Thu. Feb 29th, 2024
    डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन

    उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के मध्य सिंगापुर में मुलाकात के बाद, परमाणु निरस्त्रीकरण की वार्ता ठप पड़ी हुई है। डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार को कहा कि अमेरिका को उत्तर कोरिया के साथ वार्ता की कोई जल्दी नहीं है।

    डोनाल्ड ट्रम्प को जल्दबाजी नहीं

    डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट कर कहा कि कई लोग हमसे पूछते हैं कि उत्तर कोरिया के साथ हमारी बातचीत में क्या प्रगति हो रही है। उन्होंने कहा कि मे हमेशा जवाब देता हूँ कि मुझे उत्तर कोरिया से बातचीत की कोई जल्दी नहीं है, उस देश में आर्थिक सफलता हासिल करने का जज्बा है।

    डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि किम जोंग उन किसी दूसरे से बेहतर अपनी जनता के लिए फायदा उठा पायेंगे, हम अच्छा कर रहे हैं।

    सिंगापुर में डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन के शिखर सम्मेलन के बाद परमाणु निरस्त्रीकरण के मुद्दे को गति मिली थी। इस मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं ने शांतिपूर्ण संबंधों के सहमति दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किये थे। साथ ही पेनिन्सुला में परमाणु निरस्त्रीकरण के समझौते पर भी हस्ताक्षर किये थे।

    आगामी वर्ष होगी मुलाकात

    हाल ही में डोनाल्ड ट्रम्प ने एर्जेन्टीना में आयोजित जी- 20 की सभा में कहा था कि वह परमाणु निरस्त्रीकरण के मुद्दे पर प्रतिबद्ध है और आगामी वर्ष के शुरूआती दौर में किम जोंग के साथ मुलाकात करेंगे। हाल ही में ट्रम्प प्रशासन ने कहा था कि वह उत्तर कोरिया के प्रतिबंधों को पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण के बाद ही हटायेंगे लेकिन उत्तर कोरिया को हमारे प्रति जिम्मेदार होना होगा।

    अमेरिका और उत्तर कोरिया की सुलह के लिए चीन ने किया था आग्रह

    उत्तर कोरिया और अमेरिका के मध्य सुलह के लिए चीन ने बातचीत के लिए आग्रह किया था। चीनी राष्ट्रपति शी जिंगपिंग ने उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री से कहा कि उन्हें उम्मीद है कि दोनों राष्ट्र आपस में मिलेगे और अपनी वाजिब चिंताओं को साझा करेंगे।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *