Fri. Jun 14th, 2024

    गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर आरोप लगाया गया कि उनका “अवैध अप्रवासी का वोट बैंक” है। जिनके समर्थन पर वह राज्य पर शासन करना चाहती है, वे वास्तविक में सारे बाहरी व्यक्ति हैं। अमित शाह ने ममता बनर्जी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर गालियां देने के अलावा कोई और एजेंडा नहीं रखने का आरोप लगाया।

    “वह हर चुनावी रैली में अपने भाषण के 10 मिनट प्रधानमंत्री मोदी और मुझे (अमित शाह) गाली देने के लिए समर्पित करती हैं। मैं देश का गृह मंत्री हूं, क्या मैं लोगों से बात नहीं कर सकता? मैं बाहरी व्यक्ति कैसे हूं?” उन्होंने दक्षिण दिनाजपुर जिले के हरिरामपुर निर्वाचन क्षेत्र में एक सार्वजनिक बैठक में कहा, जो 26 अप्रैल को सातवें चरण के चुनाव का हिस्सा है।

    “मैं इस देश में पैदा हुआ  हूं और मेरे निधन के बाद इस पवित्र भूमि पर ही मेरा अंतिम संस्कार किया जाएगा। लेकिन, आपका वोट बैंक गैरकानूनी अप्रवासी बाहरी व्यक्ति हैं, जिनके समर्थन पर आप बंगाल पर शासन करना चाहती हैं।”

    बाहरी लोग” वामपंथी और कांग्रेस के वोट बैंक थे

    अमित शाह ने दावा किया कि ये “बाहरी लोग” कांग्रेस के लिए वोट बैंक थे। उन्होंने कहा कि अगर पश्चिम बंगाल में भाजपा को वोट दिया जाता है, तो वह यह सुनिश्चित करेगा कि कोई भी राज्य में अवैध रूप से सीमाओं को पार ना कर सके और अपनी सुरक्षा को खतरे में ना डाले।

    गृह मंत्री ने कहा कि दो मई को विधानसभा चुनावों की मतगणना के बाद ममता बनर्जी को पद छोड़ना होगा, राज्य में नई भाजपा सरकार शरणार्थियों (रिफ्यूजीस) को नागरिकता प्रदान करेगी। 

    उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि उत्तर बंगाल के लोगों से तृणमूल कांग्रेस की सरकार सौतेला व्यवहार करती है और आश्वासन दिया कि भाजपा के सरकार बनाने के बाद क्षेत्र के विकास के लिए कदम उठाए जाएंगे।

    By दीक्षा शर्मा

    गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय, दिल्ली से LLB छात्र

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *