गुरूवार, फ़रवरी 27, 2020

आईएमएफ से यह आखिरी आर्थिक मदद होगी: पाकिस्तानी वित्त मंत्री

Must Read

दिल्ली हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल: “पुलिस स्थिति संभालने में विफल, सेना को बुलाया जाए”

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज सुबह कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी हिस्से में...

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

आर्थिक तंगी की मार झेल रहे पाकिस्तान के वित्त मंत्री असद उमर ने कहा कि देश का अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष से बैलआउट पैकेज की यह मांग आखिरी बार होगी। कराची में भाषण के दौरान वित्त मंत्री ने कहा कि आइएमएफ का यह 13वां और आखिरी कार्यक्रम होगा।

हाल ही में पाकिस्तान के केन्द्रीय बैंक ने चेतावनी दी थी कि आगामी दिनों में महंगाई का स्तर दोगुना होकर लगभग 7.5 फीसदी हो जायेगा। जबकि 6.2 वृद्धि दर के तय मानक से पाकिस्तान चूक रहा है।

पाकिस्तान ने प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि आर्थिक विपदा से निपटने के लिए पाकिस्तान बैलआउट पैकेज के लिए आइएमएफ की शरण में जायेगा। हाल ही में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि आइएमएफ के दिए फंड से इस्लामाबाद का गुज़ारा नहीं हो पायेगा और उसे साथी देशों से सहायता लेनी पड़ेगी।

पाकिस्तानी वेबसाइट डॉन के मुताबिक वित्त मंत्री उम्र असद ने कहा कि सरकार बैंक घोटालों का खुलासा करेगी। सरकार को 210 मिलियन पाकिस्तानी नागरिकों की रक्षा करनी है।

आइएमएफ का प्रतिनिधित्व समूह बैलआउट पैकेज की बातचीत के लिए नवम्बर को इस्लामाबाद आएगा। साल 2013 में पाकिस्तान पर आये आर्थिक संकट के निपटान के लिए पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ ने भी आइएमएफ का दरवाजा खटखटाया था। उस समय आइएमएफ ने पाकिस्तान को 6.6 बिलियन डॉलर का कर्ज दिया था। तत्कालीन विपक्षी नेता इमरान खान ने इसका विरोध किया था।

अगस्त में पाकिस्तान की सत्ता की कमान सँभालने के बाद उन्होंने आर्थिक आपदा से उभरने के लिए बैलआउट पैकेज की मांग की साथ ही मित्र देशों सऊदी अरब और चीन से भी आर्थिक मदद की गुहार लगाई है।

इमरान खान की सरकार नें हाल ही में सऊदी अरब में आयोजित निवेश सम्मलेन में शरीक होने का ऐलान किया थासऊदी दूतावास में पत्रकार जमाल खाशोग्गी की हत्या होने के बाद अमेरिका सहित कई दिग्गज निवेशक कंपनियों ने इस आयोजन का बहिष्कार किया है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल: “पुलिस स्थिति संभालने में विफल, सेना को बुलाया जाए”

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज सुबह कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी हिस्से में...

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के लिए 5-6 फिल्मों को अस्वीकार...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक लोगों, ज्यादातर महिलाओं ने शनिवार...

‘हैदराबाद में शाहीन बाग जैसे विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी’: पुलिस आयुक्त

हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अंजनी कुमार ने शनिवार को कहा कि शहर में "शाहीन बाग़ जैसा" विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी। उनका...

निर्भया मामला: आरोपी विनय नें खुद को चोट पहुंचाने की की कोशिश, इलाज के लिए माँगा समय

2012 में दिल्ली में हुए निर्भया मामले (Nirbhaya Case) में चार आरोपियों में से एक विनय नें आज जेल की दिवार से खुद को...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -