Sun. Apr 21st, 2024
    अमेरिका और चीन

    अमेरिका और चीन के बीच व्यापार जंग को सुलझाने के लिए प्रमुख वार्ताकारो के बीच मुलाकात जारी है। दोनों देशों के प्रतिनिधियों के बीच उच्च स्तर की आर्थिक और व्यापार वार्ता का आयोजन 30 और 31 जुलाई को किया जायेगा। चीनी वाणिज्य मंत्रालय ने यह जानकारी साझा की थी।

    चीन-अमेरिका व्यापार वार्ता

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और चीनी समकक्षी शी जिनपिंग ने जापान के ओसाका में जी-20 के सम्मेलन के इतर मुलाकात की थी। इस वार्ता का मकसद दोनों नेताओं के बीच बातचीत पर हुई सहमती को अमल में लाना है। हालाँकि दोनों देशों के बीच कई मुद्दों पर मतभेद चल रहे हैं।

    मंत्रालय के प्रवक्ता गाओ फेंग ने कहा कि “दोनों देशों के बीच कूटनीतिक संबंधों की स्थापना को 40 वर्ष बीत चुके हैं। दोनों अर्थव्यवस्थाये काफी करीबी है और जुड़ी ही है, यह दोनों देशों की आवाम और विश्व को लाभ पंहुचा रही है।” हाल ही में चीन और वांशिगटन ने परस्पर उत्पादों के आयात पर अतिरिक्त शुल्क को बढ़ा दिया था।

    शी ने कहा, “पिछले 40 सालों में अंतर्राष्ट्रीय परिस्थितियों और चीन-अमेरिका रिश्तों में बड़े बदलाव आने के बावजूद एक मूल वस्तु अभी भी वैसी ही है, वह है – चीन और अमेरिका, दोनों को सहयोग पर फायदा और टकराव पर नुकसान हुआ है। सहयोग और बातचीत मनमुटाव और टकराव से बेहतर हैं।”

    चीन ने 60 अरब डॉलर के अमेरिकी उत्पादों पर अतिरिक्त शुल्क लगा दिया था जो 1 जून से प्रभावी होने थे। अमेरिका ने चीन के 200 अरब डॉलर के उत्पादों पर अतिरिक्त शुल्क बढ़ाने के निर्णय लिया था और बीजिंग ने इसका प्रतिकार किया है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *