिरी-सा ऊंचा हो जिसका मन 

उपमेय : जिस वस्तु या व्यक्ति के बारे में बात की जा रही है या जो वर्णन का विषय है वो उपमेय कहलाता है। ऊपर दिए गए उदाहरण में हृदय एवं मन उपमेय हैं।

उपमान : वाक्य या काव्य में उपमेय की जिस प्रसिद्ध वस्तु से तुलना कि जा रही हो वह उपमान कहलाता है। ऊपर दिए गए उदाहरण में सागर एवं गिरी उपमान हैं।

साधारण धर्म : साधारण धर्म उपमान ओर उपमेय में समानता का धर्म होता है। अर्थात जो गुण उपमान ओर उपमेय दोनों में हो जिससे उन दोनों कि तुलना कि जा रही है वही साधारण धर्म कहलाता है। ऊपर दिए गए उदाहरण में गंभीर एवं ऊँचा साधारण धर्म है।

वाचक शब्द : वाचक शब्द वह शब्द होता है जिसके द्वारा उपमान और उपमेय में समानता दिखाई जाती है। जैसे : सा।ऊपर दिए गए उदाहरण में ‘सा’ वाचक शब्द है।

उपमा अलंकार के कुछ अन्य उदाहरण

  • कर कमल-सा कोमल हैं। 

ऊपर दिए गए उदाहरण में कर अर्थात हाथ को कमल के सामान कोमल बताया गया है। वाक्य में दो वस्तुओं की तुलना कि गयी है अतः यह उदाहरण उपमा अलंकार के अंतर्गत आएगा।  इस उदाहरण में ‘कर’ – उपमेय है, ‘कमल’ – उपमान है, कोमल – साधारण धर्म है एवं सा – वाचक शब्द है। जैसा की हम जानते हैं की जब किन्ही दो वस्तुओं की उनके एक सामान धर्म की वजह से तुलना की जाती है तब वहां उपमा अलंकार होता है।

अतः यह उदाहरण उपमा अलंकार के अंतर्गत आएगा।

  • पीपर पात सरिस मन ड़ोला। 

ऊपर दिए गए उदाहरण में मन को पीपल के पत्ते कि तरह हिलता हुआ बताया जा रहा है। इस उदाहरण में ‘मन’ – उपमेय है, ‘पीपर पात’ – उपमान है, ‘डोला’ – साधारण धर्म है एवं ‘सरिस’ अर्थात ‘के सामान’ – वाचक शब्द है। जैसा की हम जानते हैं की जब किन्ही दो वस्तुओं की उनके एक सामान धर्म की वजह से तुलना की जाती है तब वहां उपमा अलंकार होता है।

अतः यह उदाहरण उपमा अलंकार के अंतर्गत आएगा।

  • मुख चन्द्रमा-सा सुन्दर है।  

ऊपर दिए गए उदाहरण में चेहरे की तुलना चाँद से की गयी है। इस वाक्य में ‘मुख’ – उपमेय है, ‘चन्द्रमा’ – उपमान है, ‘सुन्दर’ – साधारण धर्म  है एवं ‘सा’ – वाचक शब्द है।जैसा की हम जानते हैं की जब किन्ही दो वस्तुओं की उनके एक सामान धर्म की वजह से तुलना की जाती है तब वहां उपमा अलंकार होता है।

अतः यह उदाहरण उपमा अलंकार के अंतर्गत आएगा।

  • नील गगन-सा शांत हृदय था रो रहा। 

जैसा की आप ऊपर दिए गए उदाहरण में देख सकते हैं यहां हृदय की नील गगन से तुलना की गयी है। इस वाक्य में हृदय – उपमेय है एवं नील गगन – उपमान है शांत – साधारण धर्म है एवं सा – वाचक शब्द है। जैसा की हम जानते हैं की जब किन्ही दो वस्तुओं की उनके एक सामान धर्म की वजह से तुलना की जाती है तब वहां उपमा अलंकार होता है।

अतः यह उदारण उपमा अलंकार के अंतर्गत आएगा।

उपमा अलंकार से सम्बंधित यदि आपका कोई भी सवाल या सुझाव है, तो आप उसे नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

अन्य अलंकार

  1. अनुप्रास अलंकार
  2. यमक अलंकार
  3. उत्प्रेक्षा अलंकार
  4. रूपक अलंकार
  5. अतिशयोक्ति अलंकार
  6. मानवीकरण अलंकार
  7. श्लेष अलंकार
  8. यमक और श्लेष अलंकार में अंतर
- Advertisement -

16 टिप्पणी

    • उपमा अलंकार में वस्तु की किसी भी विशेषता की दूसरी वस्तु से तुलना की जाती है
      जैसे : कर कमल सा कोमल है
      इसमें पैरों के कोमल होने की विशेषता की कमल से तुलना की जा रही है क्योंकि कमल को बहुत कोमल माना जाता है।

      उपमा अलंकार और अनुप्रास अलंकार में इस तरह अंतर पता कर सकते हैं : अनुप्रास अलंकर में किन्हीं वर्णों की आवृति होती है लेकिन उपमा अलंकार में वर्णों की आवृति न होकर दो वस्तुओं की विशेषता की तुलना होती है। इस लिंक पर जाकर अनुप्रास अलंकार के बारे में पढ़ सकते हैं :
      https://hindi.theindianwire.com/अनुप्रास-अलंकार-43614/

    • कर कमल-सा कोमल हैं।
      मुख चन्द्रमा-सा सुन्दर है।
      हरि पद कोमल कमल। आदि सभी उपमा अलंकार के उदाहरण हैं।

  1. उपमा अलंकार के पाँच प्रकार होते है
    Purnopamaa alankaar
    Upmeya लुप्तोpmaa
    Upamaan लुप्तोpmaa
    धर्म लुप्तोpmaa
    वाचक लुप्तोपमा

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

उन्नाव दुष्कर्म मामले में अदालत का फैसला सुरक्षित

दिल्ली की एक अदालत ने मंगलवार को उन्नाव दुष्कर्म मामले पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। यह मामला...

यस बैंक ने ब्रेच के प्रस्ताव पर फैसला टाला

यस बैंक ने मंगलवार को रहस्यमय निवेशक ब्रेच के प्रस्ताव पर फैसला टाल दिया।

अमिताभ बच्चन और सोनाक्षी सिन्हा बने ट्विटर के सबसे चर्चित सेलिब्रिटी

जैसे ही साल खत्म होने को आ रहा है, ट्विटर इंडिया ने अपनी साल के अंत की सूची जारी की है, जो भारत में...

ईशा देओल की जीवनी

ईशा देओल भारतीय फिल्मो की जानी मानी अभिनेत्री हैं। ईशा ने हिंदी फिल्मो के अलावा तेलुगु, तमिल और कन्नड़ फिल्मो में भी अभिनय किया...

पहले गोल्डन ग्लोब के नामांकन में शामिल हुए किट हैरिंगटन

अभिनेता किट हैरिंगटन 'गेम ऑफ थ्रोन्स' के इकलौते ऐसे स्टार हैं, जिन्हें अगले साल के गोल्डन ग्लोब में नामांकन प्राप्त हुआ है, जिसके बाद...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -