ईयू से तलाक का निर्णय लेने क्या ब्रिटेन लेगा यू-टर्न, 10 दिसम्बर को होगी सुनवाई

ब्रिटेन की प्रधानमन्त्री थेरेसा मे

यूरोपीय संघ से तलाक लेने का निर्णय ब्रिटेन की प्रधानमन्त्री थेरेसा मे के गले की फांस बनता जा रहा है। यूरोपीय न्यायिक अदालत 10 दिसम्बर को ईयू से ब्रिटेन के अलग होने का निर्णय करेगा, इसमें ब्रिटेन के एकतरफा अलग होने के फैसले को वापस लेने के बाबत सुनवाई की जाएगी।

हाल ही में प्रधानमन्त्री थेरेसा मे की ब्रेक्सिट डील पर बातचीत पर सहमती के लिए संसद में प्रस्ताव रखा गया था। इस प्रस्ताव को विपक्षी दलों सहित सत्तासीन सरकार के सांसदों ने भी अस्वीकार कर दिया था। सब्साद के इस फैसले से थेरेसा मे के यूरोपीय संघ से अलग होने के ख्वाब को तगड़ा झटका लगा था।

ईयू की सलाह

यूरोपीय न्यायिक अदालत ने मंगलवार को एक इस मसले पर अपनी राय देते हुए कहा कि ब्रिटेन की सरकार अन्य सदस्य देशों की रजामंदी के बगैर ब्रेक्सिट को रोक सकती है। इससे उन लोगों की उम्मेदे बढ़ेगी जो इस प्रक्रोया से इत्तेफाक नहीं रखते हैं।

मंत्रियों का इस्तीफा

हाल ही में ब्रिटेन की प्रधानमन्त्री थेरेसा मे के इस्तीफे पर अटकले लगाई जा रही थी। थेरेसा मे के मंत्रियों के त्यागपत्र देने की फेरहिश्त बढ़ती जा रही है। हालांकि थेरेसा मे इस समझौते के लिए आखिर तक लड़ने का ऐलान कर चुकी है। मे ने 12 घंटे पूर्व ऐलान किया था कि उनके मंत्री ब्रेक्सिट के नियम व शर्तों के लिए तैयार है। लेकिन उसके बाद ही मंत्री डोमिनीक राब और इश्तहार मकवाय ने इस्तीफा दे दिया था।

इसके अलावा दो 4 अन्य मंत्री स्टार के लोगों ने इस्तीफा दे दिया था। मंत्रियों के इस निर्णय से थेरेसा मे की राह मुश्किल हो सकती है और मुमकिन है कि बिना किसी सुरक्षा के ईयू से ब्रिटेन को समझौता तोड़ना पड़े।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here