Thu. Feb 22nd, 2024
    amit-shah-

    भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर हमला करते हुए कहा कि वो उनके ज्ञान और समझ की कद्र करते हैं लेकिन एक चायवाले ने उनसे बेहतर तरीके से देश चलाया है।

    नरेंद्र मोदी पर लिखी गई किताब ‘नरेंद्र मोदी :क्रिएटिव डिसरप्टर -द मेकर ऑफ़ न्यू इण्डिया’ के विमोचन समारोह में बोलते हुए अमित शाह ने विपक्ष द्वारा नरेंद्र मोदी को अनियांत्रिय शासक जैसी  आलोचना को खारिज कर दिया और कहा जो लोग मोदी को अनियंत्रित शासक कहते हैं उन्हें दृढ़ता और नियंत्रित शासन का फर्क नहीं पता।

    केंद्र सरकार की तारीफ़ करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार ने न सिर्फ वितीय घाटा को नियंत्रित किया बल्कि उसे बहुत नीचे तक ले आये।

    उन्होंने कहा “मनमोहन सिंह जी ने देश की अर्थव्यवस्था को 10 सालों में 9वें स्थान तक पहुंचा दिया था। हम इसे 5 सालों में 6ठे स्थान तक ले कर आये और वो हमें अर्थशास्त्र सिखा रहे हैं।”

    शाह ने मनमोहन सिंह को निशाना बनाते हुए कहा “आप (मनमोहन सिंह) एक अर्थशास्त्री थे और हम इसका सम्मान करते हैं। हमे आपके ज्ञान पर कोई शक नहीं है लेकिन एक चायवाले (मोदी) ने इस देश को बेहतर ढंग से चलाया है।”

    भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि वो मोदी सरकार द्वारा लिए गए 30 ऐतिहासिक फैसलों की सूची बना सकते हैं जबकि पिछली सरकारों ने 30 सालों में ऐसे सिर्ग 3 से 4 निर्णय लिए होंगे।

    उन्होंने कहा “मोदी सरकार सिर्फ 5 सालों से है लेकिन मैं सरकार के 30 ऐसे फैसलों को गिना सकता हूँ जो देश के इतिहास में याद किये जायेंगे  … सर्जिकल स्ट्राइक, जीएसटी, नोटबंदी ऐसे ही ऐतिहासिक फैसले थे।”

    शाह ने कहा मोदी ने दृढ़ता दिखाई है और लोकतंत्र को नुकसान पहुंचाए बिना शासन चलाने का नया मॉडल देश के सामने रखा है।

    शाह ने कहा कि वो पिछले 35 सालों से नरेंद्र मोदी के साथ काम कर रहे हैं और बेहतरीन श्रोता होना उनकी सफलता का सबसे बड़ा कारण है।

    By आदर्श कुमार

    आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *