Sat. Apr 13th, 2024
    अमित शाह, योगी आदित्यनाथ और स्मृति ईरानी

    2014 के लोकसभा चुनावों में भाजपा को केंद्र की सत्ता तक पहुँचाने में उत्तर प्रदेश का बहुत बड़ा हाथ रहा था। सूबे की 80 लोकसभा सीटों में से 73 सीटें भाजपा और उसके सहयोगी अपना दल ने जीती थी वहीं कांग्रेस और सपा अपनी पारम्परिक सीटें बचने में सफल रही थी। कांग्रेस ने जहाँ रायबरेली और अमेठी में जीत दर्ज की वहीं सपा ने मैनपुरी, कन्नौज, बदायूँ, फिरोजाबाद और आजमगढ़ में जीत दर्ज की थी। कुछ दिनों पूर्व भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने संकेत दिया था कि वह 2019 के लोकसभा चुनावों में भाजपा शासित प्रदेशों में क्लीन स्वीप करने पर ध्यान दे रहे हैं। इसकी शुरुआत करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह आज कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष महेंद्र नाथ पाण्डेय उनके साथ हैं।

    बता दें कि भाजपा और कांग्रेस में इन दिनों आर-पार की लड़ाई चल रही है। कांग्रेस आगामी लोकसभा चुनावों में राहुल गाँधी को नरेंद्र मोदी के सामने खड़ा करना चाहती है और इसके लिए वह लगातार उनकी छवि सुधरने पर काम कर रही है। पिछले कुछ दिनों से ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि दीवाली बाद राहुल गाँधी कांग्रेस की कमान अपने हाथों में ले सकते हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी पिछले कुछ दिनों से राजनीतिक रूप से काफी सक्रिय नजर आ रहे हैं। अपने हालिया गुजरात दौरों पर राहुल गाँधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा पर काफी हमलावर रहे हैं और उन्होंने केंद्र सरकार की जमकर आलोचना की थी। भाजपा ने इसका जवाब देने के लिए राहुल गाँधी को उनके ही घर में घेरने की योजना बनाई है और इसी के मद्देनजर इन भाजपाई दिग्गजों का जमावड़ा अमेठी में हुआ है।

    अमित शाह ने किया अमेठी की जनता का धन्यवाद

    भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि वर्ष 2022 तक उत्तर प्रदेश विकास के पैमाने पर गुजरात के समक्ष खड़ा होगा। अमेठी की जनता का धन्यवाद देते हुए उन्होंने कहा कि मैंने विधानसभा चुनावों के दौरान आप लोगों से कहा था कि अमेठी की सीटें जीतकर उत्तर प्रदेश में सरकार बनाना चाहता हूँ। अमेठी संसदीय क्षेत्र की 5 में से 4 सीटें जीताकर जनता ने सरकार बनाने में हमारी मदद की। राहुल गाँधी पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी हारे हुए प्रत्याशी ने क्षेत्र का विकास किया हो। स्मृति ईरानी ने अमेठी की जनता के समक्ष नया उदाहरण पेश किया है।

    राहुल गाँधी से माँगा 3 पीढ़ियों का हिसाब

    अपने सम्बोधन के दौरान भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी पर जमकर निशाना साधा। अमित शाह ने कहा, “अमेठी की जनता ने 3 पीढ़ियों से कांग्रेस परिवार को अपना प्रतिनिधि चुना है और संसद तक पहुँचाया है। आज कांग्रेस के शहजादे मोदी सरकार से उसके 3 सालों का हिसाब माँगते फिर रहे हैं। जिस अमेठी की धरती ने कांग्रेस को अपना प्रतिनिधि चुना है आज मैं उसी धरती से कांग्रेस के शहजादे से 3 पीढ़ियों का हिसाब मांगता हूँ। राहुल गाँधी इतने सालों से अमेठी संसदीय सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं फिर भी आज तक अमेठी में कलेक्ट्रेट ऑफिस क्यों नहीं शुरू हुआ? अमेठी के अस्पताल में टीबी यूनिट क्यों नहीं शुरू हुआ?” अमित शाह ने कहा कि देश में विकास के 2 मॉडल हैं, एक है नेहरू-गाँधी परिवार का मॉडल और दूसरा है मोदी मॉडल। क्षेत्र की जनता नेहरू-गाँधी विकास मॉडल से भली-भांति परिचित है।

    शाह ने की मोदी सरकार की तारीफ

    भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि केंद्र की सत्ताधारी मोदी सरकार ने उत्तर प्रदेश के विकास पर ध्यान केंद्रित किया है। उन्होंने कहा कि जब केंद्र की सत्ता पर कांग्रेस विराजमान थी तब उत्तर प्रदेश को 2,80,000 करोड़ मिलता था पर मोदी सरकार के कार्यकाल में यह बढ़कर 7,10,000 करोड़ हो गया है। मोदी सरकार के पिछले 3 साल के कार्यकाल का लेखा-जोखा पेश करते हुए अमित शाह ने कहा कि पिछले 3 साल में युवाओं, महिलाओं, आदिवासियों और गरीबों के लिए केंद्र की ओर से 106 से ज्यादा योजनाएं लाई गई हैं। अमित शाह ने कहा कि शायद राहुल बाबा को 106 तक की गिनती नहीं आती है इसीलिए वह मोदी सरकार से हिसाब माँगते फिरते हैं। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर व्यंग करते हुए अमित शाह ने कहा कि हमने सबसे पहले बोलने वाला प्रधानमंत्री दिया।

    अमित शाह
    अमित शाह ने की मोदी सरकार की तारीफ

    अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार के कार्यकाल में विश्वपटल पर भारत की नई पहचान बनी है। देश की सीमाओं को मजबूती मिली है और सीमापार से होने वाली गतिविधियों में कमी आई है। अमित शाह ने भारतीय सेना द्वारा किए गए सर्जिकल स्ट्राइक का भी जिक्र किया। अमित शाह ने कहा कि उरी हमले का बदला हमने सर्जिकल स्ट्राइक से लिया। किसी भी सरकार ने पहले ऐसा नहीं किया था। अमित शाह ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनावों से पूर्व भाजपा अपने कामों का हिसाब जनता को देगी। अमित शाह ने अमेठी की जनता से कहा कि आपने साथ सालों तक एक परिवार पर भरोसा किया और आपको विकास के नाम पर कुछ नहीं मिला। उन्होंने अमेठी की जनता से आह्वान किया कि एक बार वह मोदी पर भरोसा करे।

    योगी ने गिनाई भाजपा सरकार की उपलब्धियां

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सम्बोधन की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा के साथ शुरू की। योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वजह से आज दुनिया भर में भारत को प्रतिष्ठा प्राप्त हुई है। योगी आदित्यनाथ ने नोबेल विजेता अर्थशास्त्री रिचर्ड थेलर का जिक्र करते हुए कहा कि वह मोदी सरकार द्वारा की गई नोटबंदी के समर्थकों में अग्रणी थे। उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार की सफलताओं को गिनाते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले प्रदेश के किसानों को उनकी फसलों का सही दाम नहीं मिल पाता था पर भाजपा के सत्ता में आने के बाद हालातों में सुधार आया है। सत्ता में आने के बाद भाजपा सरकार ने प्रदेश के किसानों से 37 लाख मीट्रिक टन गेंहू की सीधी खरीद की। उन्होंने कहा कि धान क्रय की व्यवस्था की जा चुकी है।

    राहुल गाँधी और कांग्रेस पर साधा निशाना

    अपने सम्बोधन के दौरान सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ कांग्रेस पर हमलावर रहे। उन्होंने कहा कि सत्ता में आने के बाद भाजपा ने बिचौलियों को हटा दिया है। बिचौलियों को हटाने से कांग्रेस बेरोजगार हो गई है। उन्होंने बिचौलियों की प्रथा का जिम्मेदार कांग्रेस को ठहराया और कहा कि आजादी के बाद देश में कांग्रेस ने इस प्रथा की शुरुआत की। योगी आदित्यनाथ ने कहा , “अमेठी और रायबरेली देश के सबसे उपेक्षित संसदीय क्षेत्रों में से एक रहे हैं। पीढ़ियों से कांग्रेस का साथ दे रही क्षेत्र की जनता को हमेशा निराशा ही हाथ लगी हैं। नेहरू-गाँधी परिवार के लोगों ने क्षेत्र के विकास में कोई योगदान नहीं दिया है। हार के बावजूद भाजपा ने अमेठी में विकास कार्य किया है।” स्मृति ईरानी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि स्मृति ईरानी क्षेत्र के विकास के लिए दृढ़ संकल्पित हैं।

    योगी आदित्यनाथ
    योगी आदित्यनाथ ने गिनाई भाजपा सरकार की उपलब्धियां

    सम्राट साइकिल विवाद का जिक्र करते योगी आदित्यनाथ ने एक साथ कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी और रॉबर्ट वाड्रा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कहीं दामाद जमीन हड़प रहा है तो कहीं पुत्र ही जमीन हड़पने का काम कर रहा है लेकिन उत्तर प्रदेश में हम ऐसा नहीं चलने देंगे। उन्होंने कहा कि सूबे में किसी भी को भी फाउंडेशन के नाम पर जमीन नहीं हड़पने देंगे। राहुल गाँधी के हालिया अमेठी दौरे पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष भाजपा नेताओं की प्रस्तावित यात्रा से डर गए थे और इसी वजह से उन्होंने हाल ही में अमेठी दौरा किया। योगी आदित्यनाथ ने राहुल गाँधी पर तंज कसते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के बाद वह अब तक अमेठी में नजर नहीं आए थे पर भाजपा नेताओं की यात्रा की खबर मिलते ही उन्होंने आनन-फानन में दौरे का कार्यक्रम बना लिया।

    स्मृति ने बोला राहुल पर हमला, योगी सरकार की तारीफ

    केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अपने सम्बोधन के दौरान अमेठी सांसद और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि जब मैं लोकसभा चुनावों में उम्मीदवार बनकर यहाँ आई थी तो पार्टी कार्यकर्ताओं ने दिल खोलकर मेरा स्वागत किया था। इसे अपने जीवन का सबसे बड़ा सौभाग्य करार देते हुए उन्होंने कहा कि जब मैं अमेठी आई थी तो पार्टी कार्यकर्ता थी और आज जनता से मिले प्यार की वजह से अमेठी की दीदी बन गई हूँ। राहुल गाँधी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि देशभर में घूमकर विकास न होने की बात करने वाले लोगों को अमेठी का नाम सुनकर सांप सूंघ जाता है। पिपरी गाँव का उदाहरण लेकर राहुल गाँधी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि अमेठी असंसदीय क्षेत्र के लोग अपने सांसद से नहीं मिल सकते हैं।

    स्मृति ईरानी
    स्मृति ईरानी ने बोला राहुल गाँधी पर हमला

    उत्तर प्रदेश की सत्ताधारी योगी सरकार की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि अमेठी में जो काम 60 सालों में नहीं हुआ था वह योगी सरकार ने 7 महीनों में कर दिखया है। कांग्रेस के वंशजों पर तंज कसते हुए स्मृति ईरानी ने कहा कि ऊँचाहार से रेल लाइन का वादा पण्डित नेहरू, इंदिरा गाँधी और राजीव गाँधी ने किया था पर इस योजना के लिए सर्वेक्षण और 190 करोड़ का आवंटन मोदी सरकार के कार्यकाल में हुआ है। अस्पताल में लग रही टीबी यूनिट का जिक्र करते हुए स्मृति ईरानी ने कहा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में यह काम हो रहा है। सम्राट साइकिल योजना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के आदेश के बावजूद राहुल गाँधी ने जमीन नहीं लौटाई है। इस जमीन का कब्जा राहुल गाँधी के राजीव गाँधी फाउंडेशन के पास है।

     

    उत्तर प्रदेश में क्लीन स्वीप करने की जुगत में है भाजपा

    देश की राजनीति का केंद्र कहे जाने वाले उत्तर प्रदेश ने 2014 के लोकसभा चुनावों में भाजपा को केंद्र का सत्ताधारी दल बनाने में अहम भूमिका निभाई थी। भाजपा और उसके सहयोगी अपना दल को उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से 73 सीटें हाथ लगी थी। भाजपा को बहुमत मिलने में उत्तर प्रदेश की बड़ी भूमिका रही थी और इस बात से अमित शाह अच्छी तरह वाकिफ हैं। इसी को मद्देनजर रखते हुए अमित शाह आगामी लोकसभा चुनावों की तैयारियों में अभी से जुट गए हैं। इसी वर्ष उत्तर प्रदेश में हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा को प्रचण्ड बहुमत मिला था और योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में सरकार बनी थी। सपा और कांग्रेस साथ आकर भी भाजपा के सामने नहीं टिक सकी थी। इससे यह बात स्पष्ट हो गई थी कि सूबे में अभी भी भाजपा का जादू बरकरार है।

    भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की नजरें अब उन 7 सीटों पर है जिसे भाजपा 2014 के लोकसभा चुनावों में नहीं जीत सकी थी। इनमें अमेठी (राहुल गाँधी), रायबरेली (सोनिया गाँधी), आजमगढ़ (मुलायम सिंह यादव), कन्नौज (डिंपल यादव), बदायूँ (धर्मेंद्र यादव), मैनपुरी (तेज प्रताप यादव) और फिरोजाबाद (अक्षय यादव) शामिल हैं। यह सभी सीटें सपा और कांग्रेस परिवार ने जीती थी। अमेठी और रायबरेली कांग्रेस का गढ़ रहा है वहीं मैनपुरी, कन्नौज, बदायूं, फिरोजाबाद, आजमगढ़ में सपा की अच्छी पकड़ मानी जाती है। इन सभी सीटों पर भाजपा को 2009 के मुकाबले अधिक मत मिले थे और यही वजह है कि भाजपा अब उत्तर प्रदेश में क्लीन स्वीप की तरफ कदम बढ़ा रही है।

    कल्याणकारी योजनाओं का शिलान्यास, स्मृति के दम पर भाजपा को अमेठी जीतने की आस

    भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अपने अमेठी दौरे के दौरान कई कल्याणकारी योजनों का शिलान्यास भी किया। अमित शाह की नजर अमेठी लोकसभा सीट पर है। स्मृति ईरानी लगातार क्षेत्र के विकास पर ध्यान केंद्रित की हुई हैं और लगातार क्षेत्र का दौरा करती रहती हैं। अमित शाह के दौरे के मद्देनजर चल रही तैयारियों का जिम्मा स्मृति ईरानी ने संभाल रखा था। “कांग्रेस मुक्त भारत” के नारे को बुलंद करने के लिए भाजपा स्मृति ईरानी के दम पर अमेठी जीतने की जुगत में है। इस दौरान जिन प्रमुख योजनाओं का शिलान्यास किया गया वो अग्रलिखित हैं –

    – अमेठी के 2,500 लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास दिया गया।
    – क्षेत्र के 100 लोगों को राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के अंतर्गत स्वीकृति पत्र दिया गया।
    – 25 दिव्यांगों को ट्राई साइकिल प्रदान की गई और उनकी रैली को हरी झंडी दिखाई गई।
    – क्षेत्र के 700 श्रमिकों को विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिला।

    By हिमांशु पांडेय

    हिमांशु पाण्डेय दा इंडियन वायर के हिंदी संस्करण पर राजनीति संपादक की भूमिका में कार्यरत है। भारत की राजनीति के केंद्र बिंदु माने जाने वाले उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले हिमांशु भारत की राजनीतिक उठापटक से पूर्णतया वाकिफ है।मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक करने के बाद, राजनीति और लेखन में उनके रुझान ने उन्हें पत्रकारिता की तरफ आकर्षित किया। हिमांशु दा इंडियन वायर के माध्यम से ताजातरीन राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर अपने विचारों को आम जन तक पहुंचाते हैं।