शुक्रवार, फ़रवरी 28, 2020

अशोक डिंडा को चोट लगने के बाद अश्विन और उनादकट ने की फेस मास्क की मांग

Must Read

दिल्ली हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल: “पुलिस स्थिति संभालने में विफल, सेना को बुलाया जाए”

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज सुबह कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी हिस्से में...

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक...
अंकुर पटवाल
अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

सैयद मुश्ताक अली टी 20 टूर्नामेंट से पहले प्रैक्टिस गेम के दौरान अशोक डिंडा के सिर पर चोट लगने से गेंदबाजों के लिए फेस मास्क लगाने की शुरुआत की बात की गई है। डिंडा के माथे मे पर तब चोट आयी थी, जब वह कोलकाता के ईडन गार्डन में गेंदबाजी कर रहे थे और बल्लेबाज द्वारा हिट की गई गेंद को कैच करते वक्त गेंद उनके माथे पर आ लगी। बंगाल के इस गेंदबाज ने युवा बल्लेबाज विवेक सिंह को फुलटॉस गेंद करवाई थी जिससे बल्लेबाज ने गेंद को सीधे हिट किया और गेंद सीधा माथे पर आ लगी। इस घटना के बाद, डिंडा धड़ाम से मैदान में घिर गए। मैदान पर चिकित्सा सहायता प्राप्त करने के बाद, पेसर ने फिर से खेलना शुरू किया और अपना ओवर समाप्त किया।

थोड़ी देर बाद डिंडा को सीटी स्कैन के लिए अस्पताल के ले जाया गया लेकिन वहा बताया गया कि उन्हें कोई गंभीर इंजरी नही हुई है।

अभ्यास मैच का आयोजन बंगाल टीम के बल्लेबाजी सलाहकार, वीवीएस लक्ष्मण द्वारा किया गया था।

इस घटना के बाद, सौराष्ट्र के कप्तान जयदेव उनादकट ने ट्विटर पर, भविष्य में ऐसी घटनाओं से बचने के लिए गेंदबाजों के लिए फेस मास्क लगाने का सुझाव दिया।

ट्विटर पर उनादकट ने लिखा, “उस समय के बारे में जब गेंदबाजों के लिए एक” फेस-मास्क “क्रिकेट में विकसित होना चाहिए। यह डरावना है कि इस तरह की घटनाएं हमारे खेल में अक्सर होती रहती हैं।” भारत के स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने भी सुझाव का समर्थन किया, उन्होंने कहा कि वह 2011 से इसके उपयोग की वकालत कर रहे हैं।

अश्विन ने ट्वीट किया, “2011 के बाद से यह कहते हुए, इस तरह के उत्पात कभी भी पूर्व टी 20 युग में नहीं होते थे। कुछ निश्चित रूप से बदल गया है, आश्चर्य है कि यह क्या है।”

अश्विन और उनादकट को हाल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आगमी सीरीज के लिए टीम में जगह नही दी गई है जो भारत की विश्वकप से पहले आखिरी सीरीज होगी।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल: “पुलिस स्थिति संभालने में विफल, सेना को बुलाया जाए”

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज सुबह कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी हिस्से में...

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के लिए 5-6 फिल्मों को अस्वीकार...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक लोगों, ज्यादातर महिलाओं ने शनिवार...

‘हैदराबाद में शाहीन बाग जैसे विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी’: पुलिस आयुक्त

हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अंजनी कुमार ने शनिवार को कहा कि शहर में "शाहीन बाग़ जैसा" विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी। उनका...

निर्भया मामला: आरोपी विनय नें खुद को चोट पहुंचाने की की कोशिश, इलाज के लिए माँगा समय

2012 में दिल्ली में हुए निर्भया मामले (Nirbhaya Case) में चार आरोपियों में से एक विनय नें आज जेल की दिवार से खुद को...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -