गुरूवार, फ़रवरी 27, 2020

आईपीएल 2019: भारतीय खिलाड़ियो को खुद अपने कार्यभार और फिटनेस पर नजर रखने की जरूरत है- सचिन तेंदुलकर

Must Read

दिल्ली हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल: “पुलिस स्थिति संभालने में विफल, सेना को बुलाया जाए”

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज सुबह कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी हिस्से में...

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक...
अंकुर पटवाल
अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

सचिन तेंदुलकर ने कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान कार्यभार प्रबंधन के लिए एक समान संरचना नहीं हो सकती है क्योंकि प्रत्येक खिलाड़ी की आवश्यकताओं का अलग-अलग सेट होगा।

अभी तक इस बात पर कई बार चर्चा हो चुकी है कि विश्व कप में शामिल होने वाले खिलाड़ी अपने कार्यभार को प्रभावी ढंग से प्रतिबंधित करेंगे क्योंकि आईपीएल एक बड़ा टूर्नामेंट है और यह खिलाड़ियो की मांग होती है, तो ऐसे में खिलाड़ियो को अपना अनसूचि खुद बनाकर चलनी होगी।

तेंदुलकर ने एक विशेष बातचीत के दौरान कहा, “विश्व कप से पहले तैयारी प्रत्येक खिलाड़ी के लिए अलग है और इसलिए उनका कार्यभार प्रबंधन भी अलग होगा।”

तेंदुलकर ने कप्तान विराट कोहली के साथ सहमति जताई, जिन्होंने हाल ही में कहा था कि खिलाड़ियों पर निर्भर है कि वे जिस तरह का भार उठा रहे हैं, वह किस तरह का है।

टेस्ट और वनडे इंटरनेशनल में दुनिया के सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं ने कहा, “मेरे लिए, गति महत्वपूर्ण है। प्रत्येक व्यक्ति को यह आकलन करने के लिए पर्याप्त स्मार्ट होना चाहिए कि क्या उसे ब्रेक लेना है या उसे चीजों की मोटी स्थिति में रहने के लिए गेम खेलने की आवश्यकता है। इसलिए यह जिम्मेदारी व्यक्तिगत रूप से है कि वह एक कॉल ले।”

फिर उन्होंने एक उदाहरण दिया कि विभिन्न खिलाड़ियों के लिए कार्यभार प्रबंधन कैसे भिन्न होगा।

जो आईपीएल की सबसे लोकप्रिय फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियंस के सलाहकार है उन्होने कहा, “तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का कार्यभार विराट कोहली जैसे शुद्ध बल्लेबाज और महेंद्र सिंह धोनी जैसे विकेटकीपर बल्लेबाज से बहुत अलग होगा। इन सभी खिलाड़ियों के पास काफी अनुभव है और वे निश्चित रूप से सही कॉल करेंगे।”

तेंदुलकर ने कहा कि कोहली ने कुछ दिनों पहले बेंगलुरु में मीडिया से बातचीत के दौरान क्या कहा था।

भारतीय कप्तान ने कहा था, “अगर मैं 10, 12 या 15 गेम नहीं खेल पा रहा हूं, तो इसका मतलब यह नहीं है कि दूसरा आदमी केवल इतने ही मैच खेल सकता है। मेरे शरीर ने कहा कि मैं एक निश्चित संख्या में इतने ही मैच खेल सकता हूं तो मैं होशियार रहूंगा और आऱाम लेने की सोचूंगा।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल: “पुलिस स्थिति संभालने में विफल, सेना को बुलाया जाए”

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज सुबह कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी हिस्से में...

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के लिए 5-6 फिल्मों को अस्वीकार...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक लोगों, ज्यादातर महिलाओं ने शनिवार...

‘हैदराबाद में शाहीन बाग जैसे विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी’: पुलिस आयुक्त

हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अंजनी कुमार ने शनिवार को कहा कि शहर में "शाहीन बाग़ जैसा" विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी। उनका...

निर्भया मामला: आरोपी विनय नें खुद को चोट पहुंचाने की की कोशिश, इलाज के लिए माँगा समय

2012 में दिल्ली में हुए निर्भया मामले (Nirbhaya Case) में चार आरोपियों में से एक विनय नें आज जेल की दिवार से खुद को...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -