Mon. Oct 3rd, 2022
    आँख लाल होने के घरेलु उपचार

    अक्सर ऐसा होता है कि जब हम सोकर उठते हैं तो हमारी आँखें एकदम लाल हो जाती हैं। यह रक्त वाहिकाओ में सूजन के कारण होती हैं और यह समस्या गंभीर भी हो सकती है।

    आँखों के सफदे हिस्से में रक्त वाहिकाएं सूज जाती हैं जिससे आँखें लाल हो जाती हैं। यह समय के साथ ठीक हो जाती है लेकिन यदि इसका इलाज न किया जाये तो इसके परिणाम गंभीर हो सकते हैं।

    आँख लाल होने का कारण

    एलर्जी के कारण आँख लाल

    आँखों में एलर्जी लाली के मुख्य कारणों में से एक होती है। एलर्जी से आँखें लाल होने के साथ ही उनमें जलन और खुजली भी होने लगती है। आँखों में एलर्जी इम्यून सिस्टम में गड़बड़ी के कारण होती है।

    एलर्जी पैदा करने वाले पदार्थों से लड़ने के प्रयास में इम्यून सिस्टम एंटीबॉडीज का उत्पादन करता है और हिस्टामिन और अन्य पदार्थ रिलीज़ करता है जिससे आँखों में लाली पैदा हो जाती है।

    संक्रमण के कारण लाल आँख

    आँखों में लालपन का कारण किसी प्रकार का संक्रमण भी हो सकता है। इनमें मोतियाबिंद और ब्लेफरितिस शामिल हैं।

    इसके कुछ अन्य कारण भी हो सकते हैं:

    • नींद की कमी
    • शराब
    • धूम्रपान
    • कांटेक्ट लेन्सेस का अत्यधिक प्रयोग
    • आँखों को अधिक मलना
    • शरीर से हिस्तामिन का प्राकृतिक उत्पादन
    • जुखाम, बुखार और फ्लू

    आँख लाल होने के घरेलु उपचार

    1. आई ड्रॉप्स

    आई ड्राप का इस्तेमाल लाल और जलन भरी आँखों से निजात पाने का सबसे उचित उपाय होता है। आई ड्रॉप्स में हिस्टामिन होता है जो जलन, खुजली और सूजन को कम कर देता है।

    एक दिन में 4 बार आई ड्रॉप्स का प्रयोग किया जाना चाहिए। हालांकि, ध्यान रखना चाहिए कि इसका बहुत ज्यादा इस्तेमाल न करें।

    2. लाल आंख के लिए खीरा

    सूजी हुई और लाल आँखों के लिए खीरा बहुत ही उपयोगी होता है। आँखों की लाली को दूर करने के लिए कटे हुए खीरे के टुकड़े को अपनी आँखों पर रख लें। यह कोल्ड कॉम्प्रेस की तरह काम करता है।

    खीरे की ठंडक से रक्त वाहिकाएं कसी हो जाती हैं। इसमें एंटीइरीटेंट के गुण होते हैं जिसके कारण ये आँखों की सूजन और जलन खत्म कर देता है। अच्छे परिणामों के लिए खीरे को 15-20 मिनट के लिए फ्रिज में रख दें।

    कटे हुए खीरे के टुकड़ों को गुलाब जल में भिगोकर फ्रिज में रख दें उसके बाद 20 मिनट के लिए आँखों के ऊपर रख लें। इससे आँखों के नीचे के काले घेरे भी दूर हो जायेंगे।

    3. गुलाब जल

    आँखों में लाली से निजात पाने के लिए गुलाब जल सबसे आम घरेलू नुस्खा होता है। अपनी आँखों को दिन में 2-3 बार गुलाब जल से धोएं। इससे आपकी आँखों को ठंडक मिलेगी।

    इसके अलावा आप रुई को गुलाब जल में भिगोकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए भीगी हुई रुई को 15 मिनट के लिए फ्रिज में रख दें और फिर आँखों पर रख लें। आप गुलाब जल को आई ड्राप की तरह भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

    4. टी बैग

    काली और हरी टी बैग में मौजूद बायोफ़्लवोनोइद्स सूजन पैदा करने वाले वायरल और बैक्टीरियल संक्रमण से लड़ते हैं। लाल और सूजी हुई आँखों से निजात पाने का टी बैग बहुत ही अनुकूल उपाय होता है।

    एक इस्तेमाल किया हुआ काली चाय का टी बैग 20 मिनट के लिए फ्रिज में रख दें। इसको आँखों पर रखने से आँखों को आराम मिलेगा।

    5. ज्यादा पानी पीयें

    डिहाइड्रेशन के कारण आपकी आँखों में भी पानी की कमी हो सकती है जिससे आँखें लाल हो जाती हैं और उनमें जलन होने लगती है। आँखों में नमी बनाये रखने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीयें।

    6. दूध और शहद

    दूध और शहद के एंटीबैक्टीरियल गुण आँखों की लाली में आराम देते हैं। सामान मात्रा में गर्म दूध और शहद लें और इससे संतुलित स्थिरता का पेस्ट तैयार कर लें। आईड्रॉपर की मदद से 3 बूँद कई बार आँखों में डालें। आप रुई को दूध में  भिगोकर भी आँखों पर रख सकते हैं।

    7. पानी के छींटे मारें

    आँखों पर जितना हो सके उतनी बार पानी के छींटे मारें। इससे एलर्जी के कारण आँखों में होने वाली जलन और खुजली से भी आराम मिलेगा।

    8. कैमोमाईल

    1 कप उबले हुए पानी में 1 चम्मच सूखी हुई कैमोमाईल डालकर मिश्रण तैयार कर लें। इसे कुछ देर डला रहने दें फिर ठंडा होने रख दें। इसे छान कर आईवाश की तरह इस्तेमाल करें।

    इसके स्थान पर आप 12 बूँद कैमोमाईल टिंकचर 1 कप उबले पानी में डालकर भी आईवाश की तरह प्रयोग में ला सकते हैं।

    9. गोल्डनसील

    गोल्डनसील एक ऐसी जड़ीबूटी होती है जो आँखों के लालपन से निजात पाने में अत्यधिक उपयोगी होती है

    इसे बनाने के लिए 2 चम्मच गोल्डनसील जड़ीबूटी का चूर्ण 1 कप गर्म पानी में डालें और इसे वार्म कॉम्प्रेस की तरह इस्तेमाल करें। दिन में 2-3 बार इसकी 2 बूँद अपनी आँखों में डाल लें।

    10. विच हेज़ल

    विच हेज़ल को काफी पुराने समय से आँखों की समस्याओं से निजात पाने के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है। रुई को विच हेज़ल में भिगोकर आँखों पर रख लें। इसकी स्तम्मक गुणों के कारण यह सूजन और खुजली से निजात दिलाता है।

    11. ठंडा चम्मच

    4 स्टील के चम्मच लें और इन्हें बर्फ के पानी के गिलास में रख दें। जब चम्मच ठन्डे हो जायें तो एक-एक चम्मच दोनों आँखों पर रख लें।

    जब इन चम्मचों की ठंडक चली जाये तो इन्हें अन्य 2 चम्मचों से बदल दें जो गिलास में ठन्डे हो रहे हैं। सूजन खत्म जाने तक इस प्रक्रिया दोहराएं। 

    12. एलो वेरा का रस

    एलो वेरा को फ्रीज कर लें और इसे ठन्डे पानी के साथ मिला लें। रुई को इसमें भिगोकर आँखों पर रख लें। इससे आँखों को आराम मिलेगा और सूजन कम हो जाएगी।

    13. अरंडी का तेल

    अधिकतर आई ड्रॉप्स में अरंडी का तेल इस्तेमाल किया जाता है। ड्रॉपर को अच्छी तरह साबुन के पानी से धोने के बाद पानी से धो लें।

    ड्रॉपर की मदद से दोनों आँखों में एक-एक बूँद अरंडी का तेल आँखों में डाल लें। आँखों को आराम देने के लिए इसे दिन में 4 बार दोहराएं।

    14. सेब का सिरका

    सेब के सिरके में मैलिक एसिड होती है जो बैक्टीरियल संक्रमण से निजात दिलाती है। 1 बड़ा चम्मच सेब का सिरका 1 कप पानी में मिला लें और दिन में तीन बार आँखों पर इस मिश्रण के छींटे मारें।

    15. आलू

    एक आलू को कस लें और आँखों पर रख लें। इसके स्तम्मक गुण आँखों की सूजन और काले घेरे कम कर देते हैं। अच्छे परिणामों के लिए इसे तीन रातों तक लगातार इस्तेमाल करें।

    16. ठंडी ब्रेड

    आँखों की जलन, सूजन और लाली को खत्म करने के लिए आँखों पर ठंडी ब्रेड रख लें। यह काफी लाभदायक होता है।

    17. कृत्रिम आंसू

    आँखों में सूखापन होने के कारण भी आँखें अत्यधिक लाल हो जाती हैं और इनमें जलन आदि की समस्या उत्पन्न हो जाती है। हमारे आंसू आँखों की सफाई करने के लिए बहुत ही उपयोगी होते हैं।

    ये आँखों में मौजूद धुल और बाहरी पदार्थ निकाल देते हैं जिससे आँखों की सफाई हो जाती है। आप बाज़ार से कृत्रिम आँसू खरीद सकते हैं। दिन में दो बार 2 बूँद कृत्रिम आँसू आँखों में डालने से आपकी आँखों को नमी मिलती है जिससे इनकी सफाई  जाती है।

    आप स्वयं भी नमकीन घोल बना सकते हैं। इसके लिए 1 लीटर पानी में 1 चम्मच नमक डाल लें। कृत्रिम आंसू का प्रयोग दिन में 3-4 बार से ज्यादा न करें। यदि 2 दिन के बाद भी समस्या होती है तो चिकित्सक से परामर्श लें।

    18. आहार

    आपके आहार का आपकी आँखों पर सीधा असर पड़ता है। इसलिए ओमेगा-3 फैटी एसिड, विटामिन ए, बी, सी, ई, आयरन और जिंक युक्त आहार लें।

    विटामिन बी काम्प्लेक्स की कमी होने से भी आँखें लाल हो जाती हैं। आँखों की दृष्टि को तेज़ करने के लिए भी विटामिन ए आवश्यक होता है। आँखों की देखभाल के लिए कैरोटीनॉयड और लुटीन युक्त भोजन लें।

    19. कोल्ड कॉम्प्रेस  

    आँखें लाल होने के साथ उनमें सूजन भी हो जाती है। इसके लिए आइस पैक या कोल्ड कॉम्प्रेस का हर घंटे इस्तेमाल करें। कोल्ड कॉम्प्रेस आँखों की रक्त वाहिकाओं को कस देती है जिससे आँखों का लालपन खत्म हो जाता है।

    इसके लिए आप एक साफ़ कपडे में बर्फ के टुकड़ों को लपेटकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। आइस पैक को भी पतले कपडे में लपेटकर ही इस्तेमाल करें ताकि आपकी आँखें जले नहीं। 

    20. खीसा

    स्टे भी लाल आँखों के प्रमुख कारणों में से एक है। आप बंद आंखों पर गर्म पानी में खीसा रखकर घर पर ही इसका इलाज कर सकते हैं।

    इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराएं, लेकिन केवल गर्म पानी के साथ। गर्मी आड़ू क्षेत्र में छिद्रों को अनवरोधित कर देगा। निचोड़ने का प्रयास न करें क्योंकि यह आसपास के क्षेत्र में संक्रमण फैला सकता है।

    आँख लाल होने से रोकने के कुछ उपाय

    • एलर्जी पैदा करने वाले पदार्थों से दूर रहे। बाहर अधिक धूल होने पर घर में ही रहे।
    • फर्श को गीले कपडे से साफ़ करें। झाड़ू लगाने से अधिक धूल उडती है।
    • यदि आपके पालतू जानवर के कारण आपको एलर्जी हो रही है तो उसे बाहर ही रखें।
    • आँखों को मलें नहीं। इससे आँखों की अवस्था अधिक खराब हो सकती है।
    • कांटेक्ट लेन्सेस का प्रयोग कम से कम करें।
    • यदि आपकी आँखों में कोई समस्या है तो आँखों में मेकअप न लगायें।
    • जिन लोगों की आँखों में लाली होती है वे अपना तौलिया, रूमाल आदि किसी के साथ न बांटें क्योंकि यह संक्रमित बीमारी है।
    • कंप्यूटर, लैपटॉप, टीवी आदि के सामने अधिक देर तक न बैठें।
    • एंटीग्लैर चश्मे का प्रयोग करें।
    • अपने घर को धुएं और धुल से मुक्त रखें।
    • अत्यधिक शराब न पीयें।
    • आवश्यक अवधि के लिए विश्राम करें।
    3 thoughts on “आँख लाल होने का कारण और घरेलु उपचार”
    1. main agar thodi der bhi phone use kar letaa hoon to meri aankhen laal ho jaati hai evam dukhne lagti hain aap mujhe ki sujhaav deijiye yaa mujhe doctor ke paas jaana padegaa?

    2. kya kheere ko aanhon par rakhne se aankhon ka laal honaa door ho jaata hai kyaa usse dard bhi khatm ho jaata hai?

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.