Thu. Feb 9th, 2023
    उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन

    उत्तर कोरिया ने अमेरिका के हाल के प्रतिबंधों की निंदा की है। उत्तर कोरिया ने धमकी देते हुए कहा कि यह नीति पेनिन्सुला में परमाणु निरस्त्रीकरण के मार्ग को हमेशा के लिए बंद कर देगी। अमेरिका ने रविवार को उत्तर कोरिया के तीन वरिष्ठ अधिकारियों पर मानवधिकार उलंघन के कारण प्रतिबन्ध लगाये थे।

    अमेरिकी प्रतिबंधों ने उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन का राईट हैंड और अधिकारी चोए र्योंग हाय भी शामिल है।

    उत्तर कोरिया की चेतावनी

    बीबीसी के मुतबिक उत्तर कोरिया के अधिकारी ने कहा कि पियोंयांग के साथ अमेरिका के साथ रिश्तों को सुधारने के डोनाल्ड ट्रम्प के प्रयासों की उत्तर कोरिया सराहना करता है। लेकिन अमेरिका की इन हरकतों से दोनों राष्ट्रों के सम्बन्ध पिछले साल जैसे हो जायेंगे।

    उत्तर कोरिया के अधिकारी ने तीन अधिकारियों पर प्रतिबन्ध लगाने वाली नीति को उकसाने वाला करार दिया था। उन्होंने कहा कि अमेरिका को अगर यकीन है कि उत्तर कोरिया पर प्रतिबन्ध लगाने से और दबाव बनाने से परमाणु निरस्त्रीकरण कराने में वह सफल हो सकते हैं, तो वह बड़ी भूल में है। उन्होंने कहा कि अमेरिका का यह निर्णय परमाणु निरस्त्रीकरण के सभी मार्गों को बंद कर देगा।

    डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन के मध्य बीते जून में ऐतिहासिक मुलाकात हुई थी। इस दौरान दोनों नेताओं ने परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए प्रतिबद्धता दिखाई थी।

    अमेरिकी प्रतिबन्ध

    अमेरिका के प्रशासन ने कहा था कि उत्तर कोरिया के तीनों अधिकारीयों की सभी अमेरिकी संपत्ति को जब्त कर देंगे। अमेरिका ने आरोप लगाया कि उत्तर कोरिया के अधिकारियों ने अभिव्यक्ति की आज़ादी के अधिकार का हनन किया है। हालांकि अधिकारीयों पर अमेरिका के प्रतिबंधों का कोई खासा असर नहीं होगा।

    उत्तर कोरिया ने अमेरिका को प्रतिबंधों को हटाने के बाद ही परमाणु निरस्त्रीकरण का वादा किया था। जबकि अमेरिका पहले परमाणु निरस्त्रीकरण चाहता है, तब ही प्रतिबंधों को हटाने के बाबत सोचेगा।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *